• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उत्तराखंड कांग्रेस में दर्जनों सीट पर बगावत, यमुनोत्री में दूसरे दावेदार ने लगाया टिकट के सौदे का आरोप

|
Google Oneindia News

देहरादून, 24 जनवरी। उत्तराखंड में कांग्रेस की 53 सीटों पर प्रत्याशियों के ऐलान के साथ ही 12 से ज्यादा सीटों पर बगावत हो गई है। ऐसे में कांग्रेस के लिए बागियों को मनाना सबसे बड़ी चुनौती होगी। पार्टी पर सबसे गंभीर आरोप यमुनोत्री सीट पर कांग्रेस के प्रबल दावेदार और ओबीसी प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष संजय डोभाल ने पार्टी पर पैसे लेकर टिकट देने का आरोप लगाया है। साथ ही निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। इसी तरह 12 से ज्यादा सीटों पर पार्टी के दूसरे दावेदारों ने निर्दलीय मैदान में उतरने का ऐलान कर पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है।

Rebellion over dozens of seats in Uttarakhand Congress, another contender in Yamunotri alleges ticket deal

यमुनोत्री सीट पर बवाल, पैसे में टिकट के सौदे का आरोप
उत्तराखंड में शनिवार देर रात कांग्रेस की पहली सूची जारी हुई। जिसमें 53 प्रत्याशियों के नाम पर मुहर लगी। पहली सूची सामने आते ही कांग्रेस में बगावत हो गई। सबसे पहले और ज्यादा बगावती तेवर यमुनोत्री सीट पर देखने को मिली। जहां कांग्रेस के प्रबल दावेदार माने जा रहे और कांग्रेस ओबीसी प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष संजय डोभाल को कांग्रेस पार्टी से टिकट नहीं मिला तो यमुनोत्री विधानसभा कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने सामूहिक इस्तीफा ​सौंपा। कांग्रेस ने यमुनोत्री से जिला पंचायत अध्यक्ष रहे ​दीपक बिजल्वाण को टिकट दिया है, जिसको लेकर जमकर विरोध हो रहा है। नाराज कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का आरोप है कि कांग्रेस पार्टी ने कुछ दिन पहले अचानक कांग्रेस में आए नेता को टिकट दे दिया, साथ ही दीपक पर भ्रष्ट्राचार के गंभीर आरोप भी लगे हैं। इससे नाराज होकर कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने अपने पदों से इस्तीफा दे दिया। साथ ही संजय डोभाल को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में समर्थन करने का फैसला लिया गया है। संजय डोभाल ने कहा कि मैंने यमुनोत्री विधानसभा में कांग्रेस पार्टी को मजबूत किया है, लेकिन कांग्रेस पार्टी ने मुझे टिकट न देकर मेरे साथ धोखा किया है। भ्रष्टाचार में लिप्त व्यक्ति को यमुनोत्री विधानसभा से कांग्रेस पार्टी का प्रत्याशी बनाया है, इसलिए मैंने और पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी से त्यागपत्र दे दिया है। संजय डोभाल ने कहा कि वह कांग्रेस से गांधी की पार्टी समझ कर जुड़े थे लेकिन भ्रष्टाचार में लिप्त व्यक्ति को टिकट देकर यह पार्टी अब दलालों की पार्टी बन चुकी है। मीडिया में दिए बयान में संजय डोभाल ने आरोप लगाया कि जिस व्यक्ति को कांग्रेस ने टिकट दिया है, वह खुद प्रचार कर रहा है कि उसने टिकट 5 करोड़ में खरीदा है। संजय ने कार्यकर्ताओं से माफी मांगी कि वे अपना​ टिकट खरीद नहीं सके।

कांग्रेस के लिए बागी कर सकते हैं मुश्किल खड़ी
कांग्रेस की पहली सूची जारी होते ही कांग्रेस में 12 से ज्यादा सीटों पर बगावती तेवर सामने आ चुके हैं। यमुनोत्री, घनसाली,धनोल्टी, राजपुर, कर्णप्रयाग, सहसपुर, रायपुर, यमकेश्वर, पौड़ी,बाजपुर, गंगोलीहाट, किच्छा, सितारगंज सीटों पर सबसे पहले दूसरे दावेदारों के बगावती तेवर सामने आए हैं। कांग्रेस के लिए इस समय उत्तराखंड में करो या मरो की स्थिति है। 2017 में 11 सीटों पर सिमटने वाली कांग्रेस इस समय पूर्ण बहूमत की सरकार लाने का दावा कर रही है। लेकिन जिस तरह से पार्टी में पहली लिस्ट में ही बगावती तेवर सामने आ रहे हैं। उसको लेकर पार्टी को गंभीरता से विचार करना होगा। पहली सूची जारी करते हुए कांग्रेस को भरोसा था कि जिन सीटों पर ज्यादा विवाद नहीं है, वहीं वे नाम फाइनल कर चुके हैं। लेकिन जब पहली सूची जारी होते ही पैसे में टिकट देने का गंभीर आरोप पार्टी पर लग रहा है तो दूसरी सूची के बाद पार्टी अपने कुनबे को कैसे संभालेगी, ये बड़ा सवाल है।

ये भी पढ़ें-जानिए रामनगर सीट क्यों हैं उत्तराखंड के लिए खास, जहां से पूर्व सीएम हरीश रावत खेल सकते हैं बड़ा दांवये भी पढ़ें-जानिए रामनगर सीट क्यों हैं उत्तराखंड के लिए खास, जहां से पूर्व सीएम हरीश रावत खेल सकते हैं बड़ा दांव

Comments
English summary
Rebellion over dozens of seats in Uttarakhand Congress, another contender in Yamunotri alleges ticket deal
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X