• search
keyboard_backspace

सपा ने बनाया था लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट, उसे कोविड के लिए खोल दें: अखिलेश

By Oneindia Staff

लखनऊ। कोरोना वायरस संक्रमण की बढ़ती तेजी से उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार की टेंशन बढ़ गई है। इस बीच समाजवादी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने राज्‍य सरकार को तंज कसते और नसीहत देते हुए बड़ी बात कही है। उन्‍होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ' इस मेडिकल इमरजेंसी के दौर में सपा के समय शुरू हुआ 'लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट' का विशाल परिसर पहले चरण में 750 व कुल 1250 बेड के लिए स्थान उपलब्ध कराएगा। सपा ने डेढ़ साल में जिस कैंसर इंस्टीट्यूट को बनाया था, उसे भाजपा सरकार अपने 4 साल के कार्यकाल के बाद कोविड के लिए तो खोल दे।'

Akhilesh Yadav said to open lucknow cancer institute for covid care

बता दें कि कोरोना के बेकाबू होने को लेकर अखिलेश यादव लगातार उत्‍तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्‍यनाथ पर हमला बोलते रहे हैं। यही नहीं, उन्‍होंने कई बार सबसे पहले गरीबों को कोरोना वैक्‍सीन लगाने की बात दोहराई है। हालांकि उन्‍होंने कोरोना वैक्‍सीन को भाजपा की वैक्‍सीन बताते हुए इसे नहीं लगवाने का ऐलान कर बखेड़ा खड़ा कर दिया था। इसके बाद अखिलेश यादव भाजपा समेत कई दलों के निशाने पर आ गए थे।

यूपी में कोरोना बेकाबू

उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बेकाबू हो गया है और आंकड़े भयावह होते जा रहे हैं। रविवार को प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 15353 नए मामले सामने आए हैं। यह संख्या शनिवार को आए 12,748 नये मामलों की तुलना में करीब तीन हजार ज्यादा है। इसके साथ राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या अब बढ़कर 71241 हो गई है। इसससे परेशान सीएम योगी ने आज कैबिनेट मीटिंग बुलाई है, ताकि कोई ठोस कदम उठाया जा सके। वैसे यूपी के कई शहरों में कोरोना को रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। बता दें कि यूपी में अब तक 85 लाख 15 हजाार 296 लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इसमें से 12 लाख 42 हजार 562 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज भी ले चुके हैं।

सरकार ने 30 अप्रैल तक बंद किए स्कूल

उत्‍तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की घातक परिस्थितियों को देखते हुए योगी सरकार ने एक बार फिर से राज्‍य भर के कक्षा 1 से 12 तक के शिक्षण संस्‍थानों को 30 अप्रैल तक बंद ही रखने का फैसला लिया है। कोरोना के तय प्रोटोकॉल का पालन कर आवश्यकता पड़ने पर ही स्‍टाफ को बुलाए जाने और पहले से तय परीक्षाओं को कराने की छूट सरकार की ओर से दी जा रही है। मगर छात्र-छात्राओं के आने पर पूरी रोक होगी। योगी सरकार की ओर से 30 अप्रैल तक सभी कक्षा 1 से 12 तक कोचिंग सेंटर, शिक्षण संस्‍थानों, प्राइवेट, निजी सभी बोर्डो के विद्यालयों को बंद करने का फैसला लिया है। पिछला आदेश 15 अप्रैल तक का था, जिसको अब 15 दिन के लिए और बढ़ाया जा रहा है।

धार्मिक स्थलों पर 5 लोगों से अधिक के प्रवेश पर बैन

प्रदेश में तेजी से फैल रहे कोरोना को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश के किसी भी धार्मिक स्थलों पर एक साथ पांच से अधिक लोगों के प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। मस्जिद, गुरुद्वारा या चर्च में अब एक साथ सिर्फ पांच लोग ही प्रवेश कर सकेंगे।

लखनऊ में व्यापक कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के निर्देश

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने जनपद लखनऊ में कोविड-19 के उपचार के लिए एल-2 एवं एल-3 के पर्याप्त बेड की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि लखनऊ में तत्काल कम से कम 2 हजार आईसीयू बेड की व्यवस्था की जाए, इसके बाद अगले एक सप्ताह में 2 हजार अतिरिक्त कोविड बेड का प्रबन्ध भी किया जाएं। यही नहीं, लखनऊ में व्यापक कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करने को कहा गया है। संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आए हुए कम से कम 30 से 35 लोगों को ट्रेस करते हुए इनका शत-प्रतिशत कोविड टेस्ट किया जाएगा। इसके साथ ही लखनऊ में प्रत्येक गांव तथा हर नगर निकाय के प्रत्येक वॉर्ड में निगरानी समितियों को सक्रिय करने को कहा गया है। मण्डलायुक्त जनपद लखनऊ में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फॉगिंग की कार्यवाही व्यापक पैमाने पर कराएं।

योगी सरकार का कैच द रेन अभियान, जलाशय के निर्माण पर लिया अहम फैसला

English summary
Akhilesh Yadav said to open lucknow cancer institute for covid care
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X