• search
पश्चिम बंगाल न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

ममता बनर्जी बोलीं: 3 चरणों के चुनावों को एक साथ न करवाकर चुनाव आयोग पीएम मोदी को फायदा देना चाहता है

|

कोलकाता, अप्रैल 21: दूसरी कोविद लहर के मद्देनजर बंगाल विधानसभा चुनाव के अंतिम तीन चरणों का चुनाव एक साथ न करवाए जाने पर टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग पर हमला बोला है। तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि इसका उद्देश्य भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र को फायदा देना था।

mamtamodi

जियागंज, मुर्शिदाबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि चुनाव को एक चरण में या दो चरणों में करवाने के तृणमूल कांग्रेस की बात नहीं सुनी। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा बंगाल में सांप्रदायिक कलह को ट्रिगर करने की साजिश रच रही है।

    Bengal Election 2021: एक साथ कराए जा सकती है Last Two Phase के लिए Voting | वनइंडिया हिंदी

    पोल पैनल ने हमारी याचिका पर ध्‍यान नहीं दिया

    ममता बनर्जी ने कहा "हमने चुनाव आयोग से अपने चुनाव कार्यक्रम पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया। हमने उनसे महामारी की स्थिति को देखते हुए अंतिम तीन चरणों में क्लब बना कर चुनाव करवाने का अनुरोध किया परंतु पोल पैनल ने हमारी याचिका पर कोई ध्यान नहीं दिया। उन्होंने अंतिम तीन चरणों के कार्यक्रम में बदलाव नहीं करने का फैसला किया। टीएमसी ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी आरिज़ आफताब को मंगलवार को एक पत्र भेजा, जिसमें उन्हें कोविड -19 मामलों में हुई बढ़ोत्‍तरी के बीच पार्टी के अनुरोध पर विचार करने का आग्रह किया गया।

    चुनाव आयोग ने ऐसा इसलिए किया कि मोदी रैलियां कर सकें

    ममता ने कहा कि यह भाजपा और पीएम मोदी की मदद करना है ताकि वह राज्य का दौरा कर सकें और बंगाल में अधिक से अधिक रैलियों को संबोधित कर सकें। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने पहले ही कोलकाता में मेगा रैलियों का आयोजन नहीं करने का फैसला किया है।

    टीएमसी ने कोरोना के बढ़ते प्रकोप में रैलियां न करने का किया है ऐलान

    ममता बनर्जी ने कहा "हम कोलकाता में 26 अप्रैल को केवल एक रैली करेंगे। जिलों में, मैंने रैलियों को संबोधित करते हुए अपने भाषणों को छोटा कर दिया है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने पहले ही कोलकाता में मेगा रैलियों का आयोजन नहीं करने का फैसला किया है।हम कोलकाता में 26 अप्रैल को केवल एक रैली करेंगे। जिलों में, मैंने रैलियों को संबोधित करते हुए अपने भाषणों को छोटा कर दिया है। '

    भाजपा "सांप्रदायिक कलह को ट्रिगर करने की कोशिश कर रही थी"

    ममता ने हाल के दिनों में चुनाव आयोग पर भाजपा के इशारे पर काम करने का आरोप लगया था और पैनल को लताड़ चुकी हैं। रैली को संबोधित करते हुए, ममता ने अल्पसंख्यक बहुल क्षेत्र के लोगों से सतर्क रहने का आग्रह किया उन्‍होंने कहा भाजपा "सांप्रदायिक कलह को ट्रिगर करने की कोशिश कर रही थी"।उन्होंने कहा, "भाजपा बंगाल में दंगे करवाने की कोशिश कर रही है। उनके जाल में न फसें। सतर्क रहें और मतदान करें। बता दें दूसरी कोविद लहर के मद्देनजर, CPI-M ने पहले ही घोषणा कर दी है कि वह किसी भी बड़ी रैली या रोड शो का आयोजन नहीं करेगी। वह छोटे स्ट्रीट कॉर्नर मीटिंग्स और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करके अपने अभियान को आगे बढ़ाने पर केंद्रित होगा।

    47 की उम्र में मलाइका ने बढ़ाया इंटरनेट का पारा, Photos वायरलhttps://hindi.oneindia.com/photos/bollywood-actress-malaika-arora-bold-pictures-61081.html

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Mamta Banerjee said: Election Commission wants to give benefit to PM Modi by not organizing 3 phase elections together
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X