• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

प्रियंका गांधी की रैलियों का रोडमैप तैयार, PM मोदी व CM योगी के गढ़ में भी भरेंगी हुंकार

|
Google Oneindia News

लखनऊ, 21 सितंबर: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले चुनाव से पहले अब सभी राजनीतिक दलों ने अपनी कमर कसनी शुरू कर दी है। अपने पिछले दौरे के समय पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक के दौरान प्रियंका गांधाी ने अपनी चुनावी तैयारियों को और तेज करने के संकेत दे दिए थे। इसी क्रम में अब प्रियंका गांधी की रैलियों का रोडमैप तैयार किया जा रहा है। वरिष्ठ पदाधिकारियों का दावा है कि प्रियंका गांधी 29 सितंबर को मेरठ के अलावा पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर में भी उनकी जनसभाएं लगाई जाएं।

प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों सहित लोगों से जुड़ने के लिए 29 सितंबर से मेरठ में शुरू होने वाली जनसभाओं का रोडमैप तैयार करने का निर्देश प्रदेश यूनिट को दिया है। प्रियंका से 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में लोगों से किए गए वादों के बारे में कई सार्वजनिक घोषणाएं करने की उम्मीद है।

कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, "प्रियंका गांधी वाड्रा से कांग्रेस द्वारा विभिन्न मोर्चों पर किए जाने वाले वादों के बारे में कुछ महत्वपूर्ण घोषणा करने की उम्मीद है। वादों में तीन कृषि कानूनों को खत्म करना (किसान तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं), मुफ्त बिजली, किसानों का कर्ज माफ करना और लोगों से संबंधित कुछ अन्य मुद्दों पर पार्टी के रुख के बारे में शामिल हो सकते है।"

कांग्रेस

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए वरिष्ठ नेताओं के साथ की बैठक
पार्टी के एक प्रदेश सचिव ने बताया कि,

''सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की अध्यक्षता की थी। उन्होंने कई अन्य स्थानों पर जनसभाओं को संबोधित करने का भी प्रस्ताव रखा, जिसमें वाराणसी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लोकसभा क्षेत्र), गोरखपुर (सीएम योगी के क्षेत्र), लोकसभा सीट शामिल है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा मेरठ में मेगा जनसभा को संबोधित करने वाली हैं। वह वाराणसी, गोरखपुर, महोबा और कई अन्य स्थानों पर भी रैलियों को संबोधित करेंगी। वह दो या तीन अक्टूबर को वाराणसी में एक जनसभा को संबोधित कर सकती हैं। हमें उनकी सार्वजनिक रैलियों के बारे में जल्द ही जानकारी मिलेगी।''

प्रियंका ने पिछले दौरे में की थी तैयारियों की समीक्षा

प्रियंका गांधी ने हाल ही में लखनऊ में 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की तैयारियों की समीक्षा की थी, ने राज्य के पार्टी नेताओं से उत्तर प्रदेश की लगभग सभी विधानसभा सीटों में लगभग 12,000 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली प्रतिज्ञा यात्रा शुरू करने के लिए कहा था। पार्टी ने प्रस्तावित यात्राओं का एक विस्तृत कार्यक्रम तैयार किया है जो अगले महीने नवरात्रि समारोह के दौरान जिलों के अधिकांश हिस्सों को कवर करेगा।

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में राजनीति विज्ञान विभाग के पूर्व विभागाध्यख एस के सिंह ने कहा कि,

"अगर कांग्रेस इस बार कुछ परिणाम प्राप्त करना चाहती है, तो उसे पार्टी के फंड का उपयोग करके कुछ कल्याणकारी कार्यक्रमों को लागू करना शुरू कर देना चाहिए। सार्वजनिक रैलियों में घोषणाएँ करना काम नहीं कर सकता है। कांग्रेस विभिन्न मुद्दों पर राज्य और केंद्र में भाजपा सरकारों पर निशाना साधती रही है जिसमें मुद्रास्फीति, बेरोजगारी, महिलाओं के खिलाफ अपराध और किसानों से संबंधित मुद्दे शामिल हैं। इसने हाल के दिनों में राफेल और पेगासस जैसे मुद्दों को भी उठाया है।''

पिछला विधानसभा चुनाव सपा के साथ मिलकर लड़ा
इससे पहले कांग्रेस ने 2017 का विधानसभा चुनाव समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर लड़ा था। चूंकि 2017 के चुनावों में भाजपा के व्यापक बहुमत के साथ गठबंधन प्रयोग दोनों दलों के लिए काम करने में विफल रहा, चुनाव के तुरंत बाद अल्पकालिक गठबंधन समाप्त हो गया। कांग्रेस ने 403 सदस्यीय राज्य विधानसभा में केवल सात सीटें जीतीं और 2017 के विधानसभा चुनावों में उसे केवल 6.25 प्रतिशत वोट मिले। 2017 के चुनावों में सपा के समर्थन से लड़ी गई सीटों पर उसका वोट शेयर 22.09 प्रतिशत था। समाजवादी पार्टी ने 47 सीटें जीती थीं जबकि बसपा को 19 सीटें मिली थीं।

प्रियंका

चुनाव से पहले मीडिया टीम को दुरुस्त करेगी कांग्रेस
वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ने अपने प्रवक्ताओं और मीडिया समन्वयकों के चयन का नया तरीका खोजा है। 'बनें कांग्रेस की आवाज' (कांग्रेस की आवाज बनें), कांग्रेस नेताओं की एक टीम संभावित प्रवक्ताओं और मीडिया समन्वयकों का चयन करने के लिए विभिन्न जिलों का दौरा करेगी। मीडिया और संचार विभाग के उपाध्यक्ष पंकज श्रीवास्तव प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कहा कि,

'' कांग्रेस के हर कार्यकर्ता और समर्थक को पार्टी प्रवक्ता या मीडिया समन्वयक बनने का मौका दिया जाएगा। जो कोई भी देश के संविधान और कांग्रेस पार्टी की राजनीति के प्रति प्रतिबद्ध महसूस करता है और उसे प्रभावी ढंग से जनता के सामने रख सकता है, वह इस अभियान का हिस्सा बन सकता है। दोनों पदों के लिए जिला स्तरीय लिखित और मौखिक परीक्षा आयोजित की जाएगी और जल्द ही तारीखों की घोषणा की जाएगी।''

यह भी पढ़ें-यूपी की राजनीति में क्या है गन्ना किसानों का गणित, जानिएयह भी पढ़ें-यूपी की राजनीति में क्या है गन्ना किसानों का गणित, जानिए

English summary
Congress preparing roadmap for Priyanka Gandhi's rallies
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X