• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरीश रावत ने राहुल गांधी को बताया 'अर्जुन', कहा- साल 2024 में राहुल गांधी के PM बनते ही ले लूंगा संन्यास

|

देहरादून। बिहार चुनाव में कांग्रेस की दुर्दशा के बाद अब पार्टी के अंदर कई लोगों ने दल के नेतृत्व और राहुल गांधी के खिलाफ आवाज उठाई है, पार्टी के अंदर इस वक्त घमासान मचा हुआ है, कपिल सिब्बल जैसे वरिष्ठ नेताओं ने साफ तौर पर कह दिया है कि पार्टी को अब लोग विकल्प के रूप में लेते ही नहीं हैं तो वहीं गुलाम नबी आजाद ने कहा 'मैं हार के लिए लीडरशिप को जिम्मेदार नहीं मानता हूं लेकिन अब हमारे लोगों ने जमीनी स्तर पर जुड़ाव खो दिया है और इसके लिए अब हमें गंभीरता से सोचने की काफी जरूरत है।'

 साल 2024 में राहुल गांधी के PM बनते ही ले लूंगा संन्यास

तो वहीं अब इस मसले पर उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने बड़ी बात कही है, सोमवार को अपने फेसबुक लाइव पर उन्होंने जमकर विरोधियों पर निशाना साधा और कहा है कि हार के लिए केवल राहुल गांधी को दोषी ठहराना सही नहीं है, राहुल गांधी तो हमारे अर्जुन हैं,वो कैसी पार्टी की हार के लिए अकेले जिम्मेदार हो सकते हैं, हर बात के लिए उन्हें कोसना कहां तक उचित है, मैं आज अगर ये बात कह रहा हूं तो इसके लिए कुछ लोग मुझे भी कोस रहे हैं।

'चुनावी हार के लिए राहुल गांधी को कोसना सही नहीं'

लेकिन मुझे इसकी परवाह नहीं है, मुझे पता है कि बिहार चुनाव और उपचुनावों में कांग्रेस की बुरी तरह से हार हुई है, लोग हमसे नाराज हैं, हमारे पक्ष में जनमत नहीं आया है लेकिन इसका मतलब ये तो नहीं कि राहुल गांधी अयोग्य हैं, सोनिया गांधी की पकड़ अब पार्टी पर से कम हो गई है, ये कोई पहली बार नहीं हुआ है कि पार्टी संकटों या चुनावी हारों से गुजर रही है, साल 1999 में भी यही दौर था लेकिन उस मुश्किल वक्त में भी सोनिया गांधी ने ही पार्टी की कमान संभाली थी और उनकी सूझ-बूझ का ही नतीजा था, जिसके चलते साल 2004 में पार्टी ने जीत का परचम लहराया था।

गांधी परिवार ने कई बलिदान दिए हैं: रावत

गांधी परिवार ने कई बलिदान दिए हैं, उनकी कुर्बानी पर कोई कैसे सवाल उठा सकता है, मुझे पूरा भरोसा है कि राहुल गांधी की आशावादी सोच और सोनिया गांधी की सझबूझ से एक बार फिर से पार्टी पटरी पर आ जाएगी, केवल चुनावी हारों से किसी को योग्य और नकारा साबित नहीं किया जा सकता है। हमें जमीनी स्तर पर काम करने की जरूरत है और हमें पता है कि हम ये कर पाएंगे और साल 2024 में राहुल गांधी ही हमें शिखर पर लेकर जाएंगे, हार से घबराना नहीं चाहिए बल्कि खुद को सुधारने की कोशिश करनी चाहिए।

'राहुल गांधी के पीएम बनने के बाद मैं संन्यास ले लूंगा'

हरीश रावत ने कहा कि कुछ लोगों ने मुझे संन्यास लेने की सलाह दी है, तो मैं उनसे आज कहता हूं कि साल 2024 में राहुल गांधी के पीएम बनने के बाद मैं संन्यास भी ले लूंगा। हरीश रावत ने मीडिया वालों पर भी निशाना साधा कि बिहार की हार के बाद कुछ समाचार पत्रों ने हमारे बारे में कुछ ऐसा लिखा जिसे देखकर लगा ही नहीं ये उनकी सोच हो सकती है, लेखनी में समालोचना होनी चाहिए, मैं अपने सभी मीडिया बंधुओं से प्रार्थना करता हूं कि वो एक पक्षीय फैसला ना सुनाएं।

राहुल गांधी हमारे अर्जुन, मां सोनिया का आशीर्वाद हमेशा साथ: रावत

इसके बाद हरीश रावत ने बिना नाम लिए पार्टी में गांधी परिवार पर सवाल उठाने वाले लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि महाभारत के युद्ध में अर्जुन को जब घाव लगते थे, वो बहुत रोमांचित होते थे, राजनैतिक जीवन के प्रारंभ से ही मुझे घाव दर घाव लगे, कई-कई हारें झेली, मगर मैंने राजनीति में न निष्ठा बदली और न रण छोड़ा, ठीक उसी तरह भी राहुल गांधी भी हमारे 'अर्जुन' हैं और वो ना रण छोड़ेंगे और ना ही पीछे हटेंगे, मुझे पूरा भरोसा है कि वो सफल होंगे, मां सोनिया का आशीर्वाद उनके और पार्टी के साथ है और वो बेकार नहीं जाएगा और तभी मैं संन्यास लूंगा लेकिन तब तक मेरे शुभचिंतक मेरे संन्यास का इंतजार करें।

देखें- हरीश रावत का फेसबुक लाइव Video

यह पढ़ें:बिहार चुनाव में हुई दुर्दशा पर बोले सिब्बल -'कांग्रेस को अब विकल्प ही नहीं मानते लोग, आत्मनिरीक्षण की जरूरत'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Uttarakhand, Former CM Harish Rawat will take retirement after Rahul Gandhi becoming PM IN 2024, here is His Facebook Live Video, Please have a Look.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X