• search
शामली न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

किसान महापंचायत: शामली में बोले जयंत चौधरी- भाजपा का 'राजनीतिक ताबूत' साबित होंगी सड़कों पर बिछाई गई कीलें

|

Shamli Kisan Mahapanchayat: शामली। उत्‍तर प्रदेश के शामली में राष्‍ट्रीय लोकदल (रालोद) के आह्वान पर शुक्रवार प्रशासन के इनकार के बावजूद किसान महापंचायत हुई। बड़ी संख्या में किसान महापंचायत में शामिल हुए। महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष नरेश टिकैत के छोटे भाई नरेंद्र भी पहुंचे। हालांकि, राकेश टिकैत ने खुद को इस महापंचायत से दूर रखा। कृषि कानूनों के विरोध भैंसवाल गांव में स्वामी कल्याण देव कन्या गुरुकुल में आयोजित महापंचायत में रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने 26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर भाजपा को जिम्‍मेदार ठहराया। जयंत चौधरी ने इसे भाजपा की साजिश बताते हुए कहा कि उपद्रवियों को दिल्ली पुलिस मूक दर्शक बनकर देखती रही। उन्होंने कहा कि जो आज किसानों के साथ नहीं, उन्हें आगामी चुनाव में वोट नहीं देना है। जयंत चौधरी ने कहा कि सड़कों पर बिछायी गयी कीलें भाजपा के 'राजनीतिक ताबूत' की कीलें साबित होंगी।

Jayant Chaudhary said Nails On Roads Will Be Political Coffin of bjp in shamli mahapanchayat

शामली प्रशासन ने अनुमति देने से किया था इनकार

कृषि कानून का विरोध कर रहे राष्ट्रीय लोकदल यूपी में 5 फरवरी से 18 फरवरी तक कई पंचायतों का आयोजन करेगा। शुक्रवार को शामली के भैंसवाल गांव में स्वामी कल्याण देव कन्या गुरुकुल में महापंचायत आयोजित की गई। हालांकि, एक दिन पहले ही गुरुवार को शामली प्रशासन ने किसानों को महापंचायत करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था। इसके बावजूद महापंचायत के लिए बड़ी संख्या में किसान यहां एकत्र हुए।

जयंत चौधरी ने की किसान नेताओं को वोट देने की अपील

क‍िसान महापंचायत को संबोधि‍त करते हुए रालोद उपाध्‍यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि सरकार कृषि कानूनों पर अडिग है, जबकि जब‍ सभी लोग इस कानून का विरोध कर रहे हैं तो सरकार को इसको वापस ले लेना चाहिए। जयंत ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि विधानसभा में किसानों के प्रतिनिधि कम हो गए है, अब फिर से विधानसभा में प्रतिनिधियों को भेजना होगा। इसके लिए किसान नेताओं को जिताएं। एसडीएम शामली संदीप कुमार औरव और सीओ थानाभवन अमित सक्सेना ने आयोजन स्थल का मुआयना किया। एसपी सुकीर्ति माधव ने बताया कि किसान महापंचायत को लेकर सुरक्षा और कानून-व्यवस्था के मद्देनजर पुलिस बल तैनात किया गया है।

शामली में होने वाली किसान महापंचायत को प्रशासन ने नहीं दी मंजूरी, आयोजकों ने कहा- बैठक तो होगी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jayant Chaudhary said Nails On Roads Will Be Political Coffin of bjp in shamli mahapanchayat
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X