'47 बाद सबसे अच्छी बात...सचिन इधर पैदा हुआ उधर नहीं'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। हर्षा भोगले... का नाम लेते ही आंखों के सामने एक ऐसे इंसान का चेहरा आता है जिसके चेहरे पर स्टाइलिश ऐनक, होठों पर मुस्कान  होती है और जो बिना रूके धारा प्रवाह अंग्रेजी में क्रिकेट की कमेंटरी करता है। क्रिकेट के मैदान से आंखों देखा हाल बताने वाले हर्षा से लोगों को हमेशा एक शिकायत रहती है कि वो अंग्रेजी में ही बात करते हैं और हिंदुस्तानी होने के बावजूद हिंदी नहीं बोलते हैं।

Birthday Special: आखिर टीम इंडिया के हेडकोच कुंबले को क्यों कहते हैं 'जंबो'?

इसलिए इस बार हर्षा ने हिंदी में कमेंटरी ही नहीं की बल्कि एक ऐसा वीडियो रिलीज किया है, जिसमें उन्होंने देश के महान क्रिकेटरों के बारे में अपनी राय रखी है और उनके दिलचस्प राजों को लोगों से शेयर किया है, जिसे देखने के बाद बाद दावा है कि किसी को हर्षा से अब कोई शिकवा नहीं होगा।

दाऊद की धमकी के बाद अफरीदी-मियांदाद में हुई दोस्ती, सामने आया पैच-अप वीडियो

आगे की बात तस्वीरों में..

सचिन से इश्क है...

हर्षा ने अपने वीडियो में बताया है कि क्रिकेट के पिच पर इंडिया ने नायाब हीरो पैदा किए हैं, अगर भारतवासियों ने सुनील गावस्कर से मोहब्बत की तो कपिल देव पर बेइतंहा प्यार लुटाया है। इस धरती पर मोहम्मद अजहरूद्दीन ने अगर सफलता के झंडे गाड़े तो भारत की ही मिट्टी में कुंबले और सिद्धू जैसे क्रिकेटवीरों ने जन्म लिया है, लेकिन जितना इश्क लोग सचिन तेंदुलकर से करते हैं उतना शायद वो कभी भी किसी और से नहीं कर सकते हैं।

सचिन हैं खुदा...

सचिन हैं खुदा...

हर्षा ने अपने वीडियो, जो कि criccbuzz के लिए बना है, उसमें सचिन तेंदुलकर के बारे में एक दिलचस्प बात कही है। हर्षा ने कहा जिस बाली उम्र में लोग प्यार-मोहब्बत के सपने देखते हैं, उस उम्र में सचिन बॉलरों की पिटाई कर रहे थे। उन्होंने हर लिहाज से साबित किया वो खुदा बन सकते हैं।

'47 बाद सबसे अच्छी बात...सचिन इधर पैदा हुआ उधर नहीं'

'47 बाद सबसे अच्छी बात...सचिन इधर पैदा हुआ उधर नहीं'

उनके बारे में अहम राज नवजोत सिंह सिद्धू ने कही थी, जिसे मैं आज तक नहीं भूला और वो ये कि नवजोत सिद्धू कहा था कि सैंतालीस के बाद सबसे अच्छी चीज़ क्या हुई है, बताइए आप, तब मैं अपने ज्ञान के नेत्र खंगालने लगा और इकोनॉमिक ग्रोथ पर प्रकाश डालने लगा और थक गया और उसके बाद मैं उनसे पूछा कि आप ही बोल दो, तो उन्होंने कहा कि सैंतालीस के बाद एक ही चीज़ बड़ी हुई है कि लड़का (सचिन तेंदुलकर) इधर पैदा हुआ, उधर नहीं (पाकिस्तान)।

उल्टी सी इमारत बना रहे हैं विराट कोहली

उल्टी सी इमारत बना रहे हैं विराट कोहली

इसके अलावा हर्षा ने विराट कोहली के बारे में भी बातें कही है, उन्होंने बोला कि उनका औसत एकदिवसीय क्रिकेट में टेस्ट से ज्यादा है और टी-20 में उससे भी ज्यादा है। बड़ी उल्टी सी इमारत बना रहे हैं विराट कोहली।

दौर आते हैं और जाते हैं...

दौर आते हैं और जाते हैं...

अंत में उन्होंने कहा है कि टीमें बनती जाती हैं, बिगड़ती जाती हैं, फिर बनती जाती हैं, मैं गुलज़ार साहब की तरह शायरी नहीं करना चाहता, लेकिन बात बिल्कुल वैसी ही है। दौर आते हैं और जाते हैं लेकिन कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें सिर्फ याद किया जाता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sachin Tendulkar is not only hero, he is Life Line said Harsha Bhogle. From Gavaskar to Tendulkar to Kohli; Harsha discusses how one generation of Indian cricketers inspired the next.
Please Wait while comments are loading...