दशहरे तक मुख्यमंत्री रहेंगे गोरखधाम मंदिर में, करेंगे पूजा-अर्चना

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को गोरखपुर स्थित गोरखनाथ मंदिर पहुंच गए हैं, वह यहां नवरात्रि में पूजा करने के लिए पहुंचे हैं। योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर के पीठाधीश्वर हैं। मुख्यमंत्री नवरात्र में नौ दिन का व्रत रखते हैं और इस बार भी वह नौ दिन का व्रत कर रहे हैं। मुख्यमंत्री यहां दशहरे तक ठहरेंगे और पूजा अर्चना करेंगे। मुख्यमंत्री यहां शनिवार तक रहेंगे और गोरखधाम से निकलने वाली शोभा यात्रा में भी शामिल होंगे जोकि परंपरागत तरीके से दशकों से निकाली जा रही है। यह शोभायात्रा पीठाधीश से रामलीला मैदान तक जाएगी। मुख्यमंत्री पहले से ही दस दिन तक चलने वाले नवरात्र पर पूजा अर्चना में जुटे हुए हैं, इस दौरान वह पूजा, हवन आदि मंदिर में करते हैं। शोभायात्रा की अगुवाई भी योगी आदित्यनाथ करेंगे, जिन्हें इस बार बतौर मुख्यमंत्री पूजा अर्चना करते हुए  देखना गोरखपुर के लोगों के लिए काफी दिलचस्प होगा। 

मंदिर से ही देंगे मंत्रियों-अधिकारियों को निर्देश

मंदिर से ही देंगे मंत्रियों-अधिकारियों को निर्देश

मंदिर में रहने के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने सचिव अजय सिंह के जरिए तमाम मंत्रियों और अधिकारियों को निर्देश देते रहते हैं और बतौर मुख्यमंत्री वह अपनी जिम्मेदारी भी पूरी करते हैं। अजय सिंह भी मुख्यमंत्री के साथ मंदिर में हैं। मुख्यमंत्री मठ में तमाम परंपराओं को पूरा करते हैं। बुधवार की शाम को मुख्यमंत्री ने मां कालरात्री की पूजा की थी और हवन किया था। नाथ संप्रदाय की परंपरा का पालन करते हुए मुख्यमंत्री ने अष्टमी की शाम को पूजा अर्चना शुरू की और गौरी शंकर पूजन, वरुण पूजन और यंत्र पूजन किया। इसके बाद उन्होंने कई देवी-देवताओं की पूजा की जिनकी मूर्तियां मठ में स्थापित हैं। मंदिर में भगवान कृष्ण, भगवान राम, सीता माता, गौ माता और नौ गृहों की मूर्ति स्थापित है, मुख्यमंत्री ने वैदिक मंत्रों के उच्चारण के साथ इनकी पूजा की।

शास्त्रों के अनुसार की गई पूजा-अर्चना

शास्त्रों के अनुसार की गई पूजा-अर्चना

गुरुवार को मुख्यमंत्री महागौरी पूजा की, पूजा के बाद सुबह उन्होंने मंदिर के तमाम प्रशासनिक अधिकारियों, अपने क्षेत्र के विधायकों से मुलाकात की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि शारदीय नवरात्रि पावन दिन होता है, इस दिन शक्ति संग्रह किया जाता है, इस दिन महाकाली, महालक्ष्मी, महासरस्वती की समस्ति रूप में पूजा की जाती है और अष्टभुजा दुर्गा मां के प्रत्यक्ष रूप की पूजा की जाती, जैसा कि शास्त्रों में वर्णन किया गया है।

शोभा यात्रा का करेंगे नेतृत्व

शोभा यात्रा का करेंगे नेतृत्व

आज नवमी पर मुख्यमंत्री कन्या पूजन और बटुक बालक पूजन करेंगे। माना जा रहा है कि शोभा यात्रा में बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा होंगे, गोरखपुर के लोगों में इस बात को लेकर दिलचस्पी है कि कैसे मुख्यमंत्री पूजा अर्चना करेंगे। जब शोभा यात्रा मानसरोव पहुंजेगी तो मुख्यमंत्री भगवान शिव, माता सीता, हनुमानजी की पूजा करेंगे और अपना व्रत खत्म करेंगे। इस दौरान वह संतों और गरीबों को भोज कराएंगे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CM Yogi Adityanath to stay at Gorakhnath temple till Dusehera. He will perform many rituals and prayer.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.