• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

महिला ने चार बच्चों को दिया जन्म, मुश्किल हालात पार कर डॉक्टरों ने झोली में डाली खुशियां

|
Google Oneindia News

गाजियाबाद, 12 जुलाई: राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां महिला ने अस्पताल में चार बच्चों को एक साथ जन्म दिया। डॉक्टरों के मुताबिक महिला और चारों बच्चे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। शुरुआत में कुछ दिक्कतें आई थीं, लेकिन उन्होंने हाईटेक तकनीकी की मदद से उसे दूर कर दिया। वहीं दूसरी ओर चार बच्चों के एक साथ पैदा होने की खबर सोशल मीडिया पर तेजी से फैली।

रात को हुई प्रसव पीड़ा

रात को हुई प्रसव पीड़ा

जानकारी के मुताबिक 12 जुलाई को रात तीन बजे महिला को प्रसव पीड़ा शुरू हुई। आनन-फानन में उनको गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में ले जाया गया। महिला की हालत काफी गंभीर थी और अल्ट्रासाउंड के दौरान ही चार बच्चे पेट में होने की बात पता चल गई थी। ऐसे में तुरंत डॉक्टर उसे ऑपरेशन थिएटर लेकर गए और सारी तैयारियां शुरू हुईं। रात होने के बावजूद वरिष्ठ स्‍त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. शशि अरोड़ा और उनकी टीम अस्पताल पहुंची। साथ ही महिला का सफल ऑपरेशन किया।

    Ghaziabad में IVF Technique से महिला ने दिया 4 बच्चों को जन्म । वनइंडिया हिंदी
    बाल रोग विशेषज्ञ भी थे मौजूद

    बाल रोग विशेषज्ञ भी थे मौजूद

    वहीं अस्पताल प्रबंधन ने वरिष्ठ नवजात शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. सचिन दुबे को भी बुला लिया था, जो ऑपरेशन के दौरान वहां पर मौजूद रहे। जन्म के तुरंत बाद उन्होंने चारों बच्चों की जांच की, जिसमें सभी स्वस्थ पाए गए। डॉक्टर के मुताबिक ये एक जटिल मामला है, ऐसे में बच्चों पर खतरा बना रहता है। जिस वजह से डॉक्टरों की एक टीम उनकी निगरानी कर रही है। चार बच्चों में तीन लड़के और एक लड़की शामिल है।

    क्या रहता है खतरा?

    क्या रहता है खतरा?

    डॉ. शशि के मुताबिक इस स्थिति को काब्रुप्लेट्स कहा जाता है। 20 साल पहले भी उन्होंने ऐसा मामला देखा था, जहां एक महिला ने चार बच्चे को जन्म दिया। उस दौरान महिला की डिलिवरी प्रेग्नेंसी के छठे महीने में ही हो गई थी। तब उतने उन्नत किस्म के उपकरण नहीं थे, जिस वजह से महिला की मौत हो गई। डॉक्टर के मुताबिक जब कोई महिला इस स्थिति से गुजरती है, तो उसको ब्लड प्रेशर और डायबिटीज होने का खतरा रहता है। साथ ही उनको नींद ना आना, थकान जैसी समस्याएं भी होती हैं। हालांकि अब मेडिकल साइंस ने काफी तरक्की कर ली है। जिस वजह से गर्भवती महिलाओं को ज्यादा दिक्कत नहीं उठानी पड़ती है।

    बेटी के जन्म पर मुंह मांगा इनाम नहीं मिला तो किन्नर बना हत्यारा, अपहरण कर जिंदा दफनायाबेटी के जन्म पर मुंह मांगा इनाम नहीं मिला तो किन्नर बना हत्यारा, अपहरण कर जिंदा दफनाया

    English summary
    Woman gives birth to four children in Ghaziabad Yashoda Hospital
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X