• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अबकी बार वॉर रूम से नहीं डिजिटल वॉर से लड़ा जा रहा चुनाव, ​कौन आगे, किसमें कितना है दम, जानिए

|
Google Oneindia News

देहरादून, 12 जनवरी। उत्तराखंड में चुनाव तारीखों का ऐलान तो हो गया लेकिन रैलियों और प्रचार-प्रसार पर अभी कोविड के चलते रोक लगी हुई है। ऐसे में सियासी दलों को इस बार वॉर रूम को डिजिटल वॉर रूम में बदलने की जरुरत महसूस होने लगी है। इसके लिए हर कोई सियासी दल अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म को मजबूत करने में जुटे हैं। अभी तक डिजिटल प्रचार-प्रसार में भाजपा ही सबसे आगे नजर आ रही थी, लेकिन बीते कुछ दिनों से आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने भी नई रणनीति पर फोकस किया है। जिसके जरिए जनता तक अपना संदेश पहुंचाया जा सके। ऐसे में सोशल मीडिया में कौन कितना एक्टिव है। इससे आने वाले दिनों में सीधा-सीधा लाभ ​पार्टी या संबंधित नेता को मिल सकता है।

This time the election is being fought not from the war room but from the digital war, who is ahead, who has the power, know

फेसबुक पर सीएम धामी, ट्विटर पर हरीश रावत आगे

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के फेसबुक पेज को 23 लाख 96 हजार लोग फॉलो कर रहे हैं। जबकि ट्विटर पर 1 लाख 23 हजार फॉलोअर है। बीजेपी उत्तराखंड के ट्विटर पेज को 1 लाख 19 हजार लोग फॉलो करते हैं। पूर्व सीएम हरीश रावत के फेसबुक पेज पर 14 लाख 74 हजार से ज्यादा फॉलोअर हैं। ट्विटर पर हरीश रावत के 3 लाख 82 हजार फॉलोअर है। जबकि उत्तराखंड कांग्रेस के 68 हजार 500 फॉलोअर है। आप को ट्विटर पर 30 हजार 800 फॉलो कर रहे हैं, जबकि कर्नल अजय कोठियाल के 25 हजार 500 फॉलोअर है। फेसबुक पर आप के 2 लाख 89 हजार फॉलोअर हैं।

भाजपा का सोशल मीडिया टीम पर फोकस
सत्ताधारी भाजपा अपनी सोशल मीडिया टीम को ओर मजबूत करने में जुट गई है। बीजेपी उत्तराखंड की हर विधानसभा क्षेत्र में एक आईटी एक्सपर्ट की नियुक्त करेगी। इसके साथ ही बीजेपी वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर कम से कम 500 लोगों से जुड़ने और इंटरेक्ट करने की भी तैयारी कर रही है। निर्वाचन क्षेत्र के सभी लोगों को मोबाइल पर लिंक भेजा जाएगा। जिससे ये सभी एक साथ जुड़ सकेंगे। भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष ने पार्टी सोशल मीडिया टीम को चुनाव के मद्देनजर अति सतर्क होने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के मद्देनजर निर्वाचन आयोग के निर्देश पर अब सोशल मीडिया टीम को चुनाव प्रचार की रणनीति बदलनी होगी। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी जिम्मेदारी अब पार्टी सोशल मीडिया टीम की है।

हरदा ने शुरू की वर्चुअल रैली

सत्ता में वापसी के लिए कांग्रेस भी अपने वर्चुअल कार्यक्रम पर ज्यादा फोकस कर रही है। इसके लिए चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व सीएम हरीश रावत ने मोर्चा खोल दिया है। हरीश रावत लगातार अपने आवास से ही वर्चुअल रैली के जरिए लोगों से जुड़ रहे हैं। हरीश रावत फेसबुक और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को हथियार बनाकर ही प्रचार-प्रसार में जुटे हैं। हालांकि अब कोरोना के डर से हरीश रावत ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में भी बैठने का निर्णय लिया है। पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा है कि

कोरोना के बढ़ते हुये संक्रमण को लेकर क्योंकि मेरे घर सीमित स्थान है। मैंने तय किया है कि मैं प्रतिदिन 2 बजे से 4 बजे तक और यदि समय अधिक हुआ तो 5-6 बजे तक कांग्रेस भवन, 21 राजपुर रोड देहरादून में मिलूंगा। मेरा आग्रह है कि मैं चुनाव अभियान में भाग ले सकूं उसके हित में मेरे साथ सहयोग करें, क्योंकि मुझे अपने परिवार के लिए भी संक्रमण का खतरा पैदा हो गया है और आप सब कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण को देखते हुए सावधानी बरतें।

आप ने शुरू किया सबसे पहले वर्चुअल संवाद

उत्तराखंड में तीसरे विकल्प देने की बात कर रही आम आदमी पार्टी ने सबसे पहले उत्तराखंड में नव परिवर्तन संवाद की शुरूआत की। जिसमें हर दिन आप के बड़े नेता वर्चुअली जनता से जुड़ रहे हैं। इसके लिए सोशल मीडिया के हर प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जा रहा है। आप पहले ही दिन से उत्तराखंड में सोशल मीडिया के जरिए भाजपा, कांग्रेस पर प्रहार करने में जुटी है। जिसके लिए आप की एक खास टीम काम कर रही है।

ये भी पढ़ें-हरक सिंह ने त्रिवेंद्र सिंह के राजनीतिक अनुभव को बताया खुद से कम, कहीं असली वजह ये तो नहींये भी पढ़ें-हरक सिंह ने त्रिवेंद्र सिंह के राजनीतिक अनुभव को बताया खुद से कम, कहीं असली वजह ये तो नहीं

Comments
English summary
This time the election is being fought not from the war room but from the digital war, who is ahead, who has the power, know
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X