मुरादाबाद निकाय चुनाव में भाजपा का खेल बिगाड़ने उतरे बसपा से लाखन सिंह सैनी

Subscribe to Oneindia Hindi

मुरादाबाद। 29 नवंबर को होने वाले निकाय चुनाव के तीसरे चरण के लिए मुरादाबाद में चारों प्रमुख पार्टियों ने अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। पहली बार पार्टी सिंबल पर चुनाव लड़ रही बहुजन समाज पार्टी ने भी मंगलवार को अपने प्रत्याशी की घोषणा कर दी। बसपा ने जातीय समीकरण के आधार पर एडवोकेट लाखन सिंह सैनी को अपना प्रत्याशी बनाया है। तीन लाख से अधिक हिन्दू आबादी में करीब 47 हजार सैनी वोट हैं। साथ ही 36 हज़ार से अधिक जाटव वोट हैं, जिसके आधार पर बसपा अपने प्रत्याशी को बहुत मजबूत स्थिति में मान रही है।

Lakhan Singh Saini BSP candidate for mayor post in Moradabad

बसपा प्रत्याशी लाखन सिंह सैनी पेशे से वकील हैं और मुरादाबाद में ही वकालत करते हैं। लाखन सिंह सैनी बसपा के पुराने कार्यकर्ता हैं। 2012 के चुनाव में मुरादाबाद की बिलारी विधानसभा से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़े थे, जिसमें 1200 वोट के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था। 2014 के लोकसभा चुनाव के लिए सबसे पहले बसपा ने अपना उम्मीदवार बनाया था, लेकिन चुनाव से पहले लाखन सिंह सैनी का टिकट काट कर तारा चंद्र सैनी शास्त्री का टिकट कर दिया था। चुनाव आते ही इनका भी टिकट काट कर मेरठ के याकूब कुरैशी को लोकसभा चुनाव में उतारा था।

निकाय चुनाव में सपा से पूर्व विधायक हाजी यूसुफ अंसारी व कांग्रेस से रिजवान कुरैशी को मैदान में उतारा है। वहीं, भाजपा ने मौजूदा मेयर विनोद अग्रवाल को टिकट दिया है। बसपा ने जब तक अपने प्रत्याशी की घोषणा नहीं की थी, तब तक भाजपा की जीत पक्की मानी जा रही थी।

लाखन सिंह को टिकट मिलने से बिगड़ सकता है खेल
बसपा से लाखन सिंह सैनी का टिकट होने से बसपा भाजपा का खेल बिगाड़ सकती है। वैसे तो सैनी जाति का वोट भाजपा के पाले में जाता है, लेकिन बसपा के जाति समीकरण से भाजपा और बसपा की जीत का समीकरण सैनी और जाटव बिरादरी का वोट निर्णायक भूमिका में रहेगा।

Read Also: नोटबंदी: एक साल का हुआ खजांची, बैंक की लाइन में लगी मां ने दिया था जन्म

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lakhan Singh Saini BSP candidate for mayor post in Moradabad.
Please Wait while comments are loading...