India
  • search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

​उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी का 3 दिन का दिल्ली दौरा, 100 दिन के कार्यकाल पर पूरा फोकस

|
Google Oneindia News

देहरादून, 24 जून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपनी सरकार के 100 दिन के कार्यकाल के रोडमैप को लेकर ​हाईकमान के सामने पूरा फीडबैक रख चुके हैं। 3 दिन के दिल्ली दौरे के दौरान सीएम धामी ने पीएम नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी.किशन रेड्डी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलकर सरकार के अब तक के कार्यकाल और भविष्य की रणनीति पर चर्चा की है। जिसके बाद 100 दिन के कार्यकाल के आधार पर ही विकास कार्यों की समीक्षा होगी। इस दौरे में चारधाम यात्रा और अग्निपथ योजना का फीडबैक सबसे ज्यादा अहम माना जा रहा है। इसके साथ ही सीएम धामी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से​ मिलकर 100 दिन के कार्यकाल के बाद संगठन के कर्मठ कार्यकर्ताओं को दायित्व बांटने पर भी चर्चा होने का दावा किया जा रहा है।

 Uttarakhand CM Pushkar Singh Dhamis 3-day visit to Delhi, full focus on 100-day tenure

पार्टी कार्यकर्ताओं को जल्द बंटंगे दायित्व, दिल्ली में मुहर
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की है। सूत्रों का दावा है कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दिल्ली से लौटकर दायित्वधारियों की पहली लिस्ट जारी कर सकते हैं। नड्डा से मुलाकात में राजनीतिक हालात, चारधाम यात्रा, अग्निपथ योजना के साथ ही भाजपा नेताओं को दायित्व देने को लेकर भी चर्चा हुई। प्रदेश संगठन को विभिन्न दायित्वों के लिए 150 से ज्यादा आवेदन मिल चुके हैं। जिसमें से दो दर्जन से अधिक कार्यकर्ताओं की लॉटरी खुल सकती है।

चारधाम यात्रा और अग्निपथ पर चर्चा
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शुक्रवार को राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडी प्रत्याशी द्रोपदी मुर्मू के नामांकन में शामिल हुए। गुरुवार को सीएम ने प्रधानमंत्री व केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात के बाद वह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से भेंट भी की। सूत्रों का दावा है कि धामी ने अपनी सरकार के 100 दिन के कार्यकाल का फीडबैक दिया है। उन्होंने बताया कि उनकी सरकार ने चुनाव दृष्टि पत्र के आधार पर विकास का एजेंडा तय किया है। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के बारे में भी जानकारी दी। इसको लेकर सीएम पुष्कर सिंह धामी ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से भी चर्चा कर सैनिक बाहुल्य प्रदेश का फीडबैक दिया है। साथ ही राजनाथ सिंह को ये जानकारी भी दी है उत्तराखंड पहला राज्य है जिसने पूर्व सैनिकों से संवाद किया है। जिसके सुझाव राजनाथ सिंह को सौंपे गए हैं।

पर्यटन मंत्री से मिलकर बड़े प्रोजेक्ट पर चर्चा
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी.किशन रेड्डी से भी मुलाकात कर विभिन्न योजनाओं के लिए विशेष पैकेज के रूप में वित्त पोषण के लिए सैद्धान्तिक स्वीकृति प्रदान करने का अनुरोध किया है। मुख्यमंत्री धामी ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री से कुमाऊं में विरासत सर्किट और गढ़वाल मण्डल में ऋषिकेश को एक 'इंटरनेशनल आईकोनिक टूरिस्ट डेस्टिनेशन' के रूप में विकसित करने के लिए विशेष पैकेज की स्वीकृति देने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुमाऊं मण्डल में पिथौरागढ़, चम्पावत में धार्मिक गुफाओं का विकास, नैनीताल में कैंची धाम समेत ऐतिहासिक विरासत स्थलों के विकास का प्रस्ताव तैयार किया गया है। जबकि ऋषिकेश को अंतर्राष्ट्रीय टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में विकसित किए जाने की भी योजना है।

ये भी पढ़ें-उत्तराखंड की पहली महिला मुख्य सचिव बन सकती है राधा रतूड़ी, डा. एसएस संधु का केन्द्र में वापस लौटने के संकेतये भी पढ़ें-उत्तराखंड की पहली महिला मुख्य सचिव बन सकती है राधा रतूड़ी, डा. एसएस संधु का केन्द्र में वापस लौटने के संकेत

Comments
English summary
Uttarakhand CM Pushkar Singh Dhami's 3-day visit to Delhi, full focus on 100-day tenure
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X