एक भी मैच हार जाएं तो देश में लोग हमें आतंकी जैसा समझने लगते हैं: धोनी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। टीम इंडिया के बेस्ट कैप्टन महेन्द्र सिंह धोनी ने एक बड़ा ही अचरज भरा बयान दिया है। धोनी ने कहा कि अगर भारत में हम कोई मैच हार जाते हैं तो लगता है कि जैसे हमने कोई अपराध कर दिया है और हम आतंकवादी हैं।

अपनी बायोपिक देख चुप हो गए धोनी, 20 मिनट तक धरा मौन

धोनी ने ये बात न्यूयार्क में अपनी लाइफ पर बनी फिल्म 'एम एस धोनी-द अनटोल्ड स्टोरी' के प्रमोशन के दौरान कही। आमतौर पर बेहद शांत रहने वाले धोनी के मुंह से ऐसी बात सुनकर हर कोई हैरान रह गया।

धोनी टीम इंडिया के बेस्ट फिनिशर थे, हैं और रहेंगे: रहाणे

धोनी ने ये बात 2007 वर्ल्ड कप में टीम की निराशाजनक प्रदर्शन वाली बात पर कही, जिसमें इंडिया पहले ही राउंड में बाहर हो गई थी। धोनी ने कहा कि उस दौरान मेरे रांची वाले घर पर लोगों ने पत्थरबाजी की थी। लेकिन मुझे कभी आलोचनाओं से डर नहीं लगा बल्कि आलोचकों की वजह से ही मैं आज बेहतर इंसान बन पाया हूं, मैं कड़े निर्णय ले पाता हूं और मुझे कहते हुए जरा भी परहेज नहीं है कि इन सारी बातों का असर मेरी कप्तानी पर पड़ा।

धोनी ने क्यों कहा कि उनकी टीम में कोई शोएब अख्तर नहीं है?

धोनी ने कहा कि 2007 वर्ल्ड कप से लौटने के बाद जिस तरह से हमें कड़ी सुरक्षा के बीच में एयरपोर्ट से बाहर निकाला गया था, वो मेरे लिए काफी सोचनीय था। मुझे ऐसा लग रहा था कि हम लोग कोई बहुत बड़े आतंकी हैं, जो गुनाह करने के बाद पकड़े गए हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Indian players losing a match are seen as 'murderers, terrorists' Said Captain Mahendra Singh Dhoni.
Please Wait while comments are loading...