• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

यूपी चुनाव से पहले योगी सरकार ने 15 दिसंबर से बुलाया शीत सत्र, जानिए क्या है इसके मायने

|
Google Oneindia News

लखनऊ, 07 दिसंबर: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले चुनाव से पहले अब योगी सरकार पूरी तरह से अपनी तैयारियों में जुट गई है। सरकार ने 15 दिसंबर से शीत सत्र शुरू करने का फैसला किया है। सूत्रों की माने तो सरकार इसके जरिए लोकलुभावन योजनाओं और मेगा परियोजनाओं के लिए अनुपूरक बजट लाएगी। उत्तर प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र 15 दिसंबर से शुरू होगा। यह राज्य विधानसभा के मौजूदा कार्यकाल का आखिरी सत्र हो सकता है। जहां योगी सरकार आने वाले वित्त वर्ष के पहले चार महीनों के लिए वोट ऑन अकाउंट रखेगी, वहीं विधानसभा चुनावों के मद्देनजर नई लोकलुभावन योजनाओं के साथ-साथ चल रही और आगामी मेगा परियोजनाओं के लिए अनुपूरक बजट पेश कर सकती है।

योगी आदित्यनाथ

कुछ नई परियोजनाओं का ऐलान कर सकती है सरकार

काशी-विश्वनाथ कॉरिडोर के उद्घाटन और अयोध्या में चल रहे राम मंदिर के निर्माण के बाद, राज्य सरकार मथुरा के लिए कुछ नई परियोजनाओं की घोषणा कर सकती है। अनुपूरक बजट में योगी सरकार मथुरा की नई आध्यात्मिक और पर्यटन परियोजनाओं के लिए प्रावधान कर सकती है. प्रस्तावित अनुपूरक बजट में गंगा एक्सप्रेस-वे, जेवर एयरपोर्ट और गोरखपुर मेट्रो के लिए वित्तीय प्रावधान किए जा सकते हैं। इसके अलावा राज्य सरकार छात्रों की छात्रवृत्ति के लिए नए और अतिरिक्त प्रावधान कर सकती है।

योगी सरकार का अंतिम सत्र होगा

विधानसभा सचिवालय के सूत्रों के मुताबिक आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर योगी सरकार अगले वित्त वर्ष के पहले चार महीनों के लिए खातों पर वोट डालेगी और इसका आकार 1.75 लाख करोड़ रुपये हो सकता है। साथ ही एक अनुपूरक बजट पेश किया जा सकता है जो इस वित्त वर्ष में दूसरा बजट होगा। हालांकि, यूपी विधानसभा के शीतकालीन सत्र का अंतिम कार्यक्रम अभी तैयार नहीं हुआ है, लेकिन पता चला है कि विधानसभा चुनाव से पहले सरकार के व्यस्त कार्यक्रम को देखते हुए यह कार्यक्रम छोटा होगा।

सत्र की शुरुआत के अगले दिन काशी विश्वनाथ धाम में होगी बैठक

राज्य मंत्रिमंडल ने सोमवार को 15 दिसंबर से विधानसभा का शीतकालीन सत्र बुलाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। शीतकालीन सत्र शुरू होने के अगले दिन वाराणसी में योगी कैबिनेट की बैठक होगी। पहली बार राज्य मंत्रिमंडल की बैठक किसी मंदिर परिसर में होगी। कैबिनेट की बैठक काशी-विश्वनाथ मंदिर परिसर में होने की संभावना है। पिछले साल यूपी कैबिनेट की बैठक भी प्रयागराज कुंभ मेला स्थल पर बुलाई गई थी। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13 दिसंबर को काशी-विश्वनाथ कॉरिडोर के पहले चरण का उद्घाटन करेंगे और इसी स्थान पर यूपी कैबिनेट की बैठक बुलाई गई है।

योगी सरकार ने फरवरी में पेश किया था पेपरलेस बजट

योगी आदित्यनाथ सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 का बजट राज्य के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में पेश किया था। सीएम योगी ने अपने कार्यकाल के अंतिम बजट के लिए वित्त मंत्री की सराहना करते हुए कहा कि बजट को सभी वर्गों के उत्थान को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। यह बजट युवाओं, गरीबों, महिलाओं और किसानों को समर्पित है। उन्होंने पेपर लेस बजट के लिए वित्त मंत्री को विशेष धन्यवाद दिया। जानिए योगी सरकार के बजट में युवाओं के लिए क्‍या ऐलान क‍िए थे।

यह भी पढ़ें- लाल टोपी पर छिड़ा संग्राम, जानिए पूरब से उठा यह भी पढ़ें- लाल टोपी पर छिड़ा संग्राम, जानिए पूरब से उठा "रेड अलर्ट" का सवाल तो पश्चिम से क्या आया जवाब

Comments
English summary
the Yogi government called a cold session from December 15
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X