अपने 50वें टेस्ट में भारत की 'रन मशीन' ने रचा इतिहास, लगाया शतक

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत की रन मशीन के नाम से मशहूर चेतेश्वर पुजारा श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो टेस्ट में अपने करियर का 50वां टेस्ट मैच खेलने जा रहे हैं। चेतेश्वर पुजारा को मौजूदा समय का बेस्ट भारतीय टेस्ट बल्लेबाज कहा जाता है। गौरतलब है कि भारत ने शनिवार को गाले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में श्रीलंका को चौथे दिन ही 304 रनों से करारी शिकस्त दी थी। 

India vs Sri Lanka 2nd Test : Cheteshwar Pujara slams 13th hundred | वनइंडिया हिंदी

पुजारा ने अपने 50वें टेस्ट मैच में बल्लेबाजी करते हुए 4000 के क्लब में एंट्री कर ली। श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में पुजारा जब बल्लेबाजी पर आए, तो वह 4000 रन से 34 रन दूर थे, जो उन्होंने 98 बॉल खेलकर यह रन पूरे कर लिए। पुजारा ने 50 टेस्ट मैचों की 84 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की है, जो राहुल द्रविड़ के बराबर है। द वॉल राहुल द्रविड़ ने भी इतनी ही पारियां खेलकर टेस्ट क्रिकेट में अपने 4000 रन पूरे किए थे।

अपने 50वें टेस्ट में भारत की 'रन मशीन' ने रचा इतिहास, लगाया शतक

पुजारा ने न केवल 4000 रनों के क्लब में एंट्री की बल्कि शानदार शतक ठोंका। पुजारा का ये शतक श्रीलंका के खिलाफ लगातार तीसरा शतक है। इसी के साथ पुजारा अपने 50वें टेस्ट मैच में शतक लगाने वाले सातवें भारतीय बल्लेबाज और दुनिया के 36वें बल्लेबाज बन गए हैं।

ये रहा पुजारा के 49 टेस्ट मैचों का लेखा-जोखा-

पुजारा पूर्व भारतीय विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग थोड़ा पीछे हैं। 49 टेस्ट मैच खेल चुके भारतीय बल्लेबाजों में पुजारा चौथे सबसे सफल बल्लेबाज हैं। दरअसल पुजारा 49 टेस्ट मैचों की 83 पारियों में 52.18 के औसत से 3966 रन बनाए। इस बीच पुजारा ने 15 अर्धशतक व 12 शतक लगाए हैं। उनका सर्वोच्च स्कोर 206 रन नाबाद है।

पढ़ेंः- 'बुरे दिनों' में शाहरुख खान ने की थी चेतेश्वर पुजारा की मदद

49 मैच खेल चुके भारतीय खिलाड़ियों में अधिक रन बनाने के मामले में पुजारा से केवल तीन भारतीय दिग्गज आगे हैं। हालांकि ये तीनों दिग्गज क्रिकेट से सन्यास ले चुके हैं। पुजारा से आगे वीरेंद्र सहवाग हैं। सहवाग ने 49 टेस्ट मैचों की 81 पारियों में 51.54 के औसत से 4020 रन बनाए थे।

इस बीच उन्होंने 12 शतक व 11 अर्धशतक भी लगाए। उनका सर्वोच्च स्कोर 309 रन था। नंबर दो पर राहुल द्रविड़ का नाम आता है। द्रविड़ ने 49 टेस्ट मैचों की 86 पारियों में 52.55 के औसत से 4046 रन बनाए थे। इस बीच द्रविड़ ने 9 शतक व 21 अर्धशतक लगाए थे।

नंबर एक पर पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर का नाम आता है। गावस्कर ने 49 टेस्ट मैचों की 91 पारियों में 56.11 के औसत से 4713 रन बनाए थे। इस बीच उन्होंने 19 शतक व 21 अर्धशतक भी लगाए थे। पुजारा को कहा जाता है कि वे पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ के उत्तराधिकारी हैं।

दिग्गजों की कतार में खड़े हैं पुजारा, आंकड़े बताते हैं सफलता की कहानी

क्योंकि पुजारा भी ऐसे बल्लेबाज हैं जिनका विकेट लेने के लिए गेंदबाज तरस जाते हैं। पुजारा ने इसका सबसे ताजा उदाहरण श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्ट में शानदार 153 रनों की पारी खेलकर पेश किया था।

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
cheteshwar pujara is the most successful batsmen for india after 49 tests
Please Wait while comments are loading...