• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

सपा और रालोद में मचे घमासान का सियासी फायदा तलाशने में जुटी बीएसपी

|
Google Oneindia News

लखनऊ, 22 जनवरी: उत्तर प्रदेश विधानसभा में टिकट बांटने का सिलसिला शुरू हो गया है। जिनका टिकट कट रहा है वो दूसरे दलों में अपना ठिकाना ढूंढ रहे हैं। ऐसी ही हालत पर बीएसपी पूरी पैनी नजर रख रही है। खासतौर से पश्चिम में अखिलेश यादव और जयंत चौधरी के बीच बने गठबंधन में टिकट को लेकर अंदरखाने सियासी घमासान मचा हुआ है। बीएसपी इस बात आकलन करने में जुटी है कि सपा और आरएलडी के बीच अंदरूनी रार का कैसे फायदा उठाया जा सकता है। इसीलिए मंडल कोआर्डिनेटरों को इस बात की जिम्मेदारी दी गई है कि जिन सीटों पर विवाद की स्थिति उत्पन्न हो रही है वहां विशेषतौर से नजर रखें और पार्टी को पूरी रिपोर्ट मुहैया कराएंं।

अखिलेश यादव

बीएसपी की मुखिया ने पश्चिम के नेताओं को खासतौर पर यह सलाह दी है की सपा और आरएलडी के बीच चल रहे सियासी घटनाक्रम पर पूरी तरह नजर रखें। विभिन्न सीटों पर गठबंधन के उम्मीदवारों के एलान के बाद ही यहां सियासी उबाल देखने को मिल रहा है। आरएलडी कार्यकर्ताओं ने कई सीटों पर विरोध भी शुरू कर दिया है। कई टिकटों को लेकर तो हंगामा इस कदर बरपा है कि जयंत के दिल्ली स्थित आवास पीआर कार्यकर्ताओं ने डेरा डाल दिया है। कार्यकर्ता पूरी तरह से जयंत पर दबाव बनाने में जुटे हुए हैं। इसका असर भी दिखने लगा है।

बीएसपी ने पूरे प्रकरण पर बनाई पैनी निगाह

बताया जा रहा है की बीएसपी ने इस पूरे प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए पूरी नजर गड़ाए हुए है। दरअसल सपा और आरएलडी के बीच चल रहे सियासी घटनाक्रम में बीएसपी अपना फायदा तलाश रही है। मसलन विभिन्न सीटों पर अपने उम्मीदवारों का एलान कर दिया है। सभी से खा खा गया है कि अपनी अपनी सीटों पर इस सियासी घटनाक्रम भी देखते हुए नफा नुकसान का आकलन करें।

बीएसपी ने कोवर्डिनेटरों से मांगी है रिपोर्ट

मायावती ने एसपी और आरएलडी के बीच टिकटों को लेकर चल रही खींच तान को लेकर अपने मंडल कोवर्डिनेट्रों से रिपोर्ट मांगी है। सभी सीटों पर वर्तमान स्थिति का आकलन करते हुए रिपोर्ट भेजने को कहा गया है की इस आपसी घमासान का बीएसपी को किस सीट पर कितना सियासी फायदा और नुकसान हो रहा है। हालाकि कोवर्डिनेटर बता रहे हैं कि अंदरखाने मचे घमासान का फायदा ही नजर आ रहा है। जिन सीटों पर बीएसपी ने मुस्लिम उमीदवार उतारे हैं वहां खासतौर पर आकलन करने को कहा गया है।

कई सीटों पर बीएसपी ने बदले उम्मीदवार

सपा और आरएलडी के घमासान को देखते हुए ही मायावती अब तक सात सीटों पर उम्मीदवार बदल चुकी हैं। इस बाबत दूसरी सूची जारी की गई है। वहीं दूसरी सूची में 11 नाम घोषित किए गए थे। जिनमे सात सीटों पर टिकट बदलने का फैसला बीएसपी ने किया था। ऐसा माना जा रहा है की बदलते बिगड़ते समीकरण को ध्यान में रखते हुए बसपा ने प्रत्याशियों के नामों का बदलाव किया है। साथ ही कुछ नए उम्मीदवार भी घोषित किए गए हैं। थाना भवन से जहीर मालिक, मेरठ शहर से दिलशाद, बागपत से अरुण कासना और बुलंदशहर से मोबिन कुरैशी को उम्मीदवार बनाया है।

यह भी पढ़ें-कम अंतर से हारी हुई सीटों पर हर दल अपना रहे अलग-अलग रणनीति, जानिए किसका क्या है गेम प्लानयह भी पढ़ें-कम अंतर से हारी हुई सीटों पर हर दल अपना रहे अलग-अलग रणनीति, जानिए किसका क्या है गेम प्लान

Comments
English summary
BSP engaged in finding political advantage of the tussle between SP and RLD
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X