• search
रामपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

आजम खान की फिर बढ़ी मुश्किलें, दर्ज हुआ शत्रु संपत्ति कब्जाने का एक और मुकदमा

|

रामपुर। समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से सांसद आजम खान की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ने वाली हैं। दरअसल, आजम खान के ऊपर शत्रु संपत्ति कब्जाने का एक और मुकदमा दर्ज हुआ है। राजस्व निरीक्षक मनोज कुमार की तहरीर पर अजीम नगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। सांसद आजम खान पर उनकी जौहर यूनिवर्सिटी में शत्रु संपत्ति पर चारदिवारी कर कब्जा करने का आरोप है। आईपीसी की धारा 447 और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। बता दें कि फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट मामले में आजम खान अपनी पत्नी तंजीम फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम के साथ अभी जेल में हैं।

Azam Khan registered another case to capture enemy property

वहीं, यूपी सरकार की तैयारी आजम खान के ड्रीम प्रॉजेक्ट जौहर यूनिवर्सिटी को अपने कब्जे में लेने की है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि ट्रस्ट को हर साल एक अप्रैल को डीएम को प्रगति रिपोर्ट देनी होती है लेकिन, जौहर ट्रस्ट ने कभी कोई रिपोर्ट नहीं दी। इसकी जांच उपजिलाधिकारी सदर को सौंपी है। हम चाहते हैं कि यूनिवर्सिटी चलती रहे। हमने सरकार को भी रिपोर्ट दी है कि इसे टेकओवर कर लिया जाए और उसे मौजूदा स्वरूप में चलने दिया जाए। रिपोर्ट में दलील दी गई है कि प्रदेश सरकार ने पिछले साल ही कानून बनाया है कि प्राइवेट यूनिवर्सिटी में अगर वित्तीय और प्रशासनिक अनियमितता पाई जाती है तो वहां प्रशासक नियुक्त किया जा सकता है।

एक के बाद एक अनियमितताएं मिलीं

जिला प्रशासन का यह भी तर्क भी है कि यूनिवर्सिटी में काफी जमीन सरकारी हैं। साथ ही जमीन लेने के दौरान स्टांप लगाने से अनियमितता हुई। अल्पसंख्यक यूनिवर्सिटी में गरीबों को मुफ्त में शिक्षा नहीं दी जा रही है। लाइब्रेरी से चोरी की किताबें बरामद की गई। किसानों की जमीन कब्जे की शिकायतें सही पाई गई। काफी जमीन वक्फ के होने के सबूत हैं। चकरोड और कोसी नदी क्षेत्र की 140 बीघा जमीन मिलाने के साथ दलितों की 101 बीघा जमीन नियम के खिलाफ लेकर यूनिवर्सिटी में मिलाने का आरोप है।

आजम का ड्रीम प्रोजैक्ट है यूनिवर्सिटी

दरअसल, अखिलेश सरकार के दौरान सपा के कद्दावर नेता आजम खान ने रामपुर में जौहर यूनिवर्सिटी की स्थापना की थी। यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट था। यूनिवर्सिटी का संचालन एक ट्रस्ट करता है, जिसके संस्थापक और कुलाधिपति आजम खान ही हैं। यही नहीं आजम खान जौहर ट्रस्ट के भी अध्यक्ष हैं। उनके बेटे अब्दुल्ला आजम सीईओ हैं और ट्रस्ट के सदस्य हैं। वहीं आजम की पत्नी तंजीन फातिमा भी ट्रस्ट की सदस्य हैं। इस समय आजम खान के साथ अब्दुल्ला आजम, तंजीन फातिमा जेल में बंद हैं।

ये भी पढ़ें:-आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी को टेकओवर कर सकती है योगी सरकार, जानिए मामला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Azam Khan registered another case to capture enemy property
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X