• search
keyboard_backspace

कोरोना महामारी पर नियंत्रण के बाद सीएम योगी अभी भी हैं सतर्क, बैठक में दिए अहम निर्देश

By Oneindia Staff
Google Oneindia News

लखनऊ। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ उत्तर प्रदेश में बड़ा अभियान चलाने के बाद उस पर काफी नियंत्रण करने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अभी भी इसके कहर को लेकर काफी सतर्क हैं। उनका स्पष्ट निर्देश है कि सभी जगह पर कोरोना प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन हो और इससे प्रभावितों को सरकार की तरफ से मिलने वाली हर सहायता मिले।

CM Yogi directed officers on controlling coronavirus pandemic

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने सरकारी आवास पर टीम-09 के साथ समीक्षा बैठक में कोरोना वायरस संक्रमण की समीक्षा के दौरान इसके कहर से अनाथ हुए बच्चों के बेहतर पालन-पोषण का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अनाथ बच्चों के बेहतर पालन-पोषण और शिक्षा-दीक्षा के प्रबंधन के लिए सरकार संकल्पित है। प्रदेश में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना इसी दिशा में एक प्रयास है। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र बच्चा इस योजना से वंचित न रहे, इस संबंध में संवेदनशीलता के साथ कार्य किया जाए। इसके साथ ही सभी बाल संरक्षण गृहों की व्यवस्थाओं को और बेहतर करने के संबंध में विभागीय मंत्री व अधिकारीगण भौतिक निरीक्षण करते हुए लगातार आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित कराएं।

कोरोना संक्रमण की स्थिति काफी नियंत्रित
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना महामारी की स्थिति हर दिन के साथ और नियंत्रित होती जा रही है। वायरस अब भले ही कमजोर पड़ चुका है, लेकिन संक्रमण का खतरा अब भी बना हुआ है। उन्होंने बताया कि बीते 24 घंटों में संक्रमण के 339 नए केस सामने आए, जबकि 1,116 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। इससे पहले, 21 मार्च को एक दिन में 500 से कम केस आये थे। वर्तमान में प्रदेश में 8,101 केस एक्टिव हैं। प्रदेश में अब तक पांच करोड़ 36 लाख दो हजार 870 कोविड टेस्ट हुए हैं। बीते 24 घंटों में दो लाख 57 हजार 441 टेस्ट हुए और पॉजिटिविटी दर मात्र 0.1 प्रतिशत रही, जबकि रिकवरी दर 98.2 प्रतिशत हो गई है। कोरोना महामारी के बीच अब तक 16 लाख 72 हजार 968 प्रदेशवासी कोविड संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं।

प्रदेश में कोविड टीकाकरण
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में वृहद टीकाकरण सुचारू रूप से चल रहा है। आज से रिक्शा-ऑटो चालक, रेहड़ी-पटरी व्यवसायी एवं फल-सब्जी विक्रेताओं के नि:शुल्क टीकाकरण का विशेष अभियान शुरू हो रहा है। टीकाकरण कार्यक्रम का यह एक महत्वपूर्ण चरण है। अधिकाधिक लोग अपना टीकाकरण कराएं, इसके लिए जागरूकता प्रसार भी कराया जाए। अब तक प्रदेश में दो करोड़ 30 लाख दो हजार 546 डोज लगाई जा चुकी है। हमें अगले माह से प्रतिदिन 10-12 लाख वैक्सीन डोज लगाने के लक्ष्य के सापेक्ष तैयारी करनी होगी। कोल्ड चेन को व्यवस्थित रखते हुए इस संबंध में सभी जरूरी तैयारी समय से पूरी कर ली जाएं।

सभी अवैध कार्यों के खिलाफ चले व्यापक अभियान
मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध शराब के खिलाफ अभियान और तेज किया जाए। इस दौरान दुकानों का निरीक्षण करने के साथ लाइसेंस का सत्यापन करें। अवैध शराब की गतिविधियों में संलिप्त लोगों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही सभी शस्त्र लाइसेंसों की समीक्षा की जाए। आपराधिक अथवा संदिग्ध गतिविधियों में संलिप्त लोगों के तथा गैरजरूरी मामलों में जारी लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई हो।

विकास के सभी कार्य को दें गति
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में स्मार्ट सिटी और अमृत योजना से जुड़े कार्यों में तेजी लाने की जरूरत है। गुणवत्ता के साथ-साथ समयबद्धता पर भी ध्यान दिया जाए। इन योजनाओं की सतत समीक्षा भी की जाए।

किसानों हितों को भी मिले सरंक्षण
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के हित संरक्षण को सुनिश्चित करते हुए गेहूं खरीद 15 जून के बाद भी जारी रखी जाए। बरसात शुरू हो गई है। कहीं भी गेहूं न भीगे, इसके लिए पर्याप्त इंतजम हों।

बरसात में गौ-आश्रय स्थल पर दें विशेष ध्यान
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गौ-आश्रय स्थलों में गोवंश के लिए हरे चारे-भूसे की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। जिलों में इन कार्यों के लिए वेटनरी अधिकारी की जवाबदेही तय की जाए। पशुओं की मृत्यु की दशा में अंत्येष्टि में देरी न हो।

English summary
CM Yogi directed officers on controlling coronavirus pandemic
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X