• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

डॉक्टरों से बात करते हुए भावुक हुए PM Modi, दिया 'जहां बीमार, वहीं उपचार' का नया मंत्र

|
Google Oneindia News

वाराणसी, मई 21: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जारी जंग में लगातार बैठके कर रहे हैं। इसी क्रम में शुक्रवार (21 मई) को पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य फ्रंटलाइन स्वास्थ्यकर्मियों से बात की। बातचीत के दौरान पीएम मोदी भावुक हो गए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए डॉक्टरों से बात करते हुए पीएम ने कहा कि कोरोना वायरस ने हमारे कई अपनों को हमसे छीना है। मैं उन सभी लोगों को अपनी श्रद्धांजलि देता हूं, उनके परिजनों के प्रति सांत्वना व्यक्त करता हूं।

    Varanasi के Health Workers को संबोधित करते वक्त भावुक हुए PM Modi, कही ये बातें | वनइंडिया हिंदी

    Varanasi news PM Narendra Modi Coronavirus update news

    21 मई की सुबह करीब 11 बजे वाराणसी के डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स से पीएम नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की। इस दौरान पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, 'मैं काशी का एक सेवक होने के नाते हर एक काशीवासी का धन्यवाद देता हूं। विशेष रूप से हमारे डॉक्टर्स, नर्सेस और अन्य स्वास्थ्यकर्मियों ने जो काम किया, वो सराहनीय है। इस वायरस ने हमारे कई अपनों को हमसे छीन है, मैं उन सभी लोगों को अपनी श्रद्धांजलि देता हूं।'

    पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी वेव में हमें कई मोर्चों पर एक साथ लड़ना पड़ रहा है। इस बार संक्रमण दर पहले से कई गुना ज़्यादा है और मरीज़ों को ज़्या​दा दिनों तक अस्पताल में भर्ती रहना पड़ रहा है। इन सबसे हमारे हेल्थ सिस्टम पर एक साथ बहुत बड़ा दबाव पैदा हो गया है। इस दौरान पीएम ने वाराणसी के डॉक्टरों से बात करते हुए कहा कि हमने वाराणसी में कोविड को कंट्रोल करने में सफलता पाई है, लेकिन अभी फोकस वाराणसी और पूर्वांचल के गांवों को बचाने पर होना चाहिए।

    पीएम मोदी ने 'जहां बीमार, वहीं उपचार' का दिया नया मंत्र
    पीएम मोदी ने इस दौरान डॉक्टरों को एक नया मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि अब हमारा नया मंत्र है 'जहां बीमार, वहीं उपचार'। इस सिद्धांत पर माइक्रो-कंटेनमेंट जोन बनाकर जिस तरह आप शहर एवं गांवों में घर-घर दवाएं बांट रहे हैं, ये बहुत अच्छी पहल है। इस अभियान को ग्रामीण इलाकों में जितना हो सके उतना व्यापक करना है।

    हमारे सामने ब्लैक फंगस नई चुनौती: पीएम
    पीएम मोदी ने कहा कि हमारी इस लड़ाई में अभी इन दिनों ब्लैक फंगस की एक और नई चुनौती भी सामने आई है। इससे निपटने के लिए जरूरी सावधानी और व्यवस्था पर ध्यान देना जरूरी है। इस दौरान पीएम मोदी ने वाराणसी के विभिन्न अस्पतालों के डॉक्टर और अन्य स्टाफ से बात की। इन अस्पतालों में पंडित राजन मिश्रा हॉस्पिटल भी शामिल है। इस अस्पताल को हाल में डीआरडीओ और सेना के संयुक्त प्रयास के जरिए बनाया गया है।

    ये भी पढ़ें:- बारिश के बाद Saharanpur में कम हुआ प्रदूषण, दिखने लगीं हिमालय और शिवालिक की चोटियांये भी पढ़ें:- बारिश के बाद Saharanpur में कम हुआ प्रदूषण, दिखने लगीं हिमालय और शिवालिक की चोटियां

    पीएम मोदी ने जानी सफलता की कहानी
    पीएम नरेंद्र मोदी डॉक्टरों और फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स से उनकी सफलता की कहानी भी जानी। तो वहीं, पीएम मोदी डेढ़ महीने में 40 फीसदी संक्रमण दर को तीन फीसदी पर लाने वाले डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य स्वास्थ्यकर्मियों का उत्साह बढ़ाया।

    English summary
    Varanasi news PM Narendra Modi Coronavirus update news
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X