रियो ओलंपिक में भारतीय खिलाड़ियों की नाकामियाबी के लिए भारतीय व्यवस्था जिम्मेदार: अभिनव बिद्रा

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नयी दिल्ली। रियो ओलंपिक में भारत की झोली अब तक खाली है। भारतीय खिलाड़ियों के निराशाजनक प्रदर्शनक की वजह से अब तक एक भी मेडल उनके खाते में नहीं आया है। जिन खिलाड़ियों से देश को उम्मीद थी वो भी नाकामियाब रहे हैं। ऐसे में भारतीय निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने रियो ओलिंपिक खेलों में खिलाड़ियों के नाकामियाबी की वजह भारत की व्यवस्था को ठहराया है।

abhinav bindra

बिंद्रा ने कहा कि हमारे खिलाड़ियों के पास पर्याप्त संसाधन नहीं है। ऐसे में देश में खिलाड़ियों पर पर्याप्त निवेश करने के बाद ही उनसे पदक की उम्मीद की जानी चाहिए। उन्होंने भारतीय व्यवस्था पर निशाना साधते हुए ब्रिटेन की सरकार हर पदक पर 55 लाख पाउंड खर्च करती है।

हार के बाद बोले बिंद्रा..मेरा शूटिंग करियर यहींं खत्म होता है..

उन्होंने कहा कि जबतक देश की अर्थव्यवस्था सही नहीं होती, तब तक देशवासियों को पद की उम्मीद नहीं करनी चाहिए। ब्रिटेन के समाचार-पत्र 'द गार्डियन' में प्रकाशित लेख में दिए बिद्रा ने अपने ट्विट में इस लेख को प्रदर्शित करते हुए ब्रिटेन में खिलाड़ियों पर होने वाले खर्च की ओर ध्यान आकर्षित किया है। लेख के मुताबिक ने ब्रिटेन में हर पदक के लिए कितनी भारी मात्रा में खर्च किया है। आपको बता दें कि 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा के फाइनल में चौथे स्थान पर रहे थे और कांस्य पदक से चूक गए थे।

 
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Beijing Olympics gold medallist Abhinav Bindra on Tuesday blamed the system for the Indian contingent's failure to open its account in the medals tally at the Rio Olympics.
Please Wait while comments are loading...