• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

काशी के महाश्‍मशान मणि‍कर्णिका घाट पर खेली गई चि‍ता भस्‍म से होली, देखें VIDEO

|

वाराणसी। काशी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर मातम के बीच चिता भस्म से होली खेली जाती है। मान्यता है कि काशी के महाश्मशान घाट पर होने वाले मसाने की होली में बाबा विश्वनाथ दिगंबर रूप में अपने भक्तों संग होली खेलते हैं। रंगभरी एकादशी के अगले दिन यानी गुरुवार को काशी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर शिव के अड़भंगी भक्तों ने चिता के भस्म के साथ अबीर गुलाल की अनोखी होली खेली। काशी के महाश्मशान पर होने वाली इस होली में दाह संस्कार में आए लोग भी मातम को भूल मस्ती में डूबे दिखे।

    Varanasi के Manikarnika Ghat पर खेली गई Bhasma Holi, देखें Video । वनइंडिया हिंदी

    Holi festival celebrated with ashes and gulal at Manikarnika Ghat in Varanasi

    दुनियाभर से लोग आते हैं होली देखने

    काशी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट की होली विश्व प्रसिद्ध है। इसे देखने के लिए दुनिया भर से लोग यहां आते हैं। दरअसल, यहां दुनिया की एकलौती चिता की राख और भस्म से होली खेली जाती है। नजारा ऐसा दिखता है कि जैसे भूतभावन महादेव खुद होली खेल रहे हों। इस बार भी चिता भस्म की होली खेली। खास बात ये रही कि इस बार हरिश्चंद्र घाट पर भी इस होली का आयोजन किया गया।

    चिता की राख से खेली गई होली

    बता दें, काशी में देवस्थान और महाश्मसान का महत्व एक जैसा है। पवित्र तीर्थों के बीच में विराजे बाबा श्मशान नाथ के चरणों में चिता की राख समर्पित करने के बाद भक्त यहां उसे उड़ाकर होली खेलते हैं। संत से लेकर सन्यासी तक चिता भस्म को विभूति मानकर माथे पर लगाकर होली खेली। राग विराग की नगरी काशी की परंपराएं भी अजब और अनोखी हैं। रंगभरी एकादशी पर अड़भंगी बारात के साथ बाबा मां पार्वती का गौना कराकर ले जाते हैं और दूसरे दिन बाबा के गणों द्वारा ये होली खेली जाती है। मान्यताओं के मुताबिक, रंगभरी एकादशी पर गौरा के विदाई के बाद बाबा विश्वनाथ अपने बारातियों के साथ काशी के महाश्मशान में होली खेलने आते हैं।

    VIDEO: कोरोना का कोई डर नहीं, ​वृंदावन के मंदिर में खचा-खच भीड़, लोग ऐसे खेल रहे होली

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Holi festival celebrated with ashes and gulal at Manikarnika Ghat in Varanasi
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X