• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गोरखपुर महोत्सव के पहले दिन रहा खादी का जलवा, मशहूर डिजाइनर्स के वस्त्रों को पहनकर रैंप पर चलीं मॉडल्स

By Oneindia Staff
|

गोरखपुर। गोरखपुर महोत्सव के पहले दिन की शाम खादी के नाम रही। मुख्य मंच पर पद्मश्री रूना बैनर्जी व अन्य अंतरराष्ट्रीय ख्याति के डिजाइनर्स द्वारा तैयार वस्त्रों में शो स्टॉपर मिस इंडिया डिंपल पटेल समेत प्रोफेशनल मॉडल्स जब कैटवॉक के लिए रैंप पर उतरे तो नई स्टाइल स्टेटमेंट बन रही खादी का जलवा देखते ही बन रहा था। खादी फैशन शो के जरिये प्रदेश सरकार की वह कोशिश भी साकार होती नजर आई जिसमे वह इस स्वदेशी उत्पाद को बढ़ावा देकर इससे जुड़े लोगों का जीवन स्तर उन्नत करने में जुटी है। किसान के उत्पाद से से फैब्रिक और फैब्रिक से स्थानीय उत्पाद को अंतरराष्ट्रीय ख्याति व बड़ा बाजार दिलाने की योगी सरकार की खादी फैशन शो के जरिए यह पहल गोरखपुर महोत्सव में जुटे लोगों के दिल मे उतर गई।

Khadi clothes of famous designers attraction of Gorakhpur Mahotsav

अमूमन फैशन शो का जिक्र आते ही विदेशी वस्त्रों का ही ख्याल लोगों के मन में आता है लेकिन उत्तर प्रदेश खादी बोर्ड की पहल पर यह ऐसा शो था जिसमे भारतीय संस्कृति व परम्परा के अनुरूप विशुद्ध स्वदेशी वस्त्रों की धूम थी।

परंपरा और आधुनिकता का संगम बना शो

परम्परा और सलीके की आधुनिकता के इस संगम में मुंबई और दिल्ली से आए मॉडल्स का रैंप पर वाक खचाखच भरे समारोह स्थल में मौजूद लोगों को राष्ट्रीयता के आवरण में सुखद लग रहा था। इस फैशन शो में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का खादी को जन जन की दैहिक भाषा बनाने का सपना साकार हो रहा था तो वह कालजयी उक्ति भी चरितार्थ लग रही थी कि खादी वस्त्र नहीं विचार है। इस आयोजन से उन लाखों लाख अनजान कारीगरों को भी मंच मिल रहा था जो खादी की कारीगरी से आजीविका चलाते हैं।

पारम्परिक भारतीय परिधानों में रैंप पर उतरे मॉडल्स

खादी फैशन शो में पहला सेगमेंट टसर सिल्क में डिजाइनर रूना बैनर्जी द्वारा डिजाइन किए परिधानों का रहा। शो स्टॉपर डिंपल पटेल समेत मुंबई व दिल्ली से आए मॉडल्स ने लहंगा, सूट, गरारा, कुर्ता व शेरवानी में पारम्परिक भारतीय परिधानों में वाक कर लोगों का मन मोह लिया। दूसरे सेगमेंट में डिजाइनर रुचिका रस्तोगी गुप्ता के आई वियर खादी ब्रांड के इंडो वेस्टर्न कलेक्शन में मॉडल्स रैंप पर उतरे। परम्परा के साथ आधुनिकता के मिश्रण से डिजाइन इन परिधानों को उत्तर प्रदेश में तैयार खादी टेक्सटाइल से तैयार किया गया था।

खादी में शादी कलेक्शन पर चहक उठी महफ़िल

खादी फैशन शो के आखिरी सेगमेंट में लखनऊ की अवार्डेड डिजाइनर अस्मा हुसैन की खादी में शादी कलेक्शन (वेडिंग कलेक्शन) पर गोरखपुर महोत्सव की शाम सजी महफ़िल चहक उठी। इसमे मॉडल्स ने खादी में तैयार दुल्हन साथ ही शादियों के लिए मेहमानों के परिधान में रैंप पर वाक किया।

तनूरा नृत्य पर झूम उठे लोग

खादी फैशन शो के दौरान सूफीयान भारतीय संगीत पर तनूरा नृत्य की प्रस्तुति पर सभी लोग झूम उठे। यार मेरी ओ यार मेरी सूफी गीत पर विशेष प्रकार के नृत्य की इस प्रस्तुति के दौरान लोग लगातार ताली बजाते रहे।

कोरोना काल में भारत में पहला लाइव इवेंट: शो डायरेक्टर

खादी फैशन शो के डायरेक्टर पल्लव बोस ने बताया कि कोरोना काल में यूपी के गोरखपुर में पहला लाइव इवेंट हो रहा है। यह संभव हुआ है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की दृढ़ इच्छाशक्ति व सकारात्मक सोच से। शो के दौरान उन्होंने बार बार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति आभार व्यक्त किया।

गोरखपुर को रेडीमेड गारमेंट्स का हब बनाएंगे सीएम योगी, ओडीओपी में किया शामिल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Khadi clothes of famous designers attraction of Gorakhpur Mahotsav
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X