• search
सीतापुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Sitapur में आसमान से अचानक बरसने लगे 500-500 के नोट, देखकर लोगों में मच गई लूटने की होड़

|

Sitapur News: सीतापुर। आसमान से अचानकर सीतापुर जिले में 500-500 के नोटों की बारिश होने लगी। नोटों की बारिश होती देख लोग में भी लूटने की होड़ मच गई। लोगों के हाथों में कुछ सही तो कुछ फटे हुए नोट आ रहे थे। वहीं, आसमान से नोटों की बारिश होता देख लोग भी काफी हैरान रहे गए। जी हां यह कोई मजाक नहीं है, बल्कि हकीकत है। दरअसल, सीतापुर जिले के विकास भवन स्थित रजिस्ट्री कार्यालय में जमीन की रजिस्ट्री करवाने आये एक बुजुर्ग का रुपयों से भरा बैग लेकर बंदर (Monkey) भाग गया और वह पेड़ पर चढ़ गया। जिसके बाद बंदर बैग से नोट निकाल कर फेकने लगा।

    Sitapur में आसमान से अचानक बरसने लगे 500-500 के नोट, देखकर लोगों में मच गई लूटने की होड़
    क्या है पूरा मामला

    क्या है पूरा मामला

    यह पूरा मामला सीतापुर जिले के विकास भवन स्थित रजिस्ट्री कार्यालय का है। जानकारी के मुताबिक, भगवानदीन मंगलवार (22 दिसंबर) को विकास भवन स्थित रजिस्ट्री कार्यालय में आए थे, उन्हें अपनी एक जमीन की बिक्री करने के एवज में 4 लाख रुपए मिले थे। बता दें कि जमीन की बिक्री के बाद मिले रुपयों को लेकर भगवानदीन एक पेड़ के नीचे बैठा हुआ था, तभी वहां एक बंदरो का झुंड पहुंच गया। भगवानदीन कुछ समझ पाता, इससे पहले एक बंदर ने बैग में खाना समझ कर उसे छीन लिया और उसे लेकर पेड़ पर चढ़ गया। इसी बीच बंदर ने भगवानदीन के बैग को किसी तरह से खोल लिया। हालांकि, बंदर के हाथ से रुपयों से भरा बैग नीचे गिर गया, लेकिन एक 500 की गड्डी उसके हाथ में ही रह गई।

    एक-एक कर नोट फेकता रहा बंदर

    एक-एक कर नोट फेकता रहा बंदर

    बंदर हाथ में लिए नोटों की गड्डी से एक-एक कर नोट नीचे फेंकता रहा। पेड़ से अचानक पांच-पांच सौ के नोटों की बारिश होते देख वहां अफरा-तफरी का माहौल बन गया। तभी कुछ लोग शोर मचाते हुए मौके पर पहुंचे। तब जाकर लोगों को माजरा समझ मे आया। इस दौरान लोग बंदर से रुपयों से भरा बैग लेने का काफी प्रयास करते रहे। हालांकि, बंदर ने करीब 10 से 12 हजार रुपए फाड़ दिए। बता दें कि बैग में करीब चार लाख रुपयों की नगदी रखी थी। लोगों के काफी प्रयासों के बाद बंदर ने रुपयों से भरा बैग नीचे फेक दिया। जिसके बाद लोगों ने खैराबाद थाना क्षेत्र के कासिमपुर के रहने वाले भगवानदीन को रुपयो से भरा बैग लौटा दिया।

    बेटे के इलाज के लिए बेचा था खेत

    बेटे के इलाज के लिए बेचा था खेत

    भगवानदीन ने बताया कि उसने अपने बेटे के इलाज के लिए गांव के ही एक व्यक्ति को जमीन बेची थी। इसी जमीन के बदले में धनराशि मिली थी। इसे झोले में रखने की कोशिश कर रहा था तभी बंदर आ गया। उसने दो गड्डियां छीन लीं। लोगों के प्रयास से नोट तो मिल गए लेकिन, 13 रुपए के नोट किसी काम के नहीं रहे।

    आगरा में भी सामने आया था ऐसा ही एक वाक्या

    आगरा में भी सामने आया था ऐसा ही एक वाक्या

    आपको बता दें कि ऐसी ही वाक्या 15 दिसंबर को आगरा के बाह तहसील में भी सामने आया था। यहां भी एक बंदर ने कार से लाखों रुपयों से भरे बैग से नोटों की गड्डी लेकर पेड़ पर चढ़ गया था। उसने 50 हजार रुपए लुटा दिए थे। हालांकि बाद में पुलिस ने मामला संभाल लिया था और जिस शख्स के पैसे थे उसे वापस करवा दिए थे।

    ये भी पढ़ें:- ...जब आगरा में अचानक आसमान से बरसने लगे 500-500 के नोट, लूटने के लिए लोगों में मच गई होड़

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    money thrown by Monkey of five hundred rupee from bag of farmer see video
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X