• search
keyboard_backspace

केंद्र सरकार वैक्सीन उपलब्ध कराने के बजाय स्टॉक की स्थिति को छुपाना चाहती है: आतिशी

Google Oneindia News

नई दिल्ली, 10 जून। आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता आतिशी ने कहा कि केंद्र सरकार अधिक से अधिक लोगों के लिए वैक्सीन उपलब्ध करवाने के बजाए वैक्सीन के स्टॉक की स्थिति को छुपाना चाहती है। केंद्र सरकार की जिम्मेदारी यह है कि लोगों को पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध कराए ना कि वैक्सीनेशन स्टॉक की जानकारी को छुपाए। दिल्ली में युवाओं का वैक्सीनेशन 16 दिन के बाद फिर से शुरू हुआ है। कोवैक्सीन की डोज दोनों श्रेणियों के लिए काफी दिनों तक उपलब्ध नहीं थीं। केजरीवाल सरकार का मानना है कि जनता का अधिकार है यह जानना कि उनके लिए वैक्सीन उपलब्ध है या नहीं है। उन्होंने कहा कि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लिए 2 दिन का कोवैक्सीन और 26 दिन का कोवीशील्ड का स्टॉक उपलब्ध है। 18 से 44 वर्ष के युवाओं के लिए 4 दिन का कोवैक्सीन और 8 दिन का कोवीशील्ड का स्टॉक उपलब्ध है। युवाओं के लिए 1.24 लाख कोवीशील्ड और 50 हजार कोवैक्सीन की डोज उपलब्ध हैं। इसके अलावा युवाओं के लिए के कल 29,800 डोज आयी हैं। दिल्ली में 9 जून को 47,978 लोगों को वैक्सीन की डोज लगाई गई हैं। जिसमें से 25,527 लोगों को पहली और 22,451 लोगों को दूसरी डोज लगाई गई हैं।

Atishi

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता और विधायक आतिशी ने बृहस्पतिवार को वैक्सीनेशन बुलेटिन जारी किया। विधायक आतिशी ने कहा कि दिल्ली का वैक्सीनेशन बुलेटिन आपसे रोजाना साझा इसलिए करते हैं ताकि आपको पता लग सके कि पिछले दिन कितनी वैक्सीनेशन हुई है। अभी तक पूरी दिल्ली में कुल कितनी वैक्सीनेशन हो चुकी है। इसके अलावा कितने लोगों को पहली डोज और कितने लोगों को दूसरी डोज लगी हैं। दिल्ली में कोवैक्सीन और कोवीशील्ड के स्टॉक की क्या स्थिति है।

विधायक आतिशी ने कहा कि दिल्ली की जनता का अधिकार है यह जानना कि उनके लिए वैक्सीन उपलब्ध है या नहीं है। दिल्ली के वैक्सीनेशन के स्लॉट उपलब्ध है या नहीं हैं। दिल्ली में दूसरी लहर के बाद सभी लोग अपने आप को वैक्सीन लगवाना चाहते हैं। इसलिए वह जानना चाहते हैं कि वैक्सीन की क्या उपलब्धता है। वैक्सीन कहां पर लग रही हैं। हमें इस बात पर अचंभा है कि भारत सरकार ने कल सभी राज्यों को एक लेटर भेजा है कि कोई भी राज्य वैक्सीनेशन की जानकारी को साझा नहीं करेगा कि कितनी वैक्सीन लगी हैं। वैक्सीन की उपलब्धता और स्टॉक की क्या स्थिति है। हमें इस बात का अचंभा है कि केंद्र सरकार का काम था कि दिल्ली और देश के 18 साल से अधिक उम्र के हर व्यक्ति के लिए वैक्सीन उपलब्ध कराएं लेकिन वह काम केंद्र सरकार ने नहीं किया। दिल्ली में आज यह स्थिति है युवाओं का वैक्सीनेशन 16 दिन के बाद फिर से शुरू हुआ है। दिल्ली में 16 दिन तक युवाओं के लिए कोई भी वैक्सीन उपलब्ध नहीं थी। कोवैक्सीन की दूसरी डोज 18 से 44 वर्ष के युवाओं और 45 वर्ष से अधिक उम्र की श्रेणी के लोगों के लिए उपलब्ध नहीं थी।

उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोग हमेशा जानना चाहते थे कि वैक्सीन उपलब्ध हैं या नहीं हैं। केंद्र सरकार वैक्सीन उपलब्ध करवाने के बजाय आदेश पारित करती है कि कोई भी राज्य इस जानकारी को साझा नहीं कर सकता है कि वैक्सीन उपलब्ध है या नहीं है। केंद्र सरकार से आग्रह है कि आप सूचना छुपाने के बजाय वैक्सीन उपलब्ध कराने पर अपना ध्यान और ऊर्जा लगाएये। दिल्ली और देश में वैक्सीन अगर उपलब्ध नहीं होगी तो आज नहीं तो कल लोगों को पता चल जाएगा कि वैक्सीन उपलब्ध नहीं है। वैक्सीन की सूचना जानना हर नागरिक का अधिकार है, क्योंकि नागरिकों को वैक्सीन ही कोरोना महामारी से बचा सकती है। केंद्र सरकार से अपील है कि सूचना छुपाने के बजाय सभी राज्यों को वैक्सीन उपलब्ध करवाएं, ताकि सभी राज्य पूरे भारत के लोगों को वैक्सीनेट करवा पाएं। वैक्सीनेट करवाने के बाद अपने आपको और पूरे देश को संभावित तीसरी लहर से बचा पाएं।

विधायक आतिशी ने बताया कि दिल्ली में वैक्सीनेशन जोरों से चल रहा है। दिल्ली में 9 जून को 47,978 लोगों को वैक्सीन की डोज लगाई गई हैं। जिसमें से 25,527 लोगों को पहली और 22,451 लोगों को दूसरी डोज लगाई गई है। इसके साथ दिल्ली में 58,30,579 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं। इनमें से 13.63 लाख लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लग गई हैं। दिल्ली में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लिए 5.50 लाख वैक्सीन की डोज उपलब्ध हैं, जिसमें से 5.20 लाख कोवीशील्ड की डोज उपलब्ध हैं। इसके अलावा 28,600 कोवैक्सीन की डोज उपलब्ध है। कोवैक्सीन का इस्तेमाल सिर्फ दूसरी डोज लगाने के लिए कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि 18 से 44 वर्ष के युवाओं के लिए दिल्ली में 1.74 लाख वैक्सीन की डोज उपलब्ध हैं, जिसमें से 1.24 लाख कोवीशील्ड और 50 हजार डोज कोवैक्सीन के उपलब्ध हैं। 18 से 44 वर्ष के युवाओं के लिए के कल 29,800 डोज आयी हैं। 45 वर्ष से अधिक उम्र के लिए 2 दिन का कोवैक्सीन और 26 दिन की कोवीशील्ड का स्टॉक उपलब्ध है। युवाओं के लिए 4 दिन का कोवैक्सीन और 8 दिन का कोवीशील्ड का स्टॉक उपलब्ध है। जहां तक 18 से 44 वर्ष के ऐसे युवाओं की बात है तो जिन्होंने वैक्सीन की पहली डोज अभी तक नहीं लगवाई है उनके लिए अगले 8 दिनों तक सारे स्लॉट उपलब्ध होंगे। कोविन ऐप पर जाकर स्लॉट बुक कर सकते हैं।

विधायक आतिशी ने कहा कि दिल्ली की जनता अधिकार है यह जानने का कि कितनी वैक्सीन उपलब्ध हैं, कितने दिन तक उपलब्ध है और कहां पर वैक्सीनेशन हो रहा है। यही कारण है कि रोजाना यह जानकारी दिल्ली के लोगों से साझा करते हैं। केंद्र सरकार से यही आग्रह है कि कृपया करके वैक्सीन की स्टॉक उपलब्धता करवाइए ना कि स्टॉक की स्टॉक की स्थिति को छुपाने का काम करिए।

English summary
aap leader atishi slams center on covid vaccine
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X