• search
उत्तराखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

चंपावत का रण:सीएम धामी को जिताने के लिए आधी कैबिनेट,संगठन ने संभाला मोर्चा, कांग्रेस के दिग्गज मैदान से बाहर

|
Google Oneindia News

देहरादून, 19 मई। उत्तराखंड में 31 मई को होने वाले चंपावत उपचुनाव में भाजपा ने पूरी ताकत झौंक दी है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को रिकॉर्ड मतों से जीताने का दावा कर रही भाजपा के आधे से ज्यादा कैबिनेट मंत्रियों ने चंपावत में डेरा डाला हुआ है। वहीं चंपावत के रण में कांग्रेस के दिग्गजों ने पहले ही किनारा किया हुआ है। तो संगठन भी कुछ खास जोर नहीं लगा रही है। इधर पूर्व सीएम हरीश रावत ने 23 मई से चंपावत में प्रचार करने की बात की है। साफ है कि अब तक भाजपा का पलड़ा मजबूत नजर आ रहा है।

 Battle of Champawat - Half the cabinet and organization took over the front to win CM Dhami, Congress veterans still out of the field

कैबिनेट मंत्रियों से लेकर विधायक, संगठन के पदाधिकारियों ने डाला डेरा
चंपावत के रण में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ऐतिहासिक विजय दिलाने के लिए भाजपा संगठन और सरकार ने पूरी ताकत झौंकी हुई है। भाजपा सरकार के कैबिनेट मंत्रियों गणेश जोशी,धन सिंह रावत, चंदन राम दास, रेखा आर्य, सौरभ बहुगुणा चंपावत में डेरा डाले हुए हैं। विधायकों में राम सिंह कैड़ा, सुरेश गड़िया, फकीर राम टम्टा और शिव अरोड़ा घर-घर जाकर प्रचार कर रहे हैं। साथ ही संगठन के सभी पदाधिकारियों ने भी मोर्चा संभाला हुआ है। प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा टनकपुर में बूथों पर जाकर चुनाव के परिणामों की समीक्षा कर रही हैं तो वहीं प्रदेश उपाध्यक्ष और प्रभारी कैलाश शर्मा चम्पावत से मॉनिटरिंग कर रहे हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की पत्नी गीता धामी ने भी चंपावत में महिला मोर्चा के साथ जोर-शोर से प्रचार में जुटे हैं।
कांग्रेस के दिग्गजों का किनारा, संगठन भी कमजोर
इधर कांग्रेस संगठन चुनाव में मुख्यमंत्री को कड़ी टक्कर देने का जरुर दावा करती रही है लेकिन धरातल पर मजबूत विपक्ष नजर नहीं आ रहा है। मतदान की तारीख नजदीक देख प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा जरुर एक्टिव नजर आ रहे हैं। माहरा ने बनबसा में चंपावत उपचुनाव को लेकर रणनीति तैयार करने के साथ ही मंथन भी किया। इस दौरान राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ,उपनेता प्रतिपक्ष और खटीमा विधायक भुवन कापड़ी, विधायक हल्द्वानी सुमित हृदयेश समेत कई कार्यकर्ता मौजूद रहे। उधर अब तक कांग्रेस के प्रदेश स्तर के बड़े नेता चुनाव प्रचार से दूर ही नजर आ रहे हैंं। पूर्व सीएम हरीश रावत ने 23 मई से प्रचार करने की बात की है।

हरदा 23 मई से कूदेंगे प्रचार में

पूर्व सीएम हरीश रावत ने फेसबुक के जरिए कहा है कि वे 23 तारीख से चंपावत के गोरिया/गोलज्यू की शरण में जा रहे हैं। हरीश रावत ने कहा कि वे 23 मई को सायं 04:30 बजे बनबसा जनसंपर्क अभियान की शुरूआत करेंगे। उन्होंने कहा कि निर्मला गहतोड़ी की जीत लोकतंत्र की जीत है, उत्तराखंड की महिला शक्ति की जीत है, उनकी जीत उनके उस परिश्रम की जीत है जो उन्होंने कांग्रेस के विभिन्न पदों पर रहते हुए जिसमें जिला कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष पद भी सम्मिलित है, चंपावत जनपद के विकास के लिए काम किया। उन्होंने राज्य में समाज कल्याण के अध्यक्षा के रूप में किए गए उनके परिश्रम का जनता की तरफ से उपहार है। हरदा ने क​ामैं, निर्मला जी के साहस को सैल्यूट करते हुए भगवान गोलज्यू से प्रार्थना करता हूं कि निर्मला जी को विजयी बनाकर उत्तराखंड की एक सामान्य गृहिणी का जिसने समाज सेवा के लिए अर्पित किया है, उसको अपना आशीर्वाद दें और उनको विजयी बनाएं।

ये भी पढ़ें-चारधाम यात्रा पर निकलें तो यहां की गंगा आरती देखना न भूलें, रह जाएगा सपना अधूराये भी पढ़ें-चारधाम यात्रा पर निकलें तो यहां की गंगा आरती देखना न भूलें, रह जाएगा सपना अधूरा

Comments
English summary
Battle of Champawat - Half the cabinet and organization took over the front to win CM Dhami, Congress veterans still out of the field
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X