• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

स्वामी अग्निवेश ने मोदी-भागवत को दी चुनौती, राफेल मामले में सरकार को बताया अमीरों का दलाल

|

वाराणसी। भाजपा से बिदके हुए स्वामी अग्निवेश आज एक बार फिर भाजपा और मोदी पर जमकर बरसे। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए राफेल मामले पर कहा कि राफेल में दलाली कराई जा रही है। अमीरों का खजाना बढ़ाने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया है। अग्निवेश का ये इशारा भारत के उद्योगपति अंबानी और अडानी जैसे परिवारों की ओर है। उन्होंने कहा कि राफेल मामले में सरकार धंसी हुई है। पूरी पारदर्शिता के साथ बहस होने के अलावा और कोई रास्ता नहीं हो सकता है।

स्वामी अग्निवेश ने मोदी-भागवत को दी चुनौती, राफेल मामले में सरकार को बताया अमीरों का दलाल

यही नहीं उन्होंने राहुल गांधी का समर्थन करते हुए बोला कि राहुल सही कहते हैं। रक्षा मंत्री को राफेल मंत्री इसलिए कहा है क्योंकि वो जरूरत से ज्यादा डिफेंड कर रही हैं। सरकार को बचाने में उनको समझदारी से काम लेना चाहिए। उनके ऊपर प्रधानमंत्री को बचाने की बड़ी जिम्मेदारी है। यही नहीं अग्निवेश ने अनिल अंबानी पर आरोप लगाया कि उन्होंने फ्रांस के प्रधानमंत्री की महिला मित्र से सौदेबाजी कराई। उसको अपनी तरफ से पैसे देकर रिश्वत और फिल्म बनाने के लिए 50-100 करोड़ देते हैं। ये सारी चीजें जांच की परिधि में आनी चाहिए। जेपीसी से सरकार क्यो भाग रही है जेपीसी क्यों गठित नहीं हो रही है।

तीन तलाक का अध्यादेश है राजनैतिक लाभ

अग्निवेश ने बोला कि जब मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने लिख कर दे दिया कि निकाहनामे में 3 तलाक के खिलाफ शर्ते लिखा देंगे कि तीन तलाक नही दिया जा सकता। लेकिन मोदी सरकार इसको जल्दबाजी में पास कराकर क्रेडिट लेने की कोशिश कर रही है, वो शोभनीय नहीं है। विपक्ष की बातों को भी इनकॉरपोरेट करें कि 3 साल तक उनको(पीड़िता) को गुजारा भत्ता कौन देगा? वरना इस मामले को सीधे संसद में बहस कराकर पास कराना चाहिए था। तीन तलाक पर राजनैतिक लाभ के लिए मोदी सरकार रात के 12 बजे अध्यादेश जारी कर रही है।

स्वामी अग्निवेश ने मोदी-भागवत को दी चुनौती, राफेल मामले में सरकार को बताया अमीरों का दलाल

मोदी और भागवत कर ले मुझसे शास्त्रार्थ

स्वामी अग्निवेश ने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत को सलाह देते हुए कहा कि मॉब लिंचिंग की बात करना शोभा नही देता। मॉब लिंचिंग की बात करने वाले हत्यारे को सजा क्यों नहीं दिलवा रहें हैं। मेरे साथ हुई घटनाओं की भी निन्दा नहीं की। मैं तो काऊ लिफ्टिंग और गौ मांस खाने का काम नहीं कर रहा था। मेरे ऊपर क्यों हमला हुआ, मैं जानना चाहता हूं? यही नहीं उन्होंने मोहन भागवत और मोदी को खुला चैलेंज देते हुए कहा कि ये मोदी जी का संसदीय क्षेत्र है और मैं वाराणसी में दोनो को शास्त्रार्थ की चुनौती दे रहा हूं। अपनी राजनीति को चमकाने के लिए हजारों-लाखों वर्ष पुरानी हिन्दू धर्म का सरकार गला घोट रही है। अग्निवेश ने कहा मैं कोई पार्टी नहीं बना रहा हूं, मैं कोशिश कर रहा हूं कि सारी विपक्षी पार्टियां एकजुट हों।

छत्तीसगढ़: इस मंत्री की हत्या की साजिश रच रहे नक्सली, खुफिया रिपोर्ट में हुआ खुलासा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
swami agnivesh comment on modi and bhagwat, sai they are agent of rich people in varanasi
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X