• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

हरिद्वार-यूपी बॉर्डर 20 जुलाई तक हुआ सील, सोमवती अमावस्या के स्नान पर भी रोक

|

हरिद्वार। 19 और 20 को हरिद्वार में सोमवती अमावस्या के पर्व पर लगने वाला मेला कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण रद्द हो गया है। मेला रद्द होने और कोरोना वायरस के केस बढ़ने के साथ ही हरिद्वार जिले की सीमाएं सील कर दी गई है। बता दें कि हरिद्वार से लगती उत्तर प्रदेश की सीमाएं 20 जुलाई तक बंद कर दी गई है। इतना ही नहीं, अगर कोई यात्री गलती से हरिद्वार आ जाता है तो उसे 14 दिन क्वारंटाइन किया जाएगा। साथ ही स्थानीय लोग इस दिन हरकी पैड़ी समेत प्रमुख घाटों पर स्नान नहीं कर पाएंगे।

जिला प्रशासन ने लिया यह सख्त फैसला

जिला प्रशासन ने लिया यह सख्त फैसला

जिला प्रशासन ने यह सख्त फैसला देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल और यूएसनगर में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजो को देखते हुए लिया है। प्रशासन के इस फैसले के बाद सोमवती अमावस्या पर श्रद्धालु गंगा घाट पर डुबकी भी नहीं लगा पाएंगे। बता दें कि कई सालों बाद सावन माह में पड़ रही सोमवती अमावस्या पर करोड़ों लोगों की भीड़ उमड़ने की आशंका थी। इसी को देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने मेले को रद्द किया है। साथ ही हरिद्वार की सीमाओं को 2 दिन के लिए पूरी तरह सील भी कर दिया है।

कोई हरिद्वार ना पहुंचे सके इसकी पूरी तैयारी की

कोई हरिद्वार ना पहुंचे सके इसकी पूरी तैयारी की

खास बात यह है कि गुरुवार को पुलिस ने फैसला लिया कि 19 और 20 जुलाई को बाहरी राज्यों से हरिद्वार आने वाले हर एक प्रत्येक नागरिक को उन्हीं के खर्च पर क्वारंटाइन किया जाएगा। वहीं स्थानीय लोगों को भी हरकी पैड़ी पर स्नान करने की इजाजत नहीं दी गई है। एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि मेले को रद्द किया गया है। कोई भी हरिद्वार ना पहुंच सके इसकी पूरी तैयारी कर ली गई है।

कांवड़ यात्रा को लेकर भी सुनाया गया था ऐसा आदेश

कांवड़ यात्रा को लेकर भी सुनाया गया था ऐसा आदेश

वहीं, कुछ दिन पहले कांवड़ यात्रा को लेकर भी ऐसा ही आदेश सुनाया गया था। उत्तराखंड सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगाते हुए निर्देश दिया था कि यात्री गंगा नदी से जल नहीं उठा सकेंगे। सावन महीने में कांवड़ियों की भीड़ को देखते हुए यह फैसला लिया गया था। आदेश में यह भी कहा गया कि कोई कांवड़ियां चोरी-छिपे हरिद्वार आता है तो उसे 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया जाएगा। यह भी कहा गया कि क्वारंटाइन का खर्च उसी व्यक्ति को उठाना पड़ेगा। सरकार ने ऐसे लोगों को हरिद्वार न आने की सलाह दी।

चार जिलों में अब हफ्ते के दो दिन रहेगा लॉकडाउन

चार जिलों में अब हफ्ते के दो दिन रहेगा लॉकडाउन

कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल और यूएसनगर में शनिवार और रविवार को दो दिन लॉकडाउन लगाने का फैसाल लिया है। यह फैसला अग्रिम आदेश तक जारी रहेगा। शुक्रवार देर शाम मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने यह आदेश जारी किया। इस दौरान कुछ खास शर्तों के तहत ही आवाजाही हो सकेगी। इसके लिए गाइडलाइन भी जारी कर दी गई है। बता दें, चार जिलों में लॉकडाउन घोषित करने के लिए सरकार ने दो जुलाई को जारी एसओपी में संशोधन किया है। दो जुलाई के आदेश में कुछ और शर्तों को जोड़ा गया है। एसओपी में कहा गया है कि अग्रिम आदेश तक यह पूर्ण बंदी लागू रहेगी।

ये भी पढ़ें:- उत्तराखंड के चार जिलों में अब हफ्ते के 2 दिन रहेगा लॉकडाउन, जानिए किसे और कहां मिलेगी छूट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Haridwar UP border sealed from today to 20 July, also ban on Somvati Amavasya Snan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X