नहीं जी सकते थे साथ तो साथ-साथ मर गए, एक बंदूक से चली दो गोलियां

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। इलाहाबाद के फाफामऊ शांतिपुरम में गुरुवार की सुबह सनकी आशिक ने खौफनाक वारदात को अंजाम दिया। पहले तो उसने अपनी प्रेमिका को गोली मारी फिर खुद को गोली से उड़ा लिया। घटना सुबह 10 बजे हुई। घटना आरएएफ कैंप 100 बटालियन के पास की है। जिसके चलते गोली चलते ही तत्काल आरएएफ एक्शन में आ गई। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची। दोनों खून से लथपथ तड़प रहे थे। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहां युवक ने दम तोड़ दिया। जबकि युवती की स्थिति गंभीर बनी हुई है। घटना की सूचना पर दोनों के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए हैं और पूरा माहौल खौफ के साथ गमगीन बना हुआ है।

नहीं जी सकते थे साथ तो साथ-साथ मर गए, एक बंदूक से चली दो गोलियां

घर वाले बोले- नहीं जानते कि करते थे प्यार

सीओ सोरांव डीपी शुक्ला ने बताया कि युवक का नाम अजीत मौर्या है। वो नवाबगंज थाना क्षेत्र के गथिगहां गांव का रहने वाला है। जबकि लड़की कृति यादव महमदपुर गांव की रहने वाली है। सुबह 10 बजे के लगभग अजीत सोरांव थाना क्षेत्र के फाफामऊ पहुंचा। यहां से वो शातिंपुरम गोहरी रेलवे क्रासिंग की ओर पहुंचा। उसी वक्त कृति यादव कहीं से आ रही थी। अजीत उसके नजदीक पहुंचा और इससे पहले की कोई कुछ समझ पाता उसने तमंचा निकालकर गोली चला दी। गोली लगते ही कृति वहीं जमीन पर गिर गई। इसके बाद तुरंत अजीत ने फिर से तमंचा लोड किया और अपनी कनपटी पर गोली मार ली। घटना के बाद चीख-पुकार मच गई, लोग इधर-उधर भागने लगे। कुछ मदद को पहुंचे तो कुछ तमाशबीन बन गए। पुलिस के पहुंचने पर दोनों को इलाज के लिए ले जाया गया। जहां इलाज के दौरान अजीत ने दम तोड़ दिया।

शादीशुदा थी कृति

परिजनों ने घटना के बावत पहले तो कुछ भी बोलने से मना कर दिया। हालांकि पुलिस ने पूछताछ के बाद बताया कि कृति की शादी हो चुकी है। जबकि अजीत के पिता शिवकुमार ने बताया कि अजीत अभी अविवाहित था। अजीत के परिजनों का कहना है कि वो अजीत के प्यार के बारे में नहीं जानते। वहीं पुलिस ने बताया कि अजीत एक तरफा प्यार से सनक चुका था। जिसके चलते ही इसने ये आत्मघाती कदम उठाया। फिलहाल घटना से पूरे इलाके में दहशत का माहौल बन गया है और चौराहे से लेकर गांव के नुक्कड़ तक घटना पर तफरी चल रही है।

सुसाइड नोट से उलझी गुत्थी

पुलिस को अजीत की जेब से एक सुसाइड नोट मिला है। लेकिन ये सुसाइड नोट किसने लिखा है। ये स्पष्ट नहीं हो सका है। पुलिस अब इसकी जांच कर रही है। खत में जो लिखा है जांच के मुताबिक इसे कृति ने लिखा है। लेकिन वहीं ये अजीत की जेब में क्यों था? और दोनों को सुसाइड करना था तो यूं बीच बाजार क्यों किया?

दरअसल सुसाइड नोट में नीचे कृति का नाम खत लिखने वाले के तौर पर लिखा है। दो पन्ने के सुसाइड नोट में वैसे तो लंबी कहानी है और वो पूरा खत जांच के बाद मीडिया के सामने लाया जाएगा। पुलिस के अनुसार खत में लिखा है कि 'मैं अजीत से बहुत प्यार करती हूं और अजीत को अपना पति मान चुकी हूं। अजीत के बिना मैं जिंदा नहीं रह सकती लेकिन हम साथ जी नहीं सकते। इसीलिए गोली मारकर मरने जा रहे हैं। हमारी मौत के लिए कोई दूसरा जिम्मेदार नहीं होगा। मम्मी-पापा हो सके तो मुझे माफ कर देना।'

Read more: गर्भवती प्रेमिका को जब पता चला आशिक का हुआ है रिश्ता तय...

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Couple suicide after complex relationship
Please Wait while comments are loading...