• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

केस जीतने के कुछ देर बाद दोबारा गिरफ्तार हुए नोवाक जोकोविच, नहीं ले पायेंगे ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा

|
Google Oneindia News
Novak Djokovic
Photo Credit: Twitter

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा लेने पहुंचे दुनिया के नंबर 1 टेनिस स्टार नोवाक जोकोविच के साथ विवादों का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। जोकोविच के परिवार ने दावा किया है कि सोमवार को ऑस्ट्रेलियाई वीजा मामले में केस जीतने के कुछ देर बाद ही ऑस्ट्रेलियाई सरकार के अधिकारियों ने इस दिग्गज खिलाड़ी को फिर से गिरफ्तार कर लिया है। इस टेनिस स्टार के पिता सरडन जोकोविच ने सर्बियाई पत्रकारों से बात करते हुए जानकारी दी कि ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने नोवाक को दोबारा से गिरफ्तार कर लिया है ताकि उन्हें इमीग्रेशन मंत्री के खास अधिकारों के तहत उनके देश वापस भेजा जा सके।

और पढ़ें: IND vs SA: केपटाउन टेस्ट से बाहर हुए मोहम्मद सिराज, आखिरी मैच में लौटेंग विराट कोहली

उल्लेखनीय है कि ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा लेने पहुंचे नोवाक जोकोविच ने कोरोना वैक्सीन का टीका नहीं लिया है जिसके चलते सरकार ने उनका वीजा रद्द कर वापस भेजने का फैसला किया, हालांकि दिग्गज टेनिस स्टार ने दावा किया कि एक महीने पहले ही वो इस महामारी के संक्रमण का शिकार हुए थे जिसके चलते वह टीकाकरण के पात्र नहीं हैं। जहां ऑस्ट्रेलियाई सरकार उनकी इस बात को नहीं सुन रही थी तो वहीं पर जोकोविच ने कानूनी रास्ता अपनाते हुए ऑस्ट्रेलियाई कोर्ट का सहारा लिया और ऑस्ट्रेलियाई सरकार के फैसले के खिलाफ अपील की।

और पढ़ें: IND vs SA: केपटाउन टेस्ट में इतिहास रचने की दहलीज पर हैं मोहम्मद शमी, इस खास लिस्ट में होंगे शामिल

जज केली ने जोकोविच के हक में सुनाया फैसला

जज केली ने जोकोविच के हक में सुनाया फैसला

सोमवार को जज एंथनी केली की मौजूदगी में हुई इस सुनवाई पर कोर्ट ने सरकार के वीजा कैंसिल को बेवजह विवाद बनाने वाले फैसला बताते हुए तुरंत जोकोविच को रिहा कर, उनका पासपोर्ट और वीजा सौंपने का फैसला सुनाया, जिसके बाद फैन्स को उनके ऑस्ट्रेलियन ओपन का हिस्सा बनने की उम्मीद नजर आयी। लेकिन सर्बिया के द पॉवलोविक टुडे की ताजा खबर के अनुसार 20 बार ग्रैंड स्लैम जीत चुके इस खिलाड़ी ने जैसे ही अपना होटेल छोड़ा ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने उन्हें दोबारा गिरफ्तार कर लिया है।

ऑस्ट्रेलियाई न्यूजपेपर द एज के पॉलिटिकल पत्रकार पॉल सक्कल के अनुसार जोकोविच के दोबारा गिरफ्तार करने की कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है और उन्होंने इन खबरों को गलत बताया है। माना जा रहा है कि कोर्ट के फैसले के बावजूद ऑस्ट्रेलिया के इमिग्रेशन मंत्री एलेक्स हॉक ने जोकोविच के वीजा को फिर से कैंसिल करने का ही फैसला किया है। बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार जोकोविच अपने वकील के साथ उनके मेलबर्न स्थित घर पर हैं, जहां पर तगड़ी सुरक्षा और काफी भीड़ जमा है।

इमिग्रेशन मंत्री के पास हैं खास अधिकार

इमिग्रेशन मंत्री के पास हैं खास अधिकार

जोकोविच के भाई जोर्जे ने सर्बियाई आउटलेट स्पोर्टक्लब से बात करते हुए कहा,'हम इस बारे में सिर्फ एक ही चीज कर सकते हैं कि सोशल मीडिया पर सभी तक यह बात पहुंचा सकें कि वो नोवाक को दोबारा गिरफ्तार करना चाहते हैं। हम फिलहाल अपने पीआर से बात कर रहे हैं कि हमारा अगला कदम क्या होना चाहिये। वह फिलहाल अपने वकीलों के साथ एक कमरे में जहां पर आगे के विकल्प पर विचार कर रहे हैं।'

गौरतलब है कि अभी तक यह नहीं तय है कि क्या जोकोविच के वकील उनका ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा ले पाने का सपना पूरा कर सकेंगे या नहीं जिसका आगाज 17 से 30 जनवरी के बीच होना है। जोकोविच को दोबारा गिरफ्तार किये जाने की खबर उनके इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले पाने और अपने खिताब को डिफेंड करने की उम्मीदों पर पानी फेर रही है।

आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार के वकीलों के अनुसार भले ही कोर्ट ने जोकोविच के हक में फैसला सुना दिया है लेकिन ऑस्ट्रेलियाई इमिग्रेशन मंत्री के पास किसी भी व्यक्ति को देश में प्रवेश देने या उसका वीजा कैंसिल करने का अधिकार होता है, जिसके तहत जोकोविच का इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले पाना नामुमकिन नजर आ रहा है।

अगर दोबारा कैंसिल हुआ वीजा तो लग जायेगा 3 साल का बैन

अगर दोबारा कैंसिल हुआ वीजा तो लग जायेगा 3 साल का बैन

ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार पॉल कर्प के अनुसार इमिग्रेशन कानून के सेक्शन 133सी (3) के अनुसार मंत्रालय के पास जोकोविच का वीजा दोबारा कैंसिल करने का अधिकार है। अगर ऐसा होता है तो जोकोविच को दोबारा डिपोर्ट करने की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी और जोकोविच उसे रोकने के लिये फिर से कोर्ट का सहारा लेंगे तो उनका ऑस्ट्रेलियन ओपन में हिस्सा लेना नामुमकिन हो जायेगा। टूर्नामेंट के आयोजकों ने पहले ही साफ कर दिया था कि वो 11 जनवरी के बाद इस सर्बियाई खिलाड़ी के ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के पुष्टिकरण का इंतजार नहीं करेंगे।

इतना ही नहीं पॉल कर्प के अनुसार अगर दोबारा जोकोविच का वीजा कैंसिल किया जाता है तो उन्हें ऑस्ट्रेलिया में प्रवेश करने से 3 साल के लिये बैन भी किया जा सकता है। हालांकि जज केली ने सरकारी वकीलों के इसके खिलाफ चेतावनी देते हुए साफ किया था कि ऐसा करने पर काफी नुकसान हो सकता है। आपको बता दें कि जोकोविच पहले खिलाड़ी नहीं हैं जिन्हें ऑस्ट्रेलियाई सरकार की तरफ से वीजा समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, उनसे पहले चेक रिपब्लिक के रेनाटा वोरावा और एक अधिकारी को भी इसी नियम के तहत वीजा कैंसिल कर देश से बाहर कर दिया गया।

Comments
English summary
Novak Djokovic's re arrested after winning appeal despite court reprieve Australian visa could be cancelled for Australian open
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X