यूपी पुलिस की कुख्यात बदमाश से मुठभेड़, सर पर 1 लाख का इनाम

Subscribe to Oneindia Hindi

आजमगढ़। दिल्ली के लेकर यूपी के लिए आतंक का पर्याय बने हुए कुख्यात अपराधी भीम उर्फ़ सागर को यूपी पुलिस ने मुठभेड़ के बाद आखिरकार गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के इस आपरेशन में एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह घायल हो गए हैं जबकि एसपी आजमगढ़ अजय साहनी बुलेटप्रूफ जैकेट की वजह से बाल-बाल बच गए हैं। एसपी अजय साहनी ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान इसके पास से 9 एमएम पिस्टल, कारतूस और लूट की बाइक बरामद की गई। एसपी अजय साहनी ने कहा कि भीम उर्फ़ सागर के साथ और भी बदमाश था जो मौके से फरार हो गया हैं, उसको भी जल्दी ही गिरफ्तार कर लेंगे। पुलिस के हत्थे चढ़ा भीम उर्फ़ सागर पर हत्या, लूट और डकैती के करीब 40 मामले दर्ज है जिसमें अधिकतर दिल्ली के है। दिल्ली पुलिस ने इस पर एक लाख का इनाम रखा है।

Read Also: अवैध संबंध में हुई बीजेपी नेता की हत्या!, फिर कुएं में मिला शव

पेशी पर ले जाते समय हुआ था फरार

पेशी पर ले जाते समय हुआ था फरार

दरसअल भीम उर्फ़ सागर और उसके साथी संतोष भारती को सोमवार को आजमगढ़ बरदह पुलिस ने दो तमंचे और लूट के रुपये के साथ गिरफ्तार किया था। इसका चालान कर मंगलवार को चार सिपाही दोनों बदमाशों को न्यायालय में पेशी के लिए लेकर जा रहे थे कि तमसा नदी के पास भीम ने शौच का बहाना बनाते हुए सिपाहियों को अपने साथ तमसा पुल के नीचे लेकर गया और वही इन सिपाहियों को चकमा देकर फरार हो गया था। इसके बाद से ही पूरे जिले में सघन तलाशी का अभियान चलाया जा रहा था।

पुलिस के साथ बदमाशों की मुठभेड़

पुलिस के साथ बदमाशों की मुठभेड़

भीम ने असलहे के बल पर प्रदीप से उसकी बाइक और पैसे छीन लिए थे पीड़ित ने डायल 100 को सूचना दी। बिलरियागंज शहर की ओर आ रहे एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह ने तड़के करीब 3 बजे एक बाइक पर दो बदमाशों को देखा तो उन्हें रुकने का इशारा किया। भीम और उसका साथी राकेश पासी भागने लगा। दोनों बदमाश कुछ समझ पाते इसके पहले ही एसपी अजय साहनी भी राउंड पर निकले हुए थे। इसके बाद बदमाशों के हौसले पस्त होने लगे और वो छिपने की जगह तलाश ही रहे थे कि पुलिस ने उस एरिया को चारो ओर से घेर लिया। बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग करनी शुरू कर दी। पुलिस ने भी जबाबी फायरिंग की।

मुठभेड़ के बाद हुआ खुलासा

शहर कोतवाली के बाइपास स्थित राजघाट स्थित बागलखराव पुल के पास देर रात पुलिस और बदमाशों में आमने-सामने मुठभेड़ हो गयी। इस मुठभेड़ में जहां पुलिस अधीक्षक के बुलेटप्रूफ जैकेट में गोली लगी वहीं एसपी ग्रामीण नरेन्द्र प्रताप सिंह घायल हो गये जिन्हे उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। उन्हें निजी चिकित्सालय में इलाज के लिए रेफर कर दिया गया। इस मुठभेड में अंधेरे और नदी के तराई इलाके का लाभ उठाकर एक बदमाश राजेश पासी फरार हो गया। पुलिस की गोली से घायल बदमाश की शिनाख्त भीम उर्फ सागर के रूप में हुई। पुलिस ने इसके पास से 9 एमएम पिस्टल, कारतूस लूट की बाइक बरामद कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने दावा किया कि फरार बदमाश व इसकी मदद करने वालों को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा। 1 लाख के इनामी बदमाश को कड़ी सुरक्षा के बीच वाराणसी रेफर किया गया हैं।

Read Also: फर्श पर कैसे लेटते हैं करके दिखाओ, वो लेटी तो 65 साल का काका बना हैवान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Encounter of UP Police with a dreaded criminal in Azamgarh, Bihar.
Please Wait while comments are loading...