• search
सूरत न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

50000 वर्ग मीटर भूमि पर बनेगा गुजरात का पहला डिजास्टर प्रिवेंशन-मैनेजमेंट सेंटर, ऐसी होंगी सुविधाएं

|
Google Oneindia News

सूरत। गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने एक ऐसे प्रोजेक्ट को मंजूरी दी है जिसके पूरा होने पर आपदाओं से निपटने में बड़ी मदद मिलेगी। सरकार सूरत के हजीरा में गुजरात के पहले और अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित डिजास्टर प्रिवेंशन एंड मैनेजमेंट सेंटर को स्थापित कराएगी। इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने खुद स्वीकृति प्रदान की है।

Gujarats first disaster prevention-management center will be built on 50000 square meters of land, Chief Minister Bhupendra Patel approved

सरकार की ओर से कहा गया कि, हजीरा नोटिफाइड एरिया ने वर्ष 2011 में सुंवाली गांव में जमीन की मांग की थी। हालांकि, 10 साल तक इस पर आगे नहीं बढ़ा जा सका। अब नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने हजीरा में गुजरात के पहले और अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित डिजास्टर प्रिवेंशन एंड मैनेजमेंट सेंटर को बनाने की मंजूरी दे दी है। भू विशेषज्ञों का मानना है कि, सुंवाली में बनने वाले डिजास्टर प्रिवेंशन एंड मैनेजमेंट सेंटर से सचिन और हजीरा के उद्योगों में अनहोनी (आकस्मिक/दुर्घटनाओं की स्थिति) से निपटने में मदद मिलेगी।

बनेगा डिजास्टर प्रिवेंशन एंड मैनेजमेंट सेंटर, दो साल लगेंगे
गुजरात का यह पहला डिजास्टर प्रिवेंशन-मैनेजमेंट सेंटर 50,000 वर्ग मीटर में बनाने की योजना है। और, अधिकारियों का कहना है कि, इस केंद्र को 2 साल के भीतर ही डेवलप ​कर लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि, इस सेंटर में डिजास्टर इंस्टीट्यूट, बर्न्स वार्ड, हेलीपैड, स्टाफ क्वार्टर, मरीन कंट्रोल रूम और एयर एम्बुलेंस सहित कई आ‌वश्यक सुविधाओं वाला अस्पताल होगा। एक अधिकारी ने कहा कि, मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने इसे स्वीकृति प्रदान की है और इसके लिए हजीरा नोटिफाइड एरिया ने जमीन की मांग की थी।

ऐसा कोई एसओपी जारी नहीं किया गया है जो किसी भी उद्देश्य के लिए टीकाकरण प्रमाण पत्र ले जाना अनिवार्य बनाता हो: केंद्रऐसा कोई एसओपी जारी नहीं किया गया है जो किसी भी उद्देश्य के लिए टीकाकरण प्रमाण पत्र ले जाना अनिवार्य बनाता हो: केंद्र

हजीरा नोटिफाइड एरिया के अ​धिकारियों के मुताबिक, वे इस सेंटर को हजारों वर्ग मीटर में बनवाना चाहते थे, इसलिए मुख्यमंत्री ने 50,000 वर्ग मीटर में बनाने की मंजूरी दे दी। उन्होंने कहा कि, यह गुजरात का यह पहला डिजास्टर प्रिवेंशन-मैनेजमेंट सेंटर होगा और इसमें डिजास्टर इंस्टीट्यूट, बर्न्स वार्ड, हेलीपैड, स्टाफ क्वार्टर, मरीन कंट्रोल रूम और एयर एम्बुलेंस सहित कई आ‌वश्यक सुविधाओं वाला अस्पताल भी होगा।

Comments
English summary
Gujarat's first disaster prevention-management center will be built on 50000 square meters of land, Chief Minister Bhupendra Patel approved
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X