• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूपी में मुहर्रम पर जुलूस निकालने की इजाजत नहीं, गाइडलाइन पर उलमा ने जताई नाराजगी

|
Google Oneindia News

लखनऊ, अगस्त 02: उत्तर प्रदेश पुलिस ने रविवार को कोविड -19 महामारी को देखते हुए मुहर्रम के दौरान सभी प्रकार के धार्मिक जुलूसों को प्रतिबंधित लगा दिया है। इसे लेकर यूपी पुलिस ने दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। मुहर्रम को लेकर जिलों के पुलिस अधीक्षकों को भी निर्देश दे दिए गए हैं। साथ ही सरकार ने मुस्लिम धर्मगुरुओं से संवाद कर कोविड-19 के दिशा निर्देशों का भी ध्यान रखने को कहा है।

    UP Muharram Guideline: यूपी में मुहर्रम पर जुलूस निकालने की नहीं होगी इजाजत | वनइंडिया हिंदी
    UP Police disallowing all kinds of religious processions during Muharram, in view of Covid19

    यूपी के पुलिस महानिदेशालय (डीजीपी), मुकुल गोयल ने आदेश दिया कि राज्य में मुहर्रम को कोविड-उपयुक्त व्यवहार के पालन के साथ-साथ महामारी से निपटने के लिए प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए मनाया जाना चाहिए। इस गाइडलाइन के अनुसार, यूपी में 19 अगस्त को प्रशासन ने किसी भी तरीके का जुलूस निकालने पर पाबंदी लगाई है। मुकुल गोयल ने यह भी बताया कि मुहर्रम के दौरान किसी भी प्रकार के हथियार के प्रदर्शन की अनुमति नहीं होगी।

    उन्होंने पुलिस अधिकारियों को असामाजिक तत्वों के खिलाफ निवारक कार्रवाई करने और फर्जी और भड़काऊ सामग्री के लिए सोशल मीडिया पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं। डीजीपी ने पुलिस अधीक्षकों को धर्म गुरुओं से संवाद बनाने, सभी महत्वपूर्ण स्थलों की चेकिंग करने, बीट स्तर पर हालातों की समीक्षा कर व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए गए हैं। गाइडलाइन के मुताबिक संवंदनशील/साम्प्रदायिक एवं कंटेनमेंट जोन में पर्याप्त संख्या में पुलिस की तैनाती की जाएगी।

    मुकुल गोयल ने कहा, "मुहर्रम पर होने वाले सभी कार्यक्रमों पर शांति समिति की बैठक में निर्णय लिया जाए। उधर मोहर्रम को लेकर डीजीपी कार्यालय से जारी की गई गाइडलाइन की भाषा पर शिया उलमा ने सख्त नाराजगी जताई है। उन्होंने इस पत्र को वापस लेकर ड्राफ्ट तैयार करने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। दरअसल डीजीपी कार्यालय से मोहर्रम को लेकर जारी दिशा निर्देश में शिया समुदाय की ओर से तबर्रा पढ़ने की बात कही गई।

    नीतीश कुमार बोले- हमारी पार्टी में कोई विवाद नहीं, सभी की सहमति से हुई नियुक्तिनीतीश कुमार बोले- हमारी पार्टी में कोई विवाद नहीं, सभी की सहमति से हुई नियुक्ति

    इसमें कहा गया कि कुछ असामाजिक तत्व जानवरों की पीठ पर और पतंगों पर ऐसी बातें लिखकर उड़ाते हैं जिन पर सुन्नी समुदाय को ऐतराज होता है। इसको लेकर अमन बिगड़ने की आशंका जताई गई। इसको लेकर शिया चांद कमेटी के अध्यक्ष मौलाना सैफ अब्बास नकवी ने सख्त नाराजगी जताते हुये कहा कि गाइडलाइन में बीते 40 साल पुरानी बातों को खोद कर शिया समुदाय पर गलत इल्जाम लगाए गए हैं।

    English summary
    UP Police disallowing all kinds of religious processions during Muharram, in view of Covid19
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X