अर्जुन अवार्ड की लिस्ट में नाम नहीं होने से भड़कीं दीपा मलिक

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पैरालंपिक ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने के बावजूद दीपा मलिक को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कारों में नामांकित नहीं किए जाने से मलिक ने खुलकर नाराजगी जाहिर की है। मलिक पहली भारतीय पैरालंपिक खिलाड़ी हैं जिन्होंने ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीता है।

deepa malik

दरअसल खेल रत्न पाने वाले खिलाड़ियों का चयन करने वाली कमेटी ने गुरुवार को पैरापंपिक गोल्ड मेडलिस्ट देवेंद्र झाझरिया के नाम की तो सिफारिश की लेकिन दीपा का नाम इस लिस्ट से गायब था। इस लिस्ट में भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह का नाम भी शामिल है। जिसके बाद दीपा मलिक ने मीडिया में सामने आकर कहा कि यह हैरान करने वाली बात है कि इस लिस्ट में मेरा नाम नहीं है, मेरे आवेदन पर फिर से विचार करना चाहिए। इसके लिए मैं खेल मंत्री और मेल करुंगी।

इसे भी पढ़ें- 15 अगस्त स्पेशल: दीपा मलिक वो नाम, जिसने हौंसलों के दम पर जीत ली दुनिया...

वहीं मीडिया में आ रही खबरों का खंडन करते हुए दीपा ने कहा कि मैं अपनी बात लोकतांत्रित देश में सरकार के सामने रखूंगी, इसके लिए मैं कोर्ट का रुख नहीं करने जा रही हूं। गौरतलब है कि दीपा मलिक को पहले ही पद्म श्री मिल चुका है। उन्होंने 2016 को ब्राजील में हुए रियो पैरालंपिक में गोल्ड मेडल जीता था। रियो पैरालंपिक में भारत के कुल 19 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था जिसमें भारत को 2 गोल्ड एक रजत जबकि एक कांस्य पदक हासिल हुआ था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Deepa Malik questions why her name is not in the Arjun award List. She says I will write to sports minister.
Please Wait while comments are loading...