महिला विश्वकप के बारे में वो सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लंदन, 20 जून: आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 की मेजबानी करने के बाद इंग्लैंड और वेल्स 24 जून से शुरू होने वाले आईसीसी महिला विश्व कप 2017 की मेजबानी करने के लिए तैयार हैं। एक महीने तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में आठ टीमें भाग लेंगी। टूर्नामेंट का फाइनल 23 जुलाई को लॉर्ड्स में होगा।

सभी टीमें राउंड-रॉबिन फॉर्मट में एक दूसरे के साथ भिड़ेंगी। पहला सेमीफाइनल ब्रिस्टल (18 जुलाई) और दूसरा सेमीफाइनल डर्बी (20 जुलाई) में खेला जाएगा। फाइनल 23 जुलाई को लॉर्ड्स में होगा। उससे पहले जानिए अब तक कितने महिला विश्वकप खेले गए? कौन सी टीम ने कब जीता और कौन सा देश रहा होस्ट?

महिला विश्वकप के बारे में वो सब कुछ जो आप जानना चाहते हैं

1- 1973 इंग्लैंड

विजेता- इंग्लैंड

सीमित ओवर विश्व कप की पहली विजेता टीम वास्तव में वेस्टइंडीज नहीं बल्कि इंग्लैंड थी। दरअसल पुरुषों के वनडे विश्वकप से दो साल पहले 1973 में पहले महिला विश्व कप में इंग्लैंड की महिला टीम ने जीत दर्ज की थी।

सबसे ज्यादा रन: एनिड बेकवेल (इंग्लैंड) - 6 मैचों में 264 रन

सबसे ज्यादा विकेट: रोसलिंड हेग्स (यंग इंग्लैंड) - 6 मैचों में 12 विकेट

2- 1978, भारत

विजेता: ऑस्ट्रेलिया

पहली बार भारत महिला विश्वकप का आयोजन हुआ था। भारतीय महिला टीम ने इसी टूर्नामेंट में अपना डेब्य किया था। इस बार केवल चार टीमों ने भाग लिया था- ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और न्यूजीलैंड, मेजबान भारत। सभी टीमें एक दूसरे के खिलाफ भिड़ी थी। प्वाइंट्स के आधार पर विजेता का फैसला किया गया था।

सबसे ज्यादा रनः मार्गरेट जेनिंग्स (ऑस्ट्रेलिया) - तीन मैचों में 127

सबसे ज्यादा विकेटः शरेन हिल (ऑस्ट्रेलिया) - तीन मैचों में सात विकेट

3- 1982, न्यूजीलैंड

विजेता: ऑस्ट्रेलिया

इस समय लगभग पांच टीमें थी, जिसमें एक अंतर्राष्ट्रीय महिला इलेवन भी शामिल थी। प्रत्येक टीम ने राउंड-रॉबिन चरण में 12 मैच खेले थे। सबसे ज्यादा प्वाइंट्स वाली दो टीमों ने फाइनल खेला था।

सबसे ज्यादा रनः जेनेट ब्रिटीन (इंग्लैंड) - 12 मैचों में 391

सबसे ज्यादा विकेटः एलिन फुलस्टन (ऑस्ट्रेलिया) - 12 मैचों में 23 विकेट

4- 1988, ऑस्ट्रेलिया

विजेता: ऑस्ट्रेलिया

एक बार फिर से टूर्नामेंट में पांच टीमों ने हिस्सा लिया था। इस बार अंतर्राष्ट्रीय महिला इलेवन के बजाय, दो सहयोगी राष्ट्र आयरलैंड और नीदरलैंड्स ने अपना डेब्यू किया था। इस बार भारत इस टूर्नामेंट में नहीं खेला था। मैचों की संख्या भी काफी कम हुई थी, प्रत्येक टीम ने आठ मैच खेले थे।

सबसे ज्यादा रनः लिंडसे रीलर (ऑस्ट्रेलिया) - आठ मैचों में 448 रन

सबसे ज्यादा विकेटः एलिन फ्लूस्टन (ऑस्ट्रेलिया) - आठ मैचों में 16 विकेट

5- 1993, इंग्लैंड

विजेता: इंग्लैंड

पांचवां संस्करण इंग्लैंड में खेला गया था। पैसों की कमी के कारण टूर्नामेंट रद्द होने वाला था। हालांकि फाउंडेशन फॉर स्पोर्ट और द आर्ट्स से 90,000 पाउंड दान करके टूर्नामेंट जारी रखा। इस बार टूर्नामेंट में 8 टीमों ने हिस्सा लिया था। डेनमार्क और वेस्ट इंडीज ने इसी साल महिला विश्वकप में अपनी शुरुआत की थी। भारत ने भी टूर्नामेंट में वापसी की थी।

सबसे ज्यादा रनः जेनेट ब्रिटीन (इंग्लैंड) - 8 मैचों में 410 रन

सबसे ज्यादा विकेटः करेन स्मिथिस (इंग्लैंड) और जूली हैरिस (न्यूजीलैंड) - 8 मैचों में 15 विकेट

6- 1997, भारत

विजेता: ऑस्ट्रेलिया

इस संस्करण में रिकॉर्ड 11 टीमें ने हिस्सा लिया था। पहली बार 50 ओवर में खेला गया था। हाई स्कोर, लो स्कोर, बड़ी भीड़, टूर्नामेंट के इस संस्करण में वह सब कुछ था जो एक क्रिकेट प्रशंसक देखना चाहता है।

सबसे ज्यादा रन: डेबी होक्ले (न्यूजीलैंड) - 7 मैचों में 456 रन

सबसे ज्यादा विकेटः कैटरीना किरन (न्यूजीलैंड) - 7 मैचों में 13 विकेट

7- 2000, न्यूजीलैंड

विजेता: न्यूजीलैंड

सातवें संस्करण का आयोजन न्यूजीलैंड ने किया था। न्यूजीलैंड ने अपने प्रतिद्वंद्वी ऑस्ट्रेलिया को फाइनल में हराकर विश्वकप जीता था।

सबसे ज्यादा रनः करेन रोलटन (ऑस्ट्रेलिया) - 9 मैचों में 393 रन

सबसे ज्यादा विकेटः चार्मिन मैसन (ऑस्ट्रेलिया) - 8 मैचों में 17 विकेट

8- 2005, दक्षिण अफ्रीका

विजेता: ऑस्ट्रेलिया

टूर्नामेंट का प्रारूप पिछले संस्करण की तरह ही था। पहले से ही दिग्गजों की फेवरेट रही ऑस्ट्रेलिया ने एक बार फिर बाजी मारी।

सबसे ज्यादा रनः चार्लोट एडवर्ड्स (इंग्लैंड) - 6 मैचों में 280 रन

सबसे ज्यादा विकेटः नीतू डेविड (भारत) - 8 मैचों में 20 विकेट

9- 2009, ऑस्ट्रेलिया

विजेता: इंग्लैंड

पहली बार महिला विश्वकप का आयोजन आईसीसी ने किया। टीमों को दो समूहों में बांटा किया गया था, ग्रुप की हर एक टीम ने एक दूसरे के खिलाफ मैच खेला था। प्रत्येक ग्रुप की टॉप तीन टीमों के बीच सुपर सिक्स का मुकाबला हुआ था। अंत में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड ने अपने सभी ग्रुप स्टेज के मैच जीतते हुए फाइनल में जगह बनाई थी। हालांकि दोनों ने सुपर सिक्स में अपना एक-एक मैच हारा था।

सबसे ज्यादा रनः सारा टेलर (इंग्लैंड) - 7 मैचों में 324 रन

सबसे ज्यादा विकेटः लौरा मार्श (इंग्लैंड) - 6 मैचों में 16 विकेट

10- 2013, भारत

विजेता: ऑस्ट्रेलिया

टूर्नामेंट का दसवां संस्करण महिलाओं के खेल के लिए एक महान विज्ञापन साबित हुआ। चार टीमों - ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, भारत और न्यूजीलैंड ने पहले ही मुख्य टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई कर लिया था। इसके बाद 2011 में बांग्लादेश में आयोजित महिला विश्व कप क्वालीफायर के जरिए श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज ने क्वालीफाई किया था।

सबसे ज्यादा रनः सूजी बेट्स (न्यूजीलैंड) - 7 मैचों में 407 रन

सबसे ज्यादा विकेट: मेगन शट (ऑस्ट्रेलिया) - 7 मैचों में 15 विकेट

पढ़ेंः- आईसीसी महिला विश्व कप 2017: ये रही सभी 8 टीमों के खिलाड़ियों की लिस्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
icc women world cup 2017: Looking back at all editions of ICC Women's World Cup
Please Wait while comments are loading...