• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Rajasthan Weather Alert: राजस्थान में Dust Storm की आशंका, पाली में पारा पहुंचा 44

|

जयपुर, 10 मई। देश के कई राज्यों में इस वक्त आंधी-बारिश का दौर चल रहा है तो वहीं दूसरी ओर राजस्थान में गर्मी ने कहर बरपाया हुआ है, मौसम की जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक आज और कल राज्य के कई जिलों में में धूल भरी आंधी चलने की आशंका है तो वहीं गंगानगर, सूरतगढ़, हनुमानगढ़, और अनूपगढ़ में हल्की बारिश के भी आसार दिख रहे हैं। वैसे आपको बता दें कि राजस्थान में इस वक्त गर्मी अपने पूरे शबाब पर है।

    Weather Update: दिल्ली-NCR में बारिश की संभावना, आसमान में छाए बादल| वनइंडिया हिंदी
    पाली में पारा 44 डिग्री पहुंचा

    पाली में पारा 44 डिग्री पहुंचा

    रविवार को बाड़मेर, जैसलमेर, नागौर, जोधपुर और पाली में तापमान 42 डिग्री दर्ज किया गया तो वहीं पाली में पारा 44 डिग्री पहुंच गया। हालांकि विभाग ने कहा है कि आज और कल यहां धूल भरी आंधी आ सकती है, इस वजह से मौसम विभाग ने यहां अलर्ट जारी किया हुआ है।

    यह पढ़ें:Good News: 1 जून को मानसून दे सकता है केरल में दस्तक, IMD ने दिया बड़ा अपडेटयह पढ़ें:Good News: 1 जून को मानसून दे सकता है केरल में दस्तक, IMD ने दिया बड़ा अपडेट

    पश्चिमी विक्षोभ के देश में एक्टिव

    पश्चिमी विक्षोभ के देश में एक्टिव

    वैसे मौसम विभाग का कहना है पश्चिमी विक्षोभ के देश में एक्टिव होने की वजह से राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर, जोधपुर, जालौर और पाली में हल्की बारिश की उम्मीद है, हालांकि इससे गर्मी से उबल रहे राज्य के ताप में ज्यादा फर्क नहीं पड़ने वाला है। हालांकि मई के अंतिम सप्ताह में यहां प्री-मानसून गतिविधि देखने को मिलेगी। जिसके लिए मौसम ने सभी को सचेत रहने के लिए कहा है। हालांकि 12 मई से मौसम में परिवर्तन होगा और ताप में मामूली राहत देखने को मिलेगी।

    क्या होता है डस्ट स्टॉर्म ?

    क्या होता है डस्ट स्टॉर्म ?

    अक्सर जब अचानक से धूल भरी आंधी आती है तो उसे डस्ट स्टॉर्म या रेतों का तूफान कहा जाता है। ये एक मौसमी आपदा है, जिसमें मिट्टी या रेत के कण तूफान के रूप में सामने आते हैं। दरअसल जब मौसम बहुत शुष्क होता है तब हवाओं का एक झुंड, जिसे कि गस्ट फ्रंट कहा जाता है, वो रेत या मिट्टी को बहुत तेजी से उड़ाती है जिससे रेत या मिट्टी एक स्थान से दूसरे स्थान पर चले जाते हैं। इस दौरान हवाएं बहुत ज्यादा तेज चलती हैं, जिसका सामना करना आसान नहीं होता और इसी वजह से वो ये स्टॉर्म या तूफान कहलाता है।

     'हीटवेव' किसे कहते हैं

    'हीटवेव' किसे कहते हैं

    आपको बता दें कि आमतौर पर भारत में मार्च और जून के बीच 'हीटवेव' होती है। जब किसी स्थान के लिए तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार जाता है और दिन का तापमान सामान्य से 4 से 5 डिग्री अधिक होता है, तो मौसम विभाग इसे 'हीटवेव' घोषित कर देता है। जब अधिकतम तापमान 45 डिग्री को पार कर जाता है या सामान्य से 6 डिग्री से अधिक होता है तो इसे 'गंभीर हीटवेव' कहते हैं।

    English summary
    Dust Storm Expected in Rajasthan, Pali nearly touching 44 degrees, see Weather Updates.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X