• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उत्तराखंड में कांग्रेस का 6 सीटों पर अब भी मंथन, परिवारवाद के साथ रणजीत, किशोर पर सस्पेंस

|
Google Oneindia News

देहरादून, 25 जनवरी। उत्तराखंड में कांग्रेस ने अब तक 64 सीटों पर अपने प्रत्याशी मैदान में उतार दिए हैं, लेकिन अब भी 6 सीटों पर कांग्रेस फैसला नहीं ले पा रही है। जिन सीटों पर कांग्रेस के अंदर अब भी मंथन हो रहा है, उनमें नरेंद्र नगर, टिहरी, सल्ट, हरिद्वार ग्रामीण, रुड़की और चौबट्टाखाल शामिल है। इन सीटों पर कांग्रेस के लिए सबसे मुश्किल परिवारवाद पर भी फैसला लेना है। अब तक कांग्रेस ने हरीश रावत और हरक सिंह रावत के परिवार को एक-एक टिकट दिया है। हरीश रावत को पार्टी ने रामनगर सीट से मैदान में उतारा है, जबकि हरक सिंह रावत की बहू अनुकृति गुंसाई को लैंसडाउन सीट से प्रत्याशी बनाया गया है। अब कांग्रेस हाईकमान को हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत और हरक सिंह के चुनाव लड़ने को लेकर फैसला लेना है। अनुपमा रावत हरिद्वार ग्रामीण और हरक सिंह रावत चौबट्टाखाल से प्रबल दावेदार बताए जा रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस के लिए इन सीटों पर फैसला लेना आसान नहीं होगा।

6 सीटें कांग्रेस के लिए सबसे बड़ा चेलेंज

6 सीटें कांग्रेस के लिए सबसे बड़ा चेलेंज

इसके अलावा नरेंद्र नगर में भाजपा से कांग्रेस में आकर टिकट का दावा करने वाले ओमगोपाल रावत को लेकर पार्टी अब तक फैसला नहीं ले पाई है। टिहरी में कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय का रुख साफ न होने के कारण कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों ने ​टिकट होल्ड पर डाला हुआ है। सल्ट सीट पर रणजीत रावत को टिकट दिया जा सकता है। जबकि चौबट्टाखाल हरक सिंह को लेकर होल्ड पर रखा गया है। इस तरह से कांग्रेस 6 सीटों पर सबसे ज्यादा मुश्किल में नजर आ रही है। जिन पर हाईकमान सोच समझकर ही निर्णय लेगी। हालांकि जिन 11 सीटों पर कांग्रेस ने अपने पत्ते खोले हैं, उनमें कांग्रेस ने कुछ खास नहीं चौंकाया है।

हरीश रावत को रामनगर पर उतारना बड़ा दांव

हरीश रावत को रामनगर पर उतारना बड़ा दांव

सोमवार को जिन सीटों पर कांग्रेस ने प्रत्याशियों का ऐलान किया उनमें सबकी नजर रामनगर सीट पर रहेगी। हाईकमान ने रामनगर सीट पर उत्तराखंड में कांग्रेस चुनाव अभियान की कमान संभाल रहे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को प्रत्याशी बनाया गया है। जब​कि इस सीट पर सबसे बड़ा दावा रणजीत रावत का था। ऐसे में हरीश रावत को इस सीट पर रणजीत रावत समर्थकों की नाराजगी सहनी पड़ सकती है। बता दें कि हरीश रावत के रामनगर से चुनाव लड़ने की खबर सामने आने से पहले ही हरीश रावत का सोशल मीडिया में एक ऑडियो वायरल हो रहा था, जिसमें दावा किया गया कि हरीश रावत किसी कांग्रेसी कार्यकर्ता से बातचीत कर रामनगर से चुनाव लड़ने की इच्छा जता रहे हैं, जबकि दूसरी तरफ से रणजीत रावत के समर्थन में ही चुनाव लड़ाने की बात की जा रही है। हालांकि ऑडियो को लेकर​ किसी तरह की पुष्टि नहीं हो पाई, लेकिन इस तरह का माहौल बनाना ​कहीं न कहीं हरीश रावत के लिए आने वाले दिनों में मुश्किल हो सकता है।

दूसरी लिस्ट में 3 महिला प्रत्याशी चेहरे

दूसरी लिस्ट में 3 महिला प्रत्याशी चेहरे

इसके अलावा कांग्रेस ने दूसरी लिस्ट में जिन 11 प्रत्याशियों के नाम पर मुहर लगाई है, उनमें 3 महिला प्रत्याशी हैं। ज्वालापुर से बरखा रानी, लालकुआं से संध्या डालाकोटी, लैंसडौन से अनुकृति गुसाईं शामिल हैं। इसके अलावा डोईवाला से युवा चेहरे मोहित उनियाल, कैंट से एक बार फिर सूर्यकांत धस्माना, ऋषिकेश से जयेंद्र रमोला, झबरेड़ा से वीरेंद्र जाती, खानपुर से सुभाष चौधरी, लक्सर से अंतरिक्ष सैनी, कालाढूंगी से डॉ0 महेंद्र पाल को टिकट दिया गया है।

ये भी पढ़ें-जानिए रामनगर सीट क्यों हैं उत्तराखंड के लिए खास, जहां से पूर्व सीएम हरीश रावत खेल सकते हैं बड़ा दांवये भी पढ़ें-जानिए रामनगर सीट क्यों हैं उत्तराखंड के लिए खास, जहां से पूर्व सीएम हरीश रावत खेल सकते हैं बड़ा दांव

Comments
English summary
Congress still churns on 6 seats in Uttarakhand, Ranjit with familyism, suspense over Kishor
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X