• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूपी: आरक्षित हुई प्रधानी की सीट तो रातोंरात ओबीसी लड़की से कर दी लड़के की शादी, अब बहू को लड़ा रहे चुनाव

|

देवरिया। उत्तर प्रदेश में इस समय त्रिस्तीय पंचायत चुनाव हो रहे हैं। आरक्षण को लेकर भी ये चुनाव चर्चा में हैं। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने चुनाव में 2015 के आधार पर आरक्षण लागू करने का आदेश दिया है। जिसके बाद कई सीटों पर आरक्षण के समीकरण बदल गए हैं। ऐसे में कई ऐसे लोगों को झटका भी लगा है, जो चुनाव लड़ने की तैयारी में थे लेकिन सीट उनकी जाति में ना आकर दूसरे वर्ग के लिए आरक्षित हो गई। ऐसे में कई लोग चुपचाप बैठ गए तो कुछ ने इसकी भी काट निकाल ली है। देवरिया जिले में तो सामान्य वर्ग से आने वाले एक स्थानीय नेता ने सीट पिछड़े वर्ग के लिए आरक्षित होने पर बेटे की शादी ओबासी महिला से कर दी।

गांव की सीट आरक्षित वर्ग में जाने पर लिया बेटे की शादी का फैसला

गांव की सीट आरक्षित वर्ग में जाने पर लिया बेटे की शादी का फैसला

देवरिया जिले के नारायनपुर गांव के सरफराज अहमद 2015 में प्रधानी का चुनाव लड़े और महज कुछ वोटों से हार गए। इस बार फिर वो चुनाव लड़ने की तैयारी में थे, कई महीने से लगातार लोगों से संपर्क भी कर रहे थे। सामान्य वर्ग से आने वाले सरफराज को तब झटका लगा जब हाईकोर्ट के आदेश के बाद आरक्षण सूची बदल गई और उनका गांव सामान्य से पिछड़े वर्ग में चला गया। सरफराज ने चुनाव लड़ने के लिए एक कमाल का तरीका निकाला और अपने बेटे सिराज की शादी पिछड़े वर्ग की एक लड़की से करा दी। अब वो बहू को प्रधानी का चुनाव लड़ाने की तैयारी कर रहे हैं।

चुनाव के लिए बेटे की शादी पर क्या बोले सरफराज

चुनाव के लिए बेटे की शादी पर क्या बोले सरफराज

सरफराज के अपने बेटे की आनन-फानन ओबीसी लड़की से शादी कराने का ये मामला चर्चा में है। इस पर उनका कहना है कि गांव के लोगों ने पिछले चुनाव में भी प्यार दिया और इस बार भी मुझे लोग चुनाव लड़ने को कह रहे थे। मैं जनरल हूं इसलिए सीट पिछड़ी जाति में जाने के बाद मैंने बेटे की शादी का फैसला लिया। हालांकि उनका कहना है कि ये कोई समझौता नहीं है क्योंकि दोनों परिवार पहले से एक-दूसरे को जानते थे और लड़का-लड़की समेत सभी की रजामंदी से ये शादी हुई है।

चार चरण में होंगे यूपी में चुनाव

चार चरण में होंगे यूपी में चुनाव

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव की अधिसूचना शुक्रवार को जारी हो गई है। चार चरण में राज्य में चुनाव हो रहे हैं। चुनाव आयोग के मुताबिक, पहले चरण का मतदान 15 अप्रैल, दूसरा चरण का 19 अप्रैल, तीसरा चरण 26 अप्रैल और चौथा चरण का मतदान 29 अप्रैल को होगा। सभी चरण की मतगणना 2 मई को होगी। पहले चरण की नामांकन की प्रक्रिया 3 अप्रैल से शुरू हो जाएगी। दूसरे चरण के नामांकन 7-8 अप्रैल को, तीसरे चरण का नामांकन 13 और 15 अप्रैल और चौथे चरण का नामांकन 17-18 अप्रैल को होंगे।

ये भी पढ़ें- यूपी पंचायत चुनाव 2021: इन 13 ग्राम पंचायतों में नहीं होगा ग्राम प्रधान पद का चुनाव, सामने आई ये वजह

English summary
uttar pradesh panchayat election father married his son with obc girl in deoria
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X