• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गायत्री प्रजापति के साथियों ने किया हमला, महिला ने CM योगी को खून से लिखी चिठ्ठी

|

अमेठी। यूपी के अमेठी ज़िले में बुधवार को डीएम के जनता दरबार में सनसनीखेज मामला पेश आया। जब मुंशीगंज थाने के घाटमपुर गांव की शकुन्तला देवी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने खून से लिखा लेटर डीएम को देते हुए न्याय की गुहार लगाई है। इस लेटर में महिला ने रेप के आरोपी पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति और उनके सहयोगी पिंटू सिंह के आतंक से निजात दिलाने की भी मांग किया है।

क्या है पूरा मामला

क्या है पूरा मामला

गौरतलब रहे कि मुंशीगंज थाना क्षेत्र के घाटमपुर निवासी कृष्ण कुमार सिंह का गांव के ही विजय कुमार सिंह से विवाद चल रहा है। विजय सिंह सपा सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रजापति के के सहयोगी अमरेंद्र सिंह उर्फ पिंटू के करीबी बताए जाते हैं। आरोप है कि विजय ने गायत्री प्रजापति की शह पर कृष्ण कुमार सिंह की जमीन पर कब्जा कर लिया। शकुंतला देवी, कृष्ण कुमार सिंह की पत्नी हैं।

गायत्री के सहयोगियों ने 3 बार किया अटैक

गायत्री के सहयोगियों ने 3 बार किया अटैक

शकुंतला देवी की बेटी नंदनी ने बताया कि 27 अप्रैल 2015 को 50 लोगों ने उसके घर पर हमला किया था और उसके बाद से 3 हमले और हुए। 8 जून को 2016 को हुए हमले में तो उसकी मां शकुन्तला को गम्भीर चोटें आई थीं और 3 महीने तक मेडिकल कालेज लखनऊ में शकुन्तला का इलाज चला था। नदंनी ने बताया कि इतना ही नहीं आरोपियों ने पुलिस में उल्टे उनके ही नाम दो फर्जी एफआइआर दर्ज करा रखी है। पीड़िता ने बताया कि गायत्री प्रजापति के जेल जाने के बाद भी अमेठी में अभी तक उनका ही राज चल रहा है। पुलिस भी हमें ही धमकी देती है।

अधिकारियों ने 4 महीनों तक नहीं सुना

अधिकारियों ने 4 महीनों तक नहीं सुना

वहीं योगी सरकार आने के बाद पीडित परिवार ने यहां से लेकर दिल्ली तक न्याय की आश में लिखा पढी किया। नन्दनी बताती है कि 4 दिन पहले लखनऊ जाकर महिला विकास मंत्री स्वाति सिंह, भूमि विकास मंत्री बलदेव सिंह दोनों लोगों से मिलें। मंत्रियों ने फोन किया तो उन्हें भ्रमित करते हुए बताया कि भूमि विवादित है दीवानी दायर है। जिसके बाद आज मां ने सीएम योगी आदित्यनाथ को अपने खून से लेटर लिखकर डीएम को देते हुए न्याय की गुहार लगाई है।

डीएम के आदेश पर कुर्क हुई जमीन

डीएम के आदेश पर कुर्क हुई जमीन

फिलहाल इस मामले मे अमेठी की एसडीएम प्रियंका सिंह ने बताया कि डीएम योगेश कुमार के निर्देश पर राजस्व विभाग के अधिकारियों को लेकर ज़मीन की पैमाइश कराई गई है। विवाद को देखते हुए ज़मीन को कुर्क कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि जांच जारी है, जांच के बाद ही कोई कार्यवाई सम्भव है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
gayatri prajapati aide assault, women wrote a letter from blood to CM Yogi
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X