• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

4 पतियों के होते हुए 10 हजार में 2 रात के लिए बनी किसी और की दुल्हन, तीसरी रात हो गई विधवा

|

बांसवाड़ा/रतलाम। राजस्थान के बांसवाड़ा के महेन्द्र कलाल की मौत के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। उसकी मौत की वजह महेंद्र की नई नवेली दुल्हन मीनाक्षी थी, जिसे अब बांसवाड़ा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पकड़ में आने के बाद पूछताछ में मिनाक्षी ने जो खुलासे किए उन्हें सुनकर पुलिस चौंक गई है। महेंद्र उसका पांचवां पति था, जिसके साथ यह महज दो दिन रही। तीसरे दिन तो पांचवें पति की विधवा बन गई।

    4 पतियों के होते हुए 10 हजार में 2 रात के लिए बनी किसी और की दुल्हन, तीसरी रात हो गई विधवा
    गलकिया का रहने वाला था महेंद्र

    गलकिया का रहने वाला था महेंद्र

    मध्य प्रदेश के रतलाम के एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि बायपॉस रोड मॉडल स्कूल के पास सैलाना पर 29 एक व्यक्ति का शव लटका मिला था। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को फांसी के फंदे से नीचे उतरवाया और पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया। मृतक की शिनाख्त राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के सदर थाना इलाके के गांव गलकिया निवासी मोतीलाल कलाल के 29 वर्षीय बेटे महेंद्र के रूप में हुई।

     26 जुलाई को थी कोर्ट मैरिज

    26 जुलाई को थी कोर्ट मैरिज

    पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद महेंद्र का शव परिजनों को सौंप दिया। महेंद्र की मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया। परिजनों से पूछताछ में पता चला कि 26 जुलाई को ही उसकी शादी मध्य प्रदेश की मिनाक्षी नाम की युवती से हुई थी। मिनाक्षी से उसकी मुलाकात मैरिज ब्यूरो के जरिए हुई थी। दोनों परिवारों की रजामंदी से दोनों ने कोर्ट मैरिज की थी। दो दिन बाद मिनाक्षी को लेने के लिए आए।

     रास्ते में गाड़ी से नीचे उतारा

    रास्ते में गाड़ी से नीचे उतारा

    वह उनके साथ गाड़ी में बैठकर चली। शक होने पर महेंद्र भी उनके साथ गाड़ी में बैठकर चल गया। रास्ते में महेंद्र को गड़बड़ी की आशंका हुई तो उसने विरोध जताया। तब आरोपियों ने बांसवाड़ा टोल नाका पार करने के बाद उसे गाड़ी से नीचे उतार दिया। फिर महेंद्र का शव रास्ते में एक पेड़ से लटका मिला।

     लुटेरी दुल्हन है मिनाक्षी

    लुटेरी दुल्हन है मिनाक्षी

    दरअसल, पूरा मामला शादी के नाम पर धोखाधड़ी से जुड़ा हुआ है। मिनाक्षी लुटेरी दुल्हन थी। वह राजस्थान में तीन, गुजरात व नीमच मध्य प्रदेश में एक-एक शादियां पहले भी कर चुकी थी। अब वह अपने गिरोह के साथ मिलकर शादी के नाम धोखा देने का काम करती थी। प्रत्येक शादी के लिए उसके गिरोह के लोग मोटी रकम वसूलते थे, जिसमें मिनाक्षी को सिर्फ दस हजार रुपए दिए जाते थे। मतलब ​महज दस हजार रुपए के लिए उसने महेंद्र के पांचवीं शादी रचाई थी और दो दिन बाद महेंद्र की मौत के कारण विधवा बन गई।

    एमपी के धार की रहने वाली है मिनाक्षी

    एमपी के धार की रहने वाली है मिनाक्षी

    लुटेरी दुल्हन मिनाक्षी मूलरूप से मध्य प्रदेश के धार जिले की रहने वाली थी। इसके पिता बिजल कंपनी में सहायक लाइनमैन के पद से इसी साल रिटायर हुए हैं। आठ साल पहले मिनाक्षी की शादी हुई थी। एक बेटा होने के बाद वह पति से अलग रहने लगी थी। फिर शादी के नाम ठगने वाले गिरोह के सम्पर्क में आकर पांच शादियां की। फिलहाल पुलिस ने उसे इंदौर के पास बरोली से पकड़ा है।

    विधवा बनकर 6 बार कर चुकी है शादी, बेहद खतरनाक है यह लुटेरी दुल्हन

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Looteri Dulhan Arrested by Ratlam Police After Banswara's Mahendra Kalal Suicide
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X