• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कहीं जाम में फंसा दूल्हा तो कहीं रोकी ट्रेन, तस्वीरों में देखिए भारत बंद का असर

|
Google Oneindia News

लखनऊ। 08 दिसंबर, दिन मंगलवार को किसानों ने भारत बंद का ऐलान किया है, वो कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले 13 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए है। तो वहीं, उत्तर प्रदेश में भारत बंद का मिलाजुला असर देखने को मिल रहा है। भारत बंद और किसान आंदोलन के समर्थन में राजनीतिक पर्टियों के नेता व कार्यकर्ता जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे है। तो वहीं, भारत बंद लेकर जहां आवागमन प्रभावित होना शुरू हो चुका है वहीं, बिजनौर में एक दूल्हा भी जाम में फंस गया।

'मैं तहसीलदार हूं, मुझे तो निकलने दो'

'मैं तहसीलदार हूं, मुझे तो निकलने दो'

भारत बंद के समर्थन में भाकियू किसान यूनियन के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने मेरठ के जिटौली कट के नजदीक जाम लगा दिया। इसी दौरान तहसीलदार सदर शिल्पा एरन सरकारी गाड़ी से जानी में किसानों से ज्ञापन लेने के लिए जा रही थीं कि किसानों ने उनकी गाड़ी को रास्ते में ही रोक लिया। सदर शिल्पागाड़ी से उतरी और कहने लगी भाई मैं तहसीलदार हूं, मेरी गाड़ी को तो निकलने दो। आप लोगों ने रास्ता क्यों रोका है। सरकारी गाड़ी तो जाने दो। काफी देर तक तहसीलदार बोलती रहीं लेकिन किसी ने एक न सुनी। काफी देर तक किसानों ने उन्हें सड़क पर ही रोके रखा।

जाम लगाने से पहले लिया हिरासत में

जाम लगाने से पहले लिया हिरासत में

बंद का समर्थन कर मुजफ्फरनगर में जाम लगाने से पहले रालोद जिलाध्यक्ष अजीत राठी, जिला उपाध्यक्ष विकास बालियान, ब्रजवीर सिंह समेत अनेक रालोद नेताओं को पुलिस ने घरों से ही हिरासत में लिया। रालोद ने जनपद में चार जगह जाम लगाने की घोषणा की थी।

मेरठ में ड्रोन से की जा रही है निगरानी

मेरठ में ड्रोन से की जा रही है निगरानी

भारत बंद को लेकर पुलिस चप्पे-चप्पे पर नजर रखने के लिए ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल कर रही है। तो वहीं, मेरठ के लिए जिलाधिकारी के बालाजी व एसएसपी अजय साहनी ने बेगमपुल पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। हालांकि शहर व देहात के सभी बाजार सामान्य दिनों की तरह ही खुले हैं। पुलिस पूरी तरह मुस्तैद है।हालांकि बाईपास स्थित जिटौली कट पर भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने ट्रैक्टर ट्रॉली लगाकर हाईवे को जाम कर दिया। इस बीच यात्रियों से तीखी नोकझोंक भी हुई, जाम में फंसी दो एंबुलेंस को भाकियू कार्यकर्ताओं ने और पुलिस ने निकलवाया।

पीलीभीत में अधिकारियों का आरोप किसानों ने की ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश

पीलीभीत में अधिकारियों का आरोप किसानों ने की ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश

पीलीभीत जिले में भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले हजारों की संख्या में किसान ट्रैक्टर के साथ सड़क पर निकल आए और नेशनल हाईवे 730 पर जाम लगा दिया। इस दौरान सीओ पुरनपुर व एसडीएम पुरनपुर एवं पुरनपुर कोतवाल ने किसानों को रोकने और समझाने का प्रयास किया। लेकिन वो अधिकारियों की बात सुनने को तैयार नहीं थे। तो वहीं, अधिकारियों का आरोप किसानों ने उन पर ट्रैक्टर चढाने की कोशिश की है। हालांकि जाम में फंसी हुई एम्बुलेंस को किसानों ने रास्ता देकर जाने दिया।

सपा नेताओं ने रोकी ट्रेन

सपा नेताओं ने रोकी ट्रेन

प्रयागराज में किसानों के समर्थन में विपक्षी पार्टियों का प्रदर्शन शुरू हो गया है। सपा कार्यकर्ताओं ने प्रयागराज स्टेशन के आउटर पर बुंदेलखंड एक्सप्रेस ट्रेन को रोक दिया है। ग्वालियर से मडुवाडीह जाने वाली ट्रेन को भी बीच रास्ते में रोक दिया। सपा कार्यकर्ता ट्रेन के इंजन पर चढ़कर प्रदर्शन किया और कृषि बिल वापस लिए जाने की मांग की।

ये भी पढ़ें:- 'यह लड़ाई आपकी थाली भरने वालों और अरबपतियों की थैली भरने वालों के बीच है', भारत बंद पर प्रियंका गांधी ने कहाये भी पढ़ें:- 'यह लड़ाई आपकी थाली भरने वालों और अरबपतियों की थैली भरने वालों के बीच है', भारत बंद पर प्रियंका गांधी ने कहा

English summary
see the effect of bharat bandh in pictures
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X