• search
सूरत न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

लोगों को अब नहीं दिखेगी बाघिन शाम्भवी, 14 साल लुभाया, सूरत के सरथाणा जू में ली अंतिम सांस

|

सूरत। गुजरात में पर्यटकों के बीच बरसों से आकर्षण का केंद्र रही एक बाघिन की मौत हो गई है। उस बाघिन को नाम था- शाम्भवी। सूरत के सरथाणा स्थित जू में 4 जून से उसका उपचार चल रहा था। हालांकि, वो बच नहीं पाई और दम तोड़ दिया।

People will no longer to see tigress Shambhavi, lost life due to disease in surat gujarat

केंद्रीय जू अथॉरिटी की ओर से बताया गया कि, बाघिन शाम्भवी 14 वर्ष की हो चुकी थी। मगर, उसकी मौत की वजह उसकी उम्र नहीं, बल्कि वो बीमारी थी जिसके रहते वो पीड़ा झेल रही थी। शुरूआती लक्षण सर्पदंश के लगे तो चिकित्सकों ने उसी के अनुरूप उसे उपचार देना शुरू किया था। फिर अगले दिन सुबह तक उसकी तबियत में सुधार नहीं होने पर उसके सैंपल लेकर जांच के लिए भी भेजे गए थे। हालांकि, बुधवार सुबह करीब 4 बजे उसने आखिरी सांस ली। उसी रोज गाइडलाइन का पालन करते हुए पोस्टमार्टम के बाद दोपहर करीब 1 बजे उसकी अंत्येष्टि कर दी गई।

People will no longer to see tigress Shambhavi, lost life due to disease in surat gujarat

भावुक कर देने वाला Video... जब आखिरी सांस गिन रहे बाघ को फॉरेस्ट रेंजर ने बूंद-बूंद पिलाया पानीभावुक कर देने वाला Video... जब आखिरी सांस गिन रहे बाघ को फॉरेस्ट रेंजर ने बूंद-बूंद पिलाया पानी

जू अथॉरिटी के एक कर्मचारी ने बताया कि, 14 वर्षीय शाम्भवी को देखने वालों की लाइन लग जाया करती थी। वो जू में बरसों से पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई थी। जिस समय वो शावकों को जन्म देती थी, तभी आक्रामक होती थी, लेकिन प्रसव का समय बीतने के बाद उसका स्वभाव लोगों को खूब भाता था।

English summary
People will no longer to see tigress Shambhavi, 14 year old tigress Shambhavi lost life due to disease
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X