गांगुली की तरह गच्‍चा खा गए कोहली, हार से चुकाना पड़ी कीमत

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

ओवल। ICC चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में टीम इंडिया को पाकिस्तान ने उम्मीद के विपरीत 180 रन से करारी मात देते हुए पहली बार इस खिताब पर कब्जा कर लिया। इस मुकाबले में बुमराह के एक ओवर की गलती भारत को महंगी पड़ी और इसके साथ ही टीम की फील्डिंग को लेकर भी कई सवाल उठे। लेकिन हार के लिए इससे भी बड़ी वजह विराट कोहली का पिच को न पहचानना रहा।

यह ठीक वैसा ही था जैसे 2003 के वर्ल्‍ड कप में गांगुली ने किया था। ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वर्ल्‍ड कप फाइनल मैच में टॉस जीतकर सौरव गांगुली ने ऑस्ट्रेलिया को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया था। कंगारू टीम के तत्‍कालीन कप्तान रिकी पोंटिंग ने खिताबी मुकाबले में 140 रन की यादगार पारी खेल अपनी टीम का स्कोर 359 रन तक पहुंचाया था। इस विशाल स्कोर के सामने भारतीय टीम शुरुआत से ही दबाव में आ गई थी और बुरी हार का सामना करना पड़ा था।

इसे भी पढ़ें- INDvsPAK: जब इस पाकिस्‍तानी खिलाड़ी को समझ नहीं आया दौड़ना किधर है और हो गया आउट

3 रन के स्कोर पर फखर को मिला जीवनदान

3 रन के स्कोर पर फखर को मिला जीवनदान

टॉस जीतकर भारत के कप्तान विराट कोहली ने पहले गेंदबाजी का फैसला लिया था और जसप्रीत बुमराह के दूसरे ही ओवर में भारत को बड़ी सफलता मिली थी, लेकिन जैसा कि पहले भी कई बार हो चुका है कि जसप्रीत बुमराह पैरों की नो बॉल की वजह से मुश्किल का सामना करते हैं, वही इस मैच में भी हुआ। जिस वक्त फखर जमान महज 3 रन के स्कोर पऱ थे उन्हें बुमराह की नो बॉल की वजह से जीवनदान मिला और उन्होंने इस जीवनदान का पूरा फायदा उठाते हुए इसे शतक में तब्दील किया।

 केदार जाधव को भुनाने में चूके विराट

केदार जाधव को भुनाने में चूके विराट

यूं तो टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अपने गेंदबाजों का सही से इस्तेमाल करने के लिए जाने जाते हैं, लेकिन जिस वक्त भारत के स्पिन गेंदबाज अश्विन और जडेजा की धुनाई हो रही थी, केदार जाधव के हाथ में कोहली ने गेंद नहीं थमाई, बावजूद इसके वह पिछले मैचों में लगातार बेहतर गेंदबाजी कर रहे है और विकेट ले रहे है। इस मैच में भी जब जाधव को गेंद थमाई गई तो उन्होंने एक विकेट लिया।

अतिरिक्त रनों की लगाई झड़ी

अतिरिक्त रनों की लगाई झड़ी

भारतीय गेंदबाज अपनी सधी हुई और संतुलित गेंदबाजी के लिए जाने जाते हैं। लेकिन आज टीम के गेंदबाज काफी दिशाहीन दिखे। भारतीय टीम की गेंदबाजी आज काफी दिशाहीन रही टीम ने आज 25 अतिरिक्त रन दिए, जिसमें 13 वाइड, 3 नो बाल, 9 लेगबाई के रन शामिल हैँ। टीम की ओर से सबसे दिशाहीन गेंदबाज बुमराह साबित हुए, उन्होंने कुल 8 अतिरिक्त रन दिए, उन्होंने 5 वाइड और तीन नो बॉल डाली।

मैदान पर टीम इंडिया की बड़ी गलतियां

मैदान पर टीम इंडिया की बड़ी गलतियां

  • 49वे ओवर में बुमरा ने दो नो बॉल डाली, एक बार उन्होंने कमर के उपर डाली जबकि दूसरी बार उन्होंने क्रीज के बाहर जाकर गेंदबाजी की, हालांकि वह खुशकिस्मत रहे कि दोनों ही गेंदों पर बल्लेबाज गेंद को सीमा रेखा के पार नहीं पहुंचा सके।
  • युवराज सिंह से हाथ के नीचे से गेंद सीमा रेखा के पार चली गई, लेकिन वह रोक नहीं सके।
  • दो बार पाकिस्तान के बल्लेबाज रन आउट होने से बचे, दोनों ही बार भारत के गेंदबाज गेंद सीधे विकेट पर नहीं मार सक।
  • 11 ओवर में अजहर अली रन आउट हो सके थे, लेकिन रोहित शर्मा गेंद को सीधे विकेट पर नहीं मार सके।
  • तीसरे ओवर में फखर जमान रन आउट हो सकते थे ,लेकिन केदार जाधव गेंद को सीधे विकेट पर नहीं मार सके।
  • 23 ओवर में भी फखर रन आउट होने से बचे, हालांकि अगली ही गेंद पर रनआउट हो गए थे।
  • भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर एलबीडब्लूय की अपील हुई लेकिन अंपायर ने इसे आउट नहीं दिया और ना ही भारत की टीम ने डीआरएस का इस्तेमाल किया।
  • वाइड गेंदों की टीम इंडिया के गेंदबाजों ने लगाई झड़ी, 13 वाइड गेंदें डाली
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Here are top mistakes of Indian bowlers and fielders against Pakistan. Number of misfielding and bad bowling proved costly to Team India.
Please Wait while comments are loading...