विधानसभा में मिले विस्फोटक पर असमंजस में यूपी के अधिकारी, किसी के पास नहीं सही जानकारी!

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा में संदिग्ध पाउडर मिलने के मामले में आए दिन नया मोड़ सामने आ रहा है। दरअसल, पाउडर मिलने के बाद से लेकर मंगलवार (18 जुलाई) तक अधिकारियों में समन्वय की कमी दिखी। कोई कह रहा है कि जांच रिपोर्ट गुरुवार तक आ जाएगी तो कोई कह रहा है कि अगले दो दिनों के भीतर इसे भेजा जांच के लिए भेजा जाएगा।

विधानसभा में मिले विस्फोटक पर असमंजस में यूपी के अधिकारी, किसी के पास नहीं सही जानकारी

सूत्रों के अनुसार 12 जुलाई को संदिग्ध पाउडर मिलने के बाद लखनऊ पुलिस और विधानसभा की सुरक्षा में तैनात अफसरों ने इस जानकारी आतंक निरोधी दस्ते (ATS) को नहीं दी। 13 जुलाई को एफएसएल रिपोर्ट आ जाने के बाद 14 जुलाई को ATS को इस मामले की खबर दी गई। शुरुआत में आई रिपोर्ट को आखिरी मानते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इसकी जानकारी दी।

अधिकारी कर रहे अलग-अलग दावा

पुलिस और गृह विभाग के अधिकारी यह दावा कर रहे हैं कि पाउडर का सैंपल जांच के लिए नहीं भेजा गया लेकिन क्यों नहीं भेजा गया यह नहीं बता रहे। पुलिस अधिकारी यहां तक बताने में अक्षम हैं कि रिपोर्ट कब तक आएगी? प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने रिपोर्ट गुरुवार यानी 20 जुलाई तक आने का दावा किया है वहीं ATS के आईजी असीम अरुण का कहना है कि अभी यह तय करेंगे कि सैंपल भेजना कहां है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा में विस्फोटक 12 जुलाई को मिला था लेकिन ये मामला मीडिया में 14 जुलाई को आया। जानकारी के अनुसार विधानसभा में पीईटीएन विस्फोटक मिला, जिसे मेटल डिटेक्टर भी नहीं पकड़ पाता है।

150 ग्राम मिला था विस्फोटक

11 जुलाई से बजट सत्र प्रारंभ हुआ है, इसके बाद जब 12 जुलाई को बजट सत्र के दौरान सदन चलता है तो सभी विधायक यहां रहते हैं, इस दौरान मार्शल और विधानभवन से जुड़े कर्मी को छोड़कर कोई तीसरा यहां नहीं आ सकता है। लेकिन नेता प्रतिपक्ष की ठीक तीसरी सीट पर जब 12 जुलाई को यहां कर्मी और मार्शल आए थे, तो उन्हें पुड़िया में ये सामग्री प्राप्त हुई थी।

ये भी पढ़ें: गोवा विधानसभा में बोले पर्रिकर- बीफ के लिए पड़ोसी राज्यों से होती रहेगी खरीद

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Officers of uttar pradesh are confused in petn case
Please Wait while comments are loading...