• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उत्तराखंड चुनाव: भाजपा ने उम्मीदवारों की लिस्ट में साधा जातिगत समीकरण, क्या फिर से हिट होगा फॉर्मूला

|
Google Oneindia News

देहरादून, 21 जनवरी। उत्तराखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने 59 उम्मीदवारों की लिस्ट को जारी कर दिया है। उत्तराखंड में कुल 70 विधानसभा की सीटें हैं और इसमे से 59 सीटों के लिए भाजपा ने अपने उम्मीदवारों का ऐलान किया है। इस लिस्ट में बहुत चौंकान वाले बदलाव नहीं किए गए हैं और अधिकतर मौजूदा विधायकों को पार्टी ने टिकट दिया है। इस लिस्ट में पार्टी की ओर से जातिगतर समीकरण को साधने की कोशिश की गई है। उत्तराखंड में 14 फरवरी को चुनाव होने हैं जबकि नतीजे 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे।

इसे भी पढ़ें- अगर आज लोकसभा चुनाव हो तो NDA को मिलेगा पूर्ण बहुमत: सर्वेइसे भी पढ़ें- अगर आज लोकसभा चुनाव हो तो NDA को मिलेगा पूर्ण बहुमत: सर्वे

 पारंपरिक मतदाता को साधने की कोशिश

पारंपरिक मतदाता को साधने की कोशिश

भाजपा ने जिन 59 उम्मीदवारों को पार्टी का टिकट दिया है उसमे से 22 उम्मीदवार ठाकुर हैं, 15 ब्राह्मण उम्मीदवार हैं, 6 आरक्षित वर्ग के लोग हैं और तीन लोग बनिया समुदाय से आते हैं। उत्तराखंड में भाजपा के चुनाव प्रभारी प्रह्लाद जोशी ने कहा कि बाकी के 11 उम्मीदवारों के नाम का भी ऐलान जल्द किया जाएगा। भाजपा की लिस्ट पर नजर डालें तो इससे स्पष्ट होता है कि पार्टी ने सोशल इंजीनियरिंग के फॉर्मूले पर उम्मीदवारों का चयन किया है। राजनीतिक विश्लेषक एमएमए काजमी ने कहा ब्राह्मण और व्यवसाय जगत से जुड़े लोग भाजपा के पारंपरिक मतदाता हैं। ब्राह्मणों को 15 टिकट और तीन टिकट बनिया समुदाय के उम्मीदवार को देकर भाजपा ने अपने पारंपरिक मतदाता को अपनी ओर खींचने का काम किया है।

जातिगत समीकरण से नहीं छेड़छाड़

जातिगत समीकरण से नहीं छेड़छाड़

आंकड़ों पर नजर डालें तो ठाकुर समुदाय प्रदेश में कुल 35 फीसदी मतदाता हैं जबकि 25 फीसदी मतदाता ब्राह्मण है। ऐसे में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दल इस समीकरण को ध्यान में रखते हुए उम्मीदवारों के नाम का चयन करते हैं। जैसा की पहले से ही कयास लगाया जा रहा था कि पुष्कर सिंह धामी को खटीमा सीट से टिकट दिया जाएगा और प्रदेश भाजपा मुखिया मदन कौशिक को हरिद्वार से टिकट दिया जाएगा। इसी तरह से कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल को नरेंद्र नगर सीट से टिकट दिया गया है, गणेश जोशी एक बार फिर से मसूरी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज को चौबट्टाखल से टिकट दिया गया है।

हर समीकरण का रखा गया ध्यान

हर समीकरण का रखा गया ध्यान

कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए उमेश शर्मा को रायपुर से टिकट दिया गया है। इसके अलावा भाजपा ने सौरभ बहुगुणा जोकि पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के बेटे हैं उन्हें सितारगंज से टिकट दिया है। वहीं शहरी विकास मंत्री बंशीधर भगत को पार्टी ने कालाधुंगी विधानसभा सीट से टिकट दिया है। स्वामी यतीश्वरनंद को हरिद्वार ग्रामीण, प्रदीप बत्रा को रुड़की और बिशन सिंह को दीदीघाट विधानसभा सीट से टिकट दिया गया है।

Comments
English summary
Uttrakhand Assembly election 2022 BJP's candidate list a complete balance of caste.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X