• search
उत्तर प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

कोरोना काल में मर चुकी है इंसानियत, शव का कफन चोरी कर बेचते पकड़े गए 7 आरोपी

|

बागपत, मई 9: पुलिस ने रविवार को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बागपत में एक गिरोह का पर्दाफाश किया, जो मृतकों के कपड़े और कफन चोरी करता था। इसके बाद वो उसे धो और प्रेसकर दोबारा बेच देते थे। ये गिरफ्तारी ऐसे वक्त में हुई जब राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। साथ ही मृतकों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ करके उनका साथ देने वाले अन्य लोगों की तलाश कर रही है।

यूपी

बागपत पुलिस ने बताया कि उन्होंने एक गिरोह के सात सदस्यों को दबोचा है, जिसमें मास्टरमाइंड भी शामिल है। ये लोग श्मशान में शव के ऊपर रहने वाले कफन को चोरी करते थे। इसके बाद उसको साफ कर नया जैसा बनाकर पैक कर देते। फिर ग्वालियर कंपनी का मार्क लगाकर महंगे दाम पर बेचते। कफन के अलावा ये गिरोह मृतकों के कपड़ों पर भी हाथ साफ कर देता था। ऐसे में पुलिस की छापेमारी के दौरान उनके पास से 520 बेडसीट, 127 कुर्ता, 52 सफेद साड़ी समेत कई अन्य तरह के कपड़े बरामद हुए हैं।

प्रसिद्ध मूर्तिकार और राज्यसभा सांसद रघुनाथ मोहपात्रा का कोरोना से निधन, पीएम मोदी ने जताया दुखप्रसिद्ध मूर्तिकार और राज्यसभा सांसद रघुनाथ मोहपात्रा का कोरोना से निधन, पीएम मोदी ने जताया दुख

गिरफ्तारी के बाद जब पुलिस ने मामले में आगे की पड़ताल की तो पता चला कि कुछ स्थानीय व्यापारियों ने इस गिरोह के साथ डील की थी। जिसके तहत वो एक दिन की लूट के लिए 300 रुपये का भुगतान करते थे। पुलिस अब उन लोगों की तलाश कर रही है। वहीं गिरफ्तार लोगों में तीन लोग एक ही परिवार के थे। आरोपियों की पहचान प्रवीण जैन, आशीष जैन, श्रवण कुमार, ऋषभ जैन, राजू शर्मा, बबलू, शाहरूख खान के रूप में हुई है। इन सभी पर चोरी के अलावा महामारी अधिनियम की भी धाराएं लगाई गई हैं।

English summary
7 Men Steal Clothes From Bodies Crematoriums Baghpat
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X