• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Covid-19: नोएडा में तेजी से भर रहे ICU बेड्स, अधिकारियों ने बताई ये वजह

|

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। जिस वजह से अस्पतालों पर भी भार बढ़ता जा रहा है। राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा की बात करें तो वहां पर तेजी से ICU बेड भर रहे हैं, हालांकि कई अस्पताल ऐसे भी हैं जो अपनी क्षमता बढ़ा रहे हैं। मौजूदा वक्त में गवर्नमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (GIMS) के सभी 25 ICU बेड भरे हैं। ऐसे में अगर कोई वहां पर गंभीर हालत में पहुंचता है, तो उसे दूसरे अस्पताल का रुख करना पडे़गा।

corona

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक नोएडा के शारदा अस्पताल में 60 आईसीयू बेड में से आधे भरे हैं। ऐसे में जल्द ही अस्पताल इनकी संख्या बढ़ाकर 140 करने वाला है। वहीं फोर्टिस की बात करें तो वहां के सभी 8 बेड फुल हैं, जबकि कैलाश अस्पताल के 57 बेडों में से 27 पर मरीज भर्ती हैं। नोएडा एक्सटेंशन के अस्पतालों को देखें तो वहां के यथरथ अस्पताल में 100 में से 90 भरे हैं, जबकि जेपी अस्पताल में 50 में से सिर्फ 10 ही खाली हैं।

कोरोना वायरस: महाराष्ट्र सरकार ने शुरू किया 'मेरा परिवार-मेरी जिम्मेदारी' कैंपेन

गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपक के मुताबिक आईसीयू में बढ़ रही मरीजों की संख्या उपचार में देरी भी हो सकती है। सभी को ये याद रखना चाहिए कि लक्षण दिखने के अगले दो तीन दिन बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। कई मरीज लापरवाही बरतते हैं और बाद में जब उनका ऑक्सीजन लेवल कम हो जाता है तो उन्हें आईसीयू या ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखना पड़ता है। सीएमओ के मुताबिक अभी तक उनकी टीम ने कोई ऐसा मामला नहीं देखा, जहां होम आइसोलेशन में रह रहे शख्स को सीधे आईसीयू में लाया गया हो, क्योंकि उनकी लगातार निगरानी होती रहती है। मौजूदा वक्त में करीब 40-50 प्रतिशत पॉजिटिव मरीज घर पर ही क्वारंटीन हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Most of the ICU beds filled in Noida Hospital Due to corona
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X