• search
keyboard_backspace

छत्तीसगढ़ः न्युमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन निश्शुल्क लगने की प्रक्रिया शुरू

Google Oneindia News

रायपुर। छत्तीसगढ़ में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के तहत बच्चों को अब न्युमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन (पीसीवी) निश्शुल्क लगने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। यह टीका बच्चों को न्युमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाली निमोनिया, मस्तिष्क ज्वर, सेप्टीसिमिया, साइनुसाइटिस, ओटाइटिस मीडिया (कान का इंफेक्शन) जैसी कई बीमारियों से बचाएगा। शिशुओं को छह सप्ताह, 14 सप्ताह और नौ माह की आयु में इसकी तीन खुराकें दी जाएंगी। तीन डोज में लगने वाला यह टीका बाजार में काफी महंगे दामों में मिलता है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने मंगलवार को एक वर्चुअल कार्यक्रम में नियमित टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश में पीसीवी टीकाकरण का शुभारंभ किया।

chhattisgarh free Pneumococcal Conjugate Vaccine started for children

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कार्यक्रम में सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों और विभाग के मैदानी अमले को संबोधित करते हुए कहा कि न्युमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन को नियमित टीकाकरण में शामिल करने से पांच वर्ष तक के बच्चों की न्युमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाली बीमारियों से रक्षा हो सकेगी।

इससे प्रदेश में बाल मृत्यु दर को कम करने में भी मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि चूंकि पीसीवी महंगी दर पर उपलब्ध है, इस कारण आम लोगों तक इसकी पहुंच सीमित थी। अब नियमित टीकाकरण में शामिल होने से सभी बच्चों को इसे निश्शुल्क लगाया जा सकेगा।

पांच वर्ष से कम उम्र में जान गंवाने वाले बच्चों में से 13 प्रतिशत निमोनिया पीड़ित

सिंहदेव ने अपने संबोधन में कहा कि देश में पांच वर्ष से कम उम्र में जान गंवाने वाले बच्चों में से 13 प्रतिशत निमोनिया पीड़ित होते हैं। इनमें से भी 15 प्रतिशत बच्चों की मौत न्युमोकोकल निमोनिया से होती है। उन्होंने बताया कि देश में वर्ष 2010 में एक लाख पांच हजार और 2015 में 53 हजार बच्चों की मौत न्युमोकोकल निमोनिया से हुई है। सिंहदेव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से पीसीवी को अधिक से अधिक शिशुओं तक पहुंचाने कहा। उन्होंने नवजातों के माता-पिता को भी इस बारे में जागरूक करने कहा, जिससे वे शिशु की उम्र के अनुसार इसकी निर्धारित खुराक समय पर बच्चों को दिलवा सकें।

न्युमोकोकल बैक्टीरिया से सबसे ज्यादा प्रभावित

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की संचालक डा. प्रियंका शुक्ला ने शुभारंभ कार्यक्रम में कहा कि पांच वर्ष तक के बच्चे न्युमोकोकल बैक्टीरिया से सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं। पीसीवी से इन बच्चों को सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में जैपनीज इन्सेफेलाइटिस के ज्यादा खतरों वाले जिलों में इससे बचाव का टीका भी नियमित टीकाकरण कार्यक्रम में शामिल किया गया है।

English summary
chhattisgarh free Pneumococcal Conjugate Vaccine started for children
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X