• search
keyboard_backspace

दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे चालू होने पर उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने कहा- यह देश को जोड़ेगा, व्यापार बढ़ाएगा

By Oneindia Staff

लखनऊ। दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेस वे को अब लोगों के हवाले कर दिया गया है। वाहन इसपर तेज गति से फर्राटा भर रहे हैं, जिसे दिल्‍ली जाने में चार से अधिक घंटे का समय लगता था वह अब मात्र एक घंटे में पहुंच रहे हैं। इसी बीच में दिल्‍ली मेरठ एक्‍सप्रेस वे को लेकर एक ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। यह ट्वीट फेमस उद्योगपति आनंद महिंद्रा का है। जिन्‍होंने सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के ट्वीट को री- ट्वीट करते हुए दिल्‍ली मेरठ से जुड़ा एक मजेदार किस्‍सा शेयर किया है। उन्‍होंने इस ट्वीट में यह भी बताया है कि दिल्‍ली से मेरठ जाने में क्‍या दिक्‍कतें आती थी।

उद्योगपति आनंद महिंद्र ने दिल्ली-मेरठ के सफर को लेकर अपने बचपन की यादें ताजा करते हुए ट्विटर पर उन्होंने लिखा, बचपन में मैंने दिल्ली-मेरठ रोड पर एक बार सफर किया था। तब यह धूल भरी एक कम चौड़ी छोटी-सी सड़क होती थी। अब दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे न केवल हमारी सकल घरेलू उत्पाद की दर बढ़ाने में कारगर होगा बल्कि देश को एक साथ जोड़ेगा। आनंद महिंद्रा ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के उस ट्वीट पर री-ट्वीट किया है। उन्‍होंने कहा कि एक्‍सप्रेस वे के बन जाने से तमाम तरह की सुविधाएं मिल जाएगी। व्‍यापार करने में आसनी होगी। कम समय में माल को लाया जा सकेगा। साथ ही बचत भी होगी।

Industrialist Anand Mahindra tweet on Delhi Meerut Expressway

इन लोगों ने शेयर किया अपना अनुभव

नरेंद्र कुमार- रोहिणी दिल्ली से आ रहा हूं। पता चला था कि कोई एक्सप्रेस-वे चालू हुआ है। दिल्ली से मेरठ पहुंचने में बहुत कम समय लगता है। आज सफर किया तो बात सही साबित हुआ। एक्सप्रेस-वे काफी अच्छा बना है। दिल्ली से मेरठ तक आने में डायरेक्शन बोर्ड भी काफी लगे हैं। एंबुलेंस सुविधा भी रास्ते में मौजूद है। मुङो फिलहाल कोई समस्या नजर नहीं आई।

डी एस शुक्ला- पहले गाजियाबाद-मोदीनगर होकर मेरठ आते थे। काफी समय लगता था। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे से पहली बार आया। बहुत समय बच गया। यह एक्सप्रेस-वे विकास का बड़ा रास्ता खोलेगा। कानपुर का रहने वाला हूं। देहरादून तक अक्सर जाना होता है। अच्छी सड़क होने से दूरदराज के शहरों के बीच व्यापार बढ़ने के अवसर अधिक हो जाते हैं। अभी डासना-यूपी गेट के बीच काम चल रहा है। जब पूरी तरह तैयार हो जाएगा तब और कम समय लगेगा।

प्रकाश- मुजफ्फरनगर से आ रहा हूं। मोदीनगर जाना है, लेकिन देहरादून बाईपास के रैंप के दूसरे हिस्से पर चढ़कर एक्सप्रेस-वे पर आ गया, जबकि रैंप का सीधा रास्ता पकड़ना था। काशी टोल प्लाजा के पास से घूमकर मोदीनगर के कट तक लौटना पड़ा। चूंकि एक्सप्रेस-वे नया है, इसलिए थोड़ा भ्रम हुआ। अब परतापुर तिराहा बिल्कुल बदल चुका है। विकास नजर आ रहा है।

तुषार गुप्ता- मेरठ के लोगों को परतापुर इंटरचेंज पर काफी आगे जाकर यूटर्न लेना पड़ रहा है। अभी टायलेट की सुविधा नहीं है। जिससे थोड़ा परेशानी हो रही है। बाकी मेरठ से दिल्ली की दूरी कम हो गई है। डासना से यूपी गेट के बीच का काम एनएचएआइ को अब तेज गति से पूरा कराना चाहिए। ताकि सफर और आसान हो सके।

नेहा- हरिद्वार से आ रही हूं। मोदीनगर जाना है, लेकिन देहरादून रैंप पर चढ़कर आगे वाहन यूटर्न ले रहे थे। हमने भी यही किया और काशी टोल प्लाजा पहुंच गए। टोलकर्मियों ने मोदीनगर कट की जानकारी दी, जिसके बाद घूमकर पहुंचे। यह जानकारी के अभाव में हो गया। वाकई बहुत खूबसूरत नजारा हो गया है परतापुर तिराहे का। दिल्ली से आते थे तो पहले कुछ नहीं था यहां पर। अब मेरठ बदल रहा है।

रिटायर्ड कर्नल अमिताभ सागर- गुरुग्राम से देहरादून जाना था। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का रास्ता पकड़ा। लालकुआं और चिपियाना के पास काम की वजह से कार में ब्रेक लगानी पड़ी। यह काम जल्दी पूरा होना चाहिए। बाकी तो फर्राटा भरते हुए आए हैं। कार ड्राइव करते वक्त हैरान था कि इतनी जल्दी कैसे मेरठ आ गया। एक्सप्रेस-वे पर सड़क सुरक्षा के सभी मानकों को ध्यान में रखा गया है। ग्रीन बेल्ट भी विकसित की गई है।

सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए योगी सरकार का बड़ा फैसला, अभिभावकों को मिलेगी राहतसरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए योगी सरकार का बड़ा फैसला, अभिभावकों को मिलेगी राहत

English summary
Industrialist Anand Mahindra tweet on Delhi Meerut Expressway
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X