• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

अखिलेश यादव ने वरिष्ठ शिक्षक सम्मेलन को किया सम्बोधित, मंच से भाजपा पर रहे हमलावर

|

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज पार्टी मुख्यालय लखनऊ में वरिष्ठ शिक्षक सम्मेलन में भाग लिया। यहां मंच से बोलते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार में ना शिक्षकों का सम्मान हो रहा है ना ही सरकार को विद्यार्थियों की चिंता है। इस सरकार के आने के बाद जानें कितने की अभ्यर्थियों और शिक्षामित्रों ने आत्महत्या कर ली है। उन्होंने इस दौरान बैलेट पेपर के लिए आगामी चुनाव कराने की मांग की। पूरे सत्र के दौरान वह भाजपा पर हमलावर रहे।

lucknow akhilesh yadav address the senior teacher summit in sp party office

इस सम्मेलन का आयोजन लखनऊ में सपा कार्यालय में किया गया था। शिक्षाविदों के सम्मेलन में शिक्षक बोले कि राजनीति में खोखलापन की स्थिति बन गई है। अखिलेश सरकार के पक्ष में बोलते हुए शिक्षकों ने कहा कि उन्होंने सर्व प्रथम शिक्षकों-कर्मियों को सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुरूप वेतन दिया था। वहीं भाजपा सरकार ने तो पेंशन ही रोक दी थी। शिक्षक समाज अपने विचारों से समाजवादी पार्टी का सहयोग करेंगे। इस दौरान उन्होंने अखिलेश यादव के कार्यकाल की उपलब्धियां भी गिनाई।

अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने यूपी डायल 100 की व्यवस्था की थी। इस नम्बर से काल करने पर 10-15 मिनट में पुलिस घटना स्थल पर पहुंच जाती। महिलाओं की सुरक्षा के लिए 1090 सेवा शुरू की गई थी। समाजवादी सरकार में 18 लाख लैपटाप बांटे गए। भाजपा सरकार से इस तरह की आशा करना बेकार है। यहां प्राथमिक विद्यालयों की स्थिति को सुधारा जाना चाहिए। समाजवादी सरकार ने नई डिजायन के प्राइमरी स्कूल बनाने की शुरूआत की थी किन्तु भाजपा सरकार ने उसे बर्बाद कर दिया। पूरे सत्र के दौरान अखिलेश यादव भाजपा पर हमलावर रहे।

बरेली: घर के बाहर खड़े होकर शराब पीने से मना किया तो पड़ोसियों ने कर दी हत्या

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
lucknow akhilesh yadav address the senior teacher summit in sp party office
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X