• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कौन हैं अभिजीत सिंह सांगा, जिन्होंने कहा- 'हमने 3 मंदिर मांगे थे, तुम नहीं माने...अब सारे लेंगे वापिस'

|
Google Oneindia News

कानपुर, 20 मई: भगवान शिव की नगरी काशी में पिछले कुछ दिनों से ज्ञानवापी मस्जिद को लेकर विवाद चल रहा है। अब इस विवाद में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कानपुर नगर के बिठुर विधानसभा सीट से विधायक अभिजीत सिंह सांगा भी कूद पड़े है। भाजपा विधायक ने ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर भड़काऊ बयान देते हुए कौरवों की राज्यसभा में भगवान श्रीकृष्ण के पांच गांवों को दिए जाने के प्रस्ताव से पूरे विवाद को जोड़कर पेश किया है। आइए जानते है कौन हैं अभिजीत सिंह सांगा।

कौन हैं अभिजीत सिंह सांगा

कौन हैं अभिजीत सिंह सांगा

अभिजीत सिंह सांगा, कानपुर नगर के बिठुर के रहने वाले हैं और उनका जन्म 2 अगस्त 1983 में हुआ था। अभिजीत सिंह सांगा ने कानपुर के वीएसएसडी कॉलेज से ग्रैजुएशन किया। अपने ग्रैजुएशन के दौरान वह छात्र राजनीति से जुड़े। अभिजीत सिंह सांगा ने अपने करियर की शुरूआत छात्र राजनीति से की और उसके बाद समाजवादी पार्टी में शामिल हुए। बता दें कि अभिजीत सिंह सांगा की मां समाजवादी पार्टी से ब्लॉक प्रमुख रही हैं।

2017 में चुनाव से पहले छोड़ दी थी कांग्रेस

2017 में चुनाव से पहले छोड़ दी थी कांग्रेस

अभिजीत सिंह सांगा का कुछ समय बाद सपा से भी मोह भंग हो गया और उन्होंने समाजवादी पार्टी छोड़कर 2012 में कांग्रेस जॉइन कर ली थी। कांग्रेस ज्वाइन करने के बाद उन्होंने पार्टी के टिकट पर बिठूर विधानसभा का चुनाव लड़ा, लेकिन हार गए। तब से कांग्रेस में ही सक्रिय रहे। लेकिन जनवरी 2017 में यूपी विधानसभ चुनाव से ठीक कुछ दिन पहले अभिजीत ने भाजपा जॉइन कर ली।

भाजपा के टिकट पर चुनाव जीते अभिजीत सिंह सांगा

भाजपा के टिकट पर चुनाव जीते अभिजीत सिंह सांगा

भाजपा ज्वॉइन करने के बाद 2017 में अभिजीत सिंह सांगा चुनाव लड़ा और सपा के मुनींद्र शुक्ला को 58,987 वोटों के अंतर से हराया। वहीं, यूपी चुनाव 2022 में सांगा ने मुनींद्र शुक्ला को 21,073 वोटों से मात दी थी। सांगा इस क्षेत्र में काफी पॉपुलर हैं और उन्हें कट्टर नेता के रूप में देखा जाता है। अभिजीत सिंह सांगा भाजपा के फायरब्रांड नेता माने जाते हैं।

हमने मांगे थे 3 मंदिर, तुम नहीं मानें...

भाजपा विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने गुरुवार 19 मई को ट्वीट करते हुए लिखा, '5 गांव नहीं दिए तो पूरा राज्य खोना पड़ा था दुर्योधन को ! हमने भी 3 मंदिर मांगे थे !! तुम नहीं माने... अब तैयार रहो सारे मंदिर वापिस लेंगे..।'

पहले भी दे चुके है विवादित बयान

पहले भी दे चुके है विवादित बयान

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अभिजीत सिंह सांगा अपने विवादित बयानों के लिए खासे चर्चित रहे हैं। उन्होंने किसान आंदोलन के दौरान 1984 जैसे दंगे वाली टिप्पणी कर विवाद खड़ा कर दिया था। तजिया को लेकर भी उनका विवादित बयान सामने आया था। इसमें उन्होंने कहा था कि देश में मोदी और प्रदेश में योगी की सरकार है।

ये भी पढ़ें:- सोशल मीडिया पर रील बनाने के लिए सुपरमैन की तरह उड़ना चाहता था मासूम, लेकिन हो गया ये हादसाये भी पढ़ें:- सोशल मीडिया पर रील बनाने के लिए सुपरमैन की तरह उड़ना चाहता था मासूम, लेकिन हो गया ये हादसा

Comments
English summary
Who is Abhijit Singh Sanga, who gave statement on Gyanvapi issue
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X